लेबनान हादसे के बाद यूएस-यूके और फ्रांस समेत मदद को आगे आए कई देश

लेबनान हादसे के बाद यूएस-यूके और फ्रांस समेत मदद को आगे आए कई देश

फ्रांस यूएस और यूके समेत विभिन्न देशों ने कहा है कि हम हर तरह से लेबनान की मदद को तैयार हैं।

Publish Date:Wed, 05 Aug 2020 09:59 AM (IST) Author: Neel Rajput

पेरिस, एएनआइ। लेबनान की राजधानी बेरुत में हुए भीषण बम धमाके के बाद विभिन्न देशों ने मदद को हाथ आगे बढ़ाए हैं, इनमें यूएस, यूके और फ्रांस समेत विभिन्न देश शामिल हैं। फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रॉन (Emmanuel Macron) ने मंगलवार को कहा कि फ्रांस एक नागरिक सुरक्षा टुकड़ी और कई टन चिकित्सा उपकरण लेबनान में तैनात करेगा। इस हादसे में मरने वालों का आंकड़ा 73 तक पहुंच चुका है और चार हजार से ज्यादा लोग अब तक घायल हो चुके हैं। फ्रांसीसी राष्ट्रपति ने एक ट्वीट में कहा, "आपातकालीन चिकित्सक भी अस्पतालों को मजबूत करने के लिए जल्द से जल्द बेरुत पहुंचेंगे। फ्रांस पहले से ही इसमें व्यस्त है।"

उधर, अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ (Mike Pompeo) ने भी बेरुत के बंदरगाह पर बड़े पैमाने पर हुए विस्फोट से प्रभावित सभी लोगों के लिए अपनी गहरी संवेदना व्यक्त की है। उन्होंने एक बयान में कहा, "हम बारीकी से निगरानी कर रहे हैं और लेबनान के लोगों की सहायता के लिए तैयार हैं। बेरुत में तैनात हमारी टीम ने मुझे एक शहर और लोगों की व्यापक क्षति की सूचना दी है। यहां लोग पहले से ही संघर्ष कर रहे हैं और अब उनके सामने नई चुनौती आ गई है। हम समझते हैं कि लेबनान सरकार इसके कारणों की जांच कर रही है।" लेबनान में हुए इस घातक हमले के बाद विभिन्न देश मदद को आगे आए हैं। ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने कहा है, "हमारा देश किसी भी तरह से सहायता प्रदान करने के लिए तैयार है।"

वहीं, इजरायल के राष्ट्रपति रियूवेन रिवलिन (Reuven Rivlin) ने मंगलवार को कहा कि बेरुत के बंदरगाह में हुए विनाशकारी विस्फोट के बाद इजरायल के लोग अपने लेबनानी पड़ोसियों के दर्द में उनके साथ हैं और उन्हें अपनी सहायता प्रदान करते हैं।

यह भी देखें: लेबनान की राजधानी बेरूत में धमाके में 70 से ज्यादा लोगों की गई जान, 3,700 लोग घायल

 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.