मांग बढ़ने से यूरो क्षेत्र का कारोबार 15 साल के उच्चतम स्तर पर पहुंचा, लॉकडाउन में ढील के बाद बड़ी मांग

जून के महीने में यूरो बहुत तेजी के साथ ऊपर चढ़ा है। पिछले 15 वर्षों में इस महीने के दौरान इतनी तेजी पहली बार देखी गई है। एक सर्वे के मुताबिक लॉकडाउन के नियमों में ढील से इस क्षेत्र में मांग बढ़ी है।

Amit KumarWed, 23 Jun 2021 11:03 PM (IST)
जून के महीने में यूरो बहुत तेजी के साथ ऊपर चढ़ा है

लंदन,रॉयटर्स: जून के महीने में यूरो बहुत तेजी के साथ ऊपर चढ़ा है। पिछले 15 वर्षों में इस महीने के दौरान इतनी तेजी पहली बार देखी गई है। एक सर्वे के मुताबिक लॉकडाउन के नियमों में ढील से इस क्षेत्र में मांग बढ़ी है। जिससे यूरो के दामों को मानों पंख लग गए।

जिस वक्त कोरोना संक्रमण तेजी के साथ फैल रहा था। तब सरकारों ने सख्त प्रतिबंध लगाए थे। साथ ही लोगों से घर पर ही रहने की अपील की थी और अधिकांश सेवा उद्योग को बंद करने के लिए मजबूर किया था। लेकिन धीमी शुरुआत के बावजूद इस क्षेत्र का टीकाकरण अभियान गति पकड़ रहा है और स्वास्थ्य सेवाओं पर बोझ कम हो गया है।

एचएसबीसी में प्राइवेट बैंकिंग एंड वेल्थ मैनेजमेंट के चीफ इनवेस्टमेंट ऑफिसर विलेम सेल्स ने कहा, त्वरित वैक्सीन रोलआउट और गिरते केसों के नंबर प्रतिबंधों में ढील दे रहे हैं और उपभोक्ताओं को अधिक आत्मविश्वास महसूस हो रहा है। सेवाएं और विशेष रूप से खपत, मजबूत गति देख रहे हैं।

फ्लैश सेवा पीएमआई 55.2 से 58.0 तक उछला, जो जनवरी 2018 के बाद से उच्चतम और 57.8 रॉयटर्स पोल भविष्यवाणी से ऊपर है। यह बताते हैं कि गति जारी रहेगी, नया व्यापार सूचकांक 56.6 से 14 साल के उच्च स्तर 57.7 पर चढ़ गया।

ब्रिटेन में, यूरो क्षेत्र और यूरोपीय संघ के बाहर, निजी क्षेत्र में विकास मई में एक सर्वकालिक उच्च स्तर से केवल थोड़ा कम हुआ जबकि कोरोनोवायरस प्रतिबंध हटा दिए गए थे।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.