Mehul Choksi Case: एंटीगुआ में विपक्षी पार्टी के नेता बोले, चोकसी का अपहरण अंतरराष्ट्रीय अपराध

मंगलवार को एक वर्चुअल बैठक को संबोधित करते हुए लोवेल ने यह बात कही। एंटीगुआ न्यूजरूम की खबर के मुताबिक यूपीपी चोकसी द्वारा बताए गए घटनाक्रम की तरफदारी कर रही है कि उसे एंटीगुआ एवं बरबुडा से अपहृत किया गया था।

Dhyanendra Singh ChauhanThu, 17 Jun 2021 06:40 PM (IST)
भगोड़े हीरा कारोबारी मेहुल चोकसी की फाइल फोटो

सेंट जोंस (एंटीगुआ), एएनआइ। एंटीगुआ की संसद में विपक्षी पार्टियों में से एक यूनाइटेड प्रोग्रेसिव पार्टी (UPP) के नेता हेरोल्ड लोवेल ने कहा है कि मेहुल चोकसी का अपहरण अंतरराष्ट्रीय अपराध है जिसकी वजह से एंटीगुआ एवं बरबुडा को शर्मिदगी उठानी पड़ी है।

मंगलवार को एक वर्चुअल बैठक को संबोधित करते हुए लोवेल ने यह बात कही। एंटीगुआ न्यूजरूम की खबर के मुताबिक, यूपीपी चोकसी द्वारा बताए गए घटनाक्रम की तरफदारी कर रही है कि उसे एंटीगुआ एवं बरबुडा से अपहृत किया गया था।

लोवेल ने आरोप लगाया कि अपहरण में एंटीगुआ सरकार की भी मिलीभगत है। दूसरी तरफ, प्रधानमंत्री गैस्टन ब्राउन विपक्षी पार्टी पर आरोप लगा चुके हैं कि प्रचार के लिए पैसा जुटाने की खातिर विपक्षी पार्टी भगोड़े हीरा कारोबारी का समर्थन कर रही है।

25 जून तक टली सुनवाई

बता दें कि भगोड़े हीरा कारोबारी मेहुल चोकसी के डोमिनिका में गैरकानूनी रूप से प्रवेश के मामले की रोसेऊ मजिस्ट्रेट कोर्ट में सुनवाई 25 जून तक के लिए स्थगित हो गई है। चोकसी की कानूनी टीम ने अदालत से और समय दिए जाने की मांग की थी।

इससे पहले भारतीय अधिकारियों ने अदालत में हलफनामा दाखिल कर कहा था कि चोकसी भारतीय नागरिक है और नागरिकता छोड़ने संबंधी उसकी याचिका खारिज कर दी गई थी। नागरिकता अधिनियम, 1955 के तहत नागरिकता छोड़ने संबंधी चोकसी का दावा गलत है।

पीएनबी घोटाला मामले की जांच कर रही सीबीआइ ने भी दाखिल किया हलफनामा

इस हलफनामे में कहा गया था कि भारत पहले ही एंटीगुआ एवं बरबुडा सरकार द्वारा चोकसी को प्रदान की गई नागरिकता को इस आधार पर रद करने का मुद्दा उठा चुका है कि उसने उसे धोखाधड़ी करके हासिल किया है। यह हलफनामा डोमिनिका में भारतीय उच्चायोग के काउंसलर आफिस द्वारा दाखिल किया गया है। इसमें कहा गया था कि भारत में किए गए अपराधों की जांच के सिलसिले में भारतीय एजेंसियों को चोकसी की तलाश है। इसके अलावा एक हलफनामा पीएनबी घोटाला मामले की जांच कर रही सीबीआइ ने भी दाखिल किया है।

 

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.