अब स्वेज नहर में नहीं फंसेगा कोई जहाज, बनाया जा रहा और गहरा व चौड़ा

और चौड़ा और गहरा किया जा रहा स्वेज नहर

स्वेज नहर को और गहरा और चौड़ा करने का काम शुरू किया गया है ताकि इसमें अब इसमें कोई और जहाज न फंसे। विश्व का दस फीसद व्यापार इसी नहर से गुजरने वाले जहाजों से होता है। पिछले साल 19 हजार से ज्यादा जहाज स्वेज नहर से गुजरे थे।

Monika MinalWed, 12 May 2021 02:53 PM (IST)

काहिरा, एपी। अंतराष्ट्रीय जल परिवहन के लिए महत्वपूर्ण स्वेज नहर को अब चौड़ा और गहरा किया जा रहा है।मिस्र ( Egypt) ने मंगलवार को इस योजना की जानकारी दी। मार्च में स्वेज में एक संकरे स्थान पर बड़े जहाज के फंसने की घटना के बाद यह निर्णय लिया गया है। स्वेज नहर प्राधिकरण के प्रमुख लेफ्टिनेंट जनरल ओसामा राबी (Lt Gen Osama Rabie)  ने स्वेज के शहर इस्लामिया में हुए एक कार्यक्रम में विस्तार की योजना के बारे में पूरी जानकारी दी। इस कार्यक्रम में मिस्त्र के राष्ट्रपति अब्देल फतेह अल सिसी (Egyptian President Abdel-Fattah el-Sissi) व अन्य शीर्ष अधिकारी भी मौैजूद थे।

 इस योजना के तहत नहर को दक्षिण की ओर से 40 मीटर पूर्व में बढ़ाया जाएगा और इसे 72 फीट और गहरा किया जाएगा।  राबी ने बताया कि इस नहर को 72 फीट गहरा करने की योजना है, अब तक यह 66 फीट ही थी। इसके अलावा स्वेज नहर की लंबाई को भी बढ़ाया जा रहा है। 2015 में खोली गई दूसरी लेन की अब तक 30 किमी लंबाई थी। इसका 10 किमी. का विस्तार और किया जा रहा है। दोनों ही लेन अब 82 किमी. लंबी हो जाएंगी, जिससे किसी भी जहाज के फंसने की आशंका नहीं रहेगी।

ज्ञात हो कि स्वेज नहर में मार्च में पनामा के नियंत्रण वाला जापानी जहाज एवर गिवन फंस गया था। इसके कारण छह दिन तक आवागमन बंद रहा था। 6 दिनों के लिए यह रास्ता बंद हो गया था और इसलिए कुछ जहाजों को दूसरा लंबा रास्ता लेना पड़ा जिसमें अतिरिक्त ईंधन खर्च हुआ। स्वेज नहर अधिकरण ने नहर से गुजर रही एक जहाज M/T Rumford में समस्या आने के बावजूद उचित प्रबंधन के जरिए हालात को संभाल लिया था 62,000 टन तेल ले जा रहा जहाज नहर से जा रहा था तभी यह समस्या सामने आई और SCA के नौकाओं से इस समस्या को सुलझाया जा सका। विश्व का दस फीसद व्यापार इसी नहर से गुजरने वाले जहाजों से होता है। पिछले साल 19 हजार से ज्यादा जहाज स्वेज नहर से गुजरे थे। 

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.