Nepal Schools RE-Open: नेपाल में 7 महीने बाद फिर से खोले गए स्कूल, करनी होगी ये शर्त पूरी

नेपाल में 7 महीने बाद स्कूल फिर से खुले।
Publish Date:Tue, 29 Sep 2020 08:49 AM (IST) Author: Pooja Singh

काठमांडू, एएनआइ। नेपाल में सात महीने बाद कुछ स्कूलों को फिर से खोल दिया गया है। सभी छात्रों को कोरोना वायरस के चलते एहतियात बरतनी होगी। इसके तहत स्कूल में सोशल डिस्टेंसिग के साथ-साथ फेस मास्क भी लगाना होगा। देश में नया शैक्षणिक सत्र मई या जून में शुरू होता है, लेकिन महामारी के चलते स्कूल को नहीं खोला गया। अब राजधानी काठमांडू के आसपास के कुछ स्थानीय निकायों ने स्कूलों को स्वास्थ्य प्रोटोकॉल का पालन करने के साथ ही स्कूल खोलने की अनुमति दे दी है।

न्यूज एजेंसी एएनआइ से बातचीत करते हुए काठमांडू में स्थित विद्यानाथ बोर्डिंग स्कूल के कार्यकारी निदेशक जित बहादुर बसनेट ने बताया कि देश में कोरोना के चलते लगे लॉकडाउन के चलते छात्रों में पढ़ने लिखने की आदत कम हो रही थी। अभिभावकों ने इसे बारे में चिंता प्रकट की थी बच्चे गलत रास्ते पर जा रहे हैं। ऐसे में उनकी चिंता ध्यान में रखते हुए नागेश्वरी मनोहर नगर पालिका से स्कूल को एक नोटिस दिया है रविवार से सभी स्वास्थ्य प्रोटोकॉल का पालन करते हुए दो शिफ्टों में कक्षाएं शुरू की जाएंगी।

उन्होंने कहा कि स्कूल को दो शिफ्टों में शुरू किया गया है। पहली शिफ्ट सुबह 6 बजे से होगी जबकि दूसरी शिफ्ट सुबह 11 बजे से होगी। स्कूल को फिर से शुरू करने  से पहले स्कूल प्रशासन को परिसर को कीटाणुरहित करने के आदेश हिए हैं। स्कूल में आने वाले छात्रों के तापमान चैक होगा। कांठमांडू में कुछ स्कूल में खुलने वाले स्कूलें में यह स्कूल शामिल है। इससे पहले आर्थिक स्थिति और तकनीकी बाधाओं के कारण यहां पर ऑनलाइन क्लास नहीं हो पा रही थी।

स्कूल दोबारा खुलने पर छात्र, सोनिया घलान ने बताया कि स्कूल खुलने से वह बहुत खुश है। उन्होंने कहा कि इससे पहले कोरोना के चलते उनकी पढ़ाई में बाधा आ रही थी और माध्यमिक शिक्षा परीक्षा आयोजित होने को लेकर भी कनफ्यूजन था। अब हम अपनी पढ़ाई के लिए स्कूल जा सकते हैं। 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.