नेपाल तक पहुंचा ओमिक्रान, कोरोना के नए वैरिएंट के दो मामलों की हुई पुष्टि

नेपाल में भी कोरोना का ओमिक्रान वैरिएंट पहुंच चुका है। यहां पर कोरोना के इस वैरिएंट के दो मामले दर्ज हुए हैं। फिलहाल इससे ज्यादा इस संबंध में कोई जानकारी सामने नहीं आई है। बता दें कि दक्षिण कोरिया से फैले इस वायरस से भारत भी अछूता नही हैं।

Pooja SinghPublish:Mon, 06 Dec 2021 03:27 PM (IST) Updated:Mon, 06 Dec 2021 03:27 PM (IST)
नेपाल तक पहुंचा ओमिक्रान, कोरोना के नए वैरिएंट के दो मामलों की हुई पुष्टि
नेपाल तक पहुंचा ओमिक्रान, कोरोना के नए वैरिएंट के दो मामलों की हुई पुष्टि

काठमांडु, एएनआइ। नेपाल में भी कोरोना का ओमिक्रान वैरिएंट पहुंच चुका है। यहां पर कोरोना के इस वैरिएंट के दो मामले दर्ज हुए हैं। फिलहाल इससे ज्यादा इस संबंध में कोई जानकारी सामने नहीं आई है। बता दें कि दक्षिण कोरिया से फैले इस वायरस से भारत भी अछूता नही हैं। भारत सहित 30 से ज्यादा देश इस नए वैरिएंट कि गिरफ्त में आ चुके हैं।

दुनिया में ओमिक्रोन वैरिएंट को लेकर तरह-तरह की बातें सामने आ रही हैं। इन बातों के बीच विशेषज्ञों की सलाह को मानते हुए एक दूसरे से दूरी बनाए रखना मास्‍क लगाना और भीड़-भाड़ वाली जगहों पर जाने से बचना जरूरी है।एक तरफ जहां देश और दुनिया में कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रोन को लेकर खतरा बढ़ता जा रहा है वहीं विशेषज्ञों का मानना है कि नए वर्ष में ये ओमिक्रोन वैरिएंट नई मुसीबत बन सकता है।

बता दें कि भारत में पहले से ही ओमिक्रोन वैरिएंट के करीब 17-20 मामले सामने आ चुके हैं। राजधानी दिल्‍ली भी अब इससे अछूती नहीं रही है। यही वजह है कि भारत सरकार इसको लेकर काफी गंभीर है और सभी तरह के एहतियाती कदम उठा रही है।

बता दें कि ओमिक्रोन की सबसे पहले पहचान दक्षिण अफ्रीका में हुई थी, लेकिन अब कोरोना वायरस का ये खतरनाक वैरिएंट भारत समेत यूरोप और एशिया में अपना पैर पसार चुका है। इसके बाद इस वैरिएंट से पूरी दुनिया में खलबली मची हुई है। यह नया वैरिएंट तेजी से फैलने वाला बताया जा रहा है। ये उन लोगों को भी संक्रमित कर सकता है जो पहले से ही संक्रमित हो चुके हैं। यह भी कहा जा रहा है कि नए वैरिएंट के लिए एक नई वैक्‍सीनी की तैयारी चल रही है। हालांकि, राहत की बात यह है कि कई शोध में ऐसा दावा किया गया है कि यह वायरस कुछ मुख्य शहरों में हल्के लक्षणों के साथ ही पहुंचेगा।