अल्जीरियाई जंगलों में आग लगने से अब तक 65 की मौत, पीड़ितों के लिए सरकार ने किया मुआवजे का ऐलान

उत्तरी अल्जीरिया के जंगलों में लगी आग के कारण अब तक करीब 65 लोगों के मारे जाने की खबर है। राज्य टेलीविजन की एक रिपोर्ट के मुताबिक देश के इतिहास में यह कुछ सबसे विनाशकारी हादसों में से एक है।

Amit KumarWed, 11 Aug 2021 09:55 PM (IST)
At least 65 killed in Algerian wildfires

अल्जीयर्स, रॉयटर्स: उत्तरी अल्जीरिया के जंगलों में लगी आग के कारण अब तक करीब 65 लोगों के मारे जाने की खबर है। राज्य टेलीविजन की एक रिपोर्ट के मुताबिक देश के इतिहास में यह कुछ सबसे विनाशकारी हादसों में से एक है। देश की सरकार ने आग के कारण हो रहे नुकसान पर नियंत्रण पाने के लिए सेना को तैनात किया है, अब तक 28 सैनिकों की मौत हो चुकी है वहीं 12 अन्य गंभीर रूप से घायल हैं। जंगलों में लगी आग के कारण पहाड़ी इलाके कबाइली में सबसे ज्यादा नुकसान हुआ है।

गर्म मौसम बना अग्निकांड की वजह

अल्जीरिया के राष्ट्रपति अब्देलमदजीद तेब्बौने ने मृतकों के लिए राष्ट्रव्यापी तीन दिनों के शोक की घोषणा की है, साथ ही अग्निकांड से प्रभावित राज्यों में सभी तरह की गतिविधियों को रोक दिया गया है। जंगल की आग ने पिछले एक हफ्ते में अल्जीरिया, तुर्की और ग्रीस के बड़े हिस्से को तबाह कर दिया है। यूरोपीय संघ के वातावरण मॉनीटर के मुताबिक, गर्म मौसम भूमध्यसागरीय जंगलों में आग का कारण बना हुआ है। सोमवार से उत्तरी अल्जीरिया के वन क्षेत्रों में दर्जनों अलग-अलग आग भड़की हैं। वहीं, मंगलवार को आंतरिक मंत्री कामेल बेल्डजौद ने आगजनी करने वालों पर बिना किसी सबूत के आग लगाने के आरोप लगाए हैं।

सैकड़ों हुए बेघर

अग्निकांड से सबसे बुरी तरह प्रभावित टिज़ी ओज़ौ जिला है, जो कि कबाइली क्षेत्र का सबसे बड़ा इलाका है। यहां तबाही का आलम यह है कि, लोगों के घर पूरी तरह से जल गए हैं और पीड़ितों के होटलों, छात्रावासों और विश्वविद्यालय के आवासों में शरण लेनी पड़ रही है। देश की सरकार ने प्रभावितों के लिए मुआवजे का ऐलान किया है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.