नेपाली कांग्रेस की सरकार को समर्थन देने के लिए प्रचंड तैयार, नेपाल में नई सरकार के गठन की कवायद शुरू

नेपाल में नई सरकार के गठन के लिए कवायद शुरू।

नेपाल में मुख्य विपक्षी दल नेपाली कांग्रेस ने प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली की सरकार गिराने और वैकल्पिक सरकार बनाने की कोशिश शुरू कर दी है। इस सिलसिले में नेपाली कांग्रेस ने नेपाल की कम्युनिस्ट पार्टी (माओवादी केंद्र) और जनता समाजवादी पार्टी के नेताओं से बात की है।

Bhupendra SinghSat, 10 Apr 2021 12:43 AM (IST)

काठमांडू, प्रेट्र। नेपाल में मुख्य विपक्षी दल नेपाली कांग्रेस ने प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली की सरकार गिराने और वैकल्पिक सरकार बनाने की कोशिश शुरू कर दी है। इस सिलसिले में नेपाली कांग्रेस ने नेपाल की कम्युनिस्ट पार्टी (माओवादी केंद्र) और जनता समाजवादी पार्टी के नेताओं से बात की है।

तीनों पार्टी के नेताओं की बैठक नेपाली कांग्रेस के अध्यक्ष देउबा के आवास पर हुई

तीनों पार्टी के नेताओं की बैठक नेपाली कांग्रेस के अध्यक्ष शेर बहादुर देउबा के आवास पर हुई। बैठक सकारात्मक फैसले के साथ पूरी हुई। इस फैसले में तीनों ही दलों ने साथ मिलकर कार्य करने का फैसला किया। यह जानकारी मीडिया रिपोर्ट में आई है।

नेपाल में नई सरकार के गठन के लिए कवायद शुरू

यह बैठक पिछले हफ्ते हुई नेपाली कांग्रेस की सेंट्रल वर्किंग कमेटी की बैठक में वैकल्पिक सरकार बनाने के फैसले को अमली जामा पहनाने के सिलसिले में हुई।

यदि ओली इस्तीफा नहीं देते तो नेपाली कांग्रेस संसद में लाएगी अविश्वास प्रस्ताव

नेपाली कांग्रेस की बैठक में अल्पमत में आई ओली सरकार से इस्तीफा मांगने का फैसला किया गया था। अगर ओली खुद इस्तीफा नहीं देते हैं तो नेपाली कांग्रेस संसद में उनके खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाएगी। नेपाली कांग्रेस के वरिष्ठ नेता प्रकाश मानसिंह ने कहा कि देश की लोकतांत्रिक परंपराओं को कायम रखने के लिए हम वैकल्पिक सरकार बनाएंगे।

वैकल्पिक सरकार में नेतृत्व नेपाली कांग्रेस के पास होगा, समर्थन देने के लिए प्रचंड तैयार

ओली सरकार से अलग हुए सीपीएन (एमसी) के प्रवक्ता नारायण काजी श्रेष्ठ ने कहा है कि पार्टी प्रमुख पुष्प कमल दहल प्रचंड और जनता समाजवादी पार्टी सरकार बनाने के लिए तैयार हैं। वैकल्पिक सरकार का नेतृत्व नेपाली कांग्रेस के पास होगा। नई सरकार बनाने में हम नेपाली कांग्रेस का समर्थन करेंगे। दोनों दल सरकार बनाने की बाबत अब जनता समाजवादी पार्टी के फैसले की औपचारिक घोषणा का इंतजार कर रहे हैं। 

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.