चीन को करारा झटका, ऑस्ट्रेलिया ने रद की बेल्ट एंड रोड डील, दोनों देशों के बीच बढ़ा तनाव

ईरान और सीरिया से भी दो समझौते किए खत्म

प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन की सरकार के बुधवार को जारी एक आदेश में विक्टोरिया राज्य की सरकार और नेशनल डेवलपमेंट एंड रिफॉर्म कमीशन ऑफ चाइना के बीच हुए बेल्ट एंड रोड इनिशिएटिव (बीआरआइ) के संबंध में किए गए करार को खत्म कर दिया।

Neel RajputWed, 21 Apr 2021 07:54 PM (IST)

कैनबरा, एएनआइ। चीन के ड्रीम प्रोजेक्ट बेल्ट एंड रोड परियोजना को ऑस्ट्रेलिया की सरकार ने करारा झटका दिया है। उसने राष्ट्रीय हितों को देखते हुए इस योजना की डील को रद कर दिया है। ऑस्ट्रेलिया ने चीन सहित ईरान और सीरिया के चार द्विपक्षीय सौदों को भी नए बनाए गए कानून के तहत रद कर दिया है। ऑस्ट्रेलिया के इस कदम से चीन के साथ उसका तनाव बढ़ गया है।

प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन की सरकार के बुधवार को जारी एक आदेश में विक्टोरिया राज्य की सरकार और नेशनल डेवलपमेंट एंड रिफॉर्म कमीशन ऑफ चाइना के बीच हुए बेल्ट एंड रोड इनिशिएटिव (बीआरआइ) के संबंध में किए गए करार को खत्म कर दिया। इसे केंद्र सरकार ने राष्ट्रीय हितों के खिलाफ माना है। यह समझौता 8 अक्टूबर 2018 को हुआ था।

ऑस्ट्रेलिया के विदेश मंत्री मारिज पायने ने बताया कि बीआरआइ डील न्यू फॉरिन वीटो लॉ के तहत केंद्र सरकार ने खत्म की है। यह कानून 2018 में बनाया गया था। उस समय चीन ने इस कानून का विरोध किया था। उसने कहा था कि यह कानून चीन के साथ दुर्भावना के तहत लाया गया है।

इसी तरह विक्टोरिया राज्य के शिक्षा विभाग ने 1999 में सीरिया और 2004 में ईरान के साथ समझौता किया था। इन दोनों को भी केंद्र सरकार ने खत्म कर दिया है। सरकार ने कुल चार ऐसे समझौैते रद किए हैं।

चीन और ऑस्ट्रेलिया के संबंध पिछले साल अप्रैल से ही खराब होने लगे थे, जब कोरोना वायरस की उत्पत्ति के मामले में ऑस्ट्रेलिया ने अंतरराष्ट्रीय स्तर की स्वतंत्र जांच कराने की मांग की थी। उसके बाद चीन ने कई उत्पादों के ऑस्ट्रेलिया से निर्यात पर पाबंदी लगा दी थी। तभी से दोनों देशों के बीच ट्रेड वार भी छिड़ा हुआ है।

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.