North Korea vs US: उत्तर कोरिया ने अमेरिका को किया खबरदार, कहा- वार्ता के सपने नहीं देखे बाइडन प्रशासन

उत्‍तर कोर‍िया के एक शीर्ष अधिकारी ने अमेरिका को खबरदार किया है। उन्‍होंने कहा उत्‍तर कोरिया के संकेतों की गलत व्‍याख्‍या नहीं करे। उत्‍तर कोरिया के संकेतों को अमेरिका गलत व्‍याख्‍या कर रहा है अगर वह वार्ता का सपना देख रहा है तो उसे निराशा ही हाथ लगेगी।

Ramesh MishraTue, 22 Jun 2021 04:39 PM (IST)
उत्‍तर कोरिया ने अमेरिका को किया खबरदार, कहा- वार्ता के सपने नहीं देखे बाइडन प्रशासन। फाइल फोटो।

सियोल, एजेंसी। उत्‍तर कोर‍िया के एक शीर्ष अधिकारी ने अमेरिका को खबरदार किया है। उन्‍होंने कहा उत्‍तर कोरिया के संकेतों की गलत व्‍याख्‍या नहीं करे। उन्‍होंने जोर देकर कहा कि उत्‍तर कोरिया के संकेतों को अमेरिका गलत व्‍याख्‍या कर रहा है। उन्‍होंने अमेरिका को चेतावनी देते हुए कहा कि अगर वह वार्ता का सपना देख रहा है तो उसे निराशा ही हाथ लगेगी। उत्‍तर कोरिया की ओर से यह टिप्‍पणी ऐसे वक्‍त आई है, जब एक अमेरिकी दूत ने दक्षिण कोरिया की राजधानी सियोल में किम जोंग उन के साथ वार्ता पर अपनी सकारात्‍मक प्रतिक्रिया दी है।

उ. कोरिया के प्रमुख की बहन यो जोंग अमेरिका पर भड़की

उत्तर कोरिया के प्रमुख किम जोंग उन की बहन ने अमेरिका के साथ वार्ता की संभावनाओं को सिरे से नकार दिया है। किम जोंग की बहन किम यो जोंग सत्ता में शक्तिशाली भूमिका में हैं। किम यो जोंग ने अमेरिका के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार जैक सुलीवान के बयान पर भड़कते हुए कहा है कि वह किम जोंग के बयान के अपने तरीके से अर्थ निकालकर वार्ता के सपने देख रहे हैं। सुलीवान के बयान का मजाक उड़ाते हुए उन्होंने कोरियाई मुहावरे का भी प्रयोग किया। किम यो ने कहा कि अमेरिका को उ. कोरिया प्रमुख के बयान का अपने हिसाब से मतलब निकालने पर निराशा ही हाथ लगेगी। किम यो उत्तर कोरिया की वर्कर्स पार्टी में पब्लिसिटी ए्ंड इन्फॉर्मेशन डिपार्टमेंट में डिप्टी डायरेक्टर हैं। बता दें कि अमेरिका के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार जैक सुलीवान ने उत्तर कोरिया के प्रमुख किम जोंग उन के बयान को रोचक संकेत बताया था। किम ने कहा था कि वे टकराव और वार्ता दोनों के लिए ही तैयार हैं। अमेरिका के राष्ट्रपति बनने के बाद जो बाइडन ने उत्तर कोरिया से वार्ता के लिए सुंग किम को विशेष दूत नियुक्त किया हुआ है। वह पांच दिन की दक्षिण कोरिया की यात्रा पर हैं।

क्‍या है पूरा मामला

अमेरिकी राष्‍ट्रीय सुरक्षा सलाहकार जैक सुलिवान ने अपनी दक्षिण कोर‍िया की यात्रा के दौरान कहा है कि किम जोंग उन की तरफ से आए ताजा बयान में अमेरिका से बातचीत को लेकर कुछ अच्‍छे सिग्‍नल आते दिखाई दिए हैं। उन्‍होंने कहा कि उम्‍मीद है कि उत्‍तर कोरिया से कोई पॉजिटिव रिस्‍पॉन्‍स मिलेगा। उधर, उत्‍तर कोरिया के शीर्ष अधिकारी ने कहा कि अमेरिकी सलाहकार को जो संकेत उत्‍तर कोरिया की तरफ से मिले हैं, उससे उन्‍हें निराशा ही मिलने वाली है। शीर्ष अधिकारी ने कहा कि जैक ने किम जोंग के बयान का वह अर्थ निकाला है, जो अमेरिका को सही लगता है।। उन्‍होंने अपने बयान में ये भी साफ कर दिया है कि अमेरिका इस बारे में जो कुछ भी सोच रहा है, वह गलत है। उन्‍होंने कहा कि अमेरिका गलत दिशा में इस बयान का अर्थ निकाल रहा है। इससे केवल अमेरिका को निराशा ही हाथ लगेगी।

 

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.