दो अलग वैक्सीन की खुराकों का मिश्रण है कारगर, एस्ट्राजेनेका व स्पुतनिक V पर हुआ ट्रायल - RDIF

2019 के अंत में चीन के वुहान से निकले इस घातक कोरोना वायरस से बचाव के लिए दुनिया भर में वैक्सीनेशन जारी है और अब तक 3993341219 खुराकें दी जा चुकी हैं। अब दो अलग-अलग वैक्सीन की खुराकों को एक साथ मिलाकर ट्रायल किया गया जिसके नतीजे सकारात्मक आए हैं।

Monika MinalFri, 30 Jul 2021 02:41 PM (IST)
अब दो अलग-अलग वैक्सीन की खुराकों को एक साथ मिलाकर ट्रायल किया गया जिसके नतीजे सकारात्मक आए हैं।

मास्को, रॉयटर्स। कोरोना संक्रमण की महामारी से बचाव में अब तक अधिकतर मान्यता प्राप्त वैक्सीन की दो खुराक पर्याप्त बताई गई है। अब दो अलग-अलग वैक्सीन की खुराकों को एक साथ मिलाकर ट्रायल किया गया जिसके नतीजे सकारात्मक आए हैं। दरअसल रूस निर्मित स्पुतनिक वी वैक्सीन की पहली खुराक को एस्ट्राजेनेका वैक्सीन की खुराक के साथ मिलाकर दिया गया। इसके बाद किसी तरह का गंभीर साइड इफेक्ट भी सामने नहीं आया है। शुक्रवार को यह जानकारी रशियन डायरेक्ट इंवेंस्टमेंड फंड (RDIF) की ओर से दी गई। बता दें कि यह ट्रायल इस साल फरवरी में अजरबेजान में शुरू किया गया था। 

वैक्सीनेशन के कॉम्बिनेशन के लिए किए गए इस रिसर्च मं 50 लोगों को शामिल किया गया था। यह जानकारी स्पुतनिक वी की मार्केटिंग करने वाले RDIF ने दी है। एस्ट्राजेनेका ने ऑक्सफोर्ड के साथ मिलकर वैक्सीन को विकसित किया है जबकि मॉस्को के गामालेया सेंटर में स्पुतनिक वी को विकसित किया गया है। दोनों ही कोरोना वैक्सीन में एक तरह की तकनीक का उपयोग हुआ है।

इसी माह एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में, RDIF के सीईओ किरिल दमित्रीव (Kirill Dmitriev) ने बताया कि हमारे वैज्ञानिकों द्वारा ट्रायल किया जा रहा है और ट्रायल के नतीजे इस माह के अंत तक आ जाएंगे जो कारगर होंगे। दिमित्रीव ने उम्मीद जताई थी कि जुलाई के अंत तक स्पुतनिक वी और एस्ट्राजेनेका मिक्स एंड मैच के ट्रायल को खत्म कर नतीजे जारी कर देंगे और ऐसा ही हुआ भी। 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.