DATA STORY: इजरायल-फलस्तीन संघर्ष में हर साल हजारों लोग मरते या घायल होते हैं, डराते हैं 2008 से अब तक के आंकड़े

यह हिंसा 2014 में अपने चरम पर थी जब इजराइल ने गाजा में ऑपरेशन प्रोटेक्टिव एज चलाया था।

संयुक्त राष्ट्र कार्यालय का कोआर्डिनेशन ऑफ ह्यूमनटेरियन अफेयर 2008 से इस इलाके में फलस्तीन और इजराइल संघर्ष में होने वाली मौतों पर नजर रख रहा है। 2008 से 2020 के बीच कुल 5590 फलस्तीन के लोगों और 250 इजराइल के नागरिकों की मौत हुई है।

Vineet SharanFri, 14 May 2021 08:46 AM (IST)

नई दिल्ली, विनीत शरण। जेरूसलम में इजराइली पुलिस और फलस्तीनी प्रदर्शनकारियों के बीच हुई झड़प खूनी संघर्ष में तब्दील हो चुका है। इजराइल ने गाजा में मौजूद हनादी टॉवर पर भारी एयर स्ट्राइक की है। कहा जाता है कि यहां कट्टरपंथी संगठन हमास का कार्यालय और रिहाइश है। इजराइली हमले में इस इलाके में काफी तबाही मची है। वहीं कट्टरपंथी संगठन हमास ने भी इजराइली शहरों तेल अवीव, अश्कलोन और बर्शेबा भारी राकेट दागे हैं। इस इलाके में इतनी बमबारी कभी नहीं देखी गई थी।

संयुक्त राष्ट्र के मध्य पूर्व के राजदूत टोर वेनेसलैंड ने दोनों पक्षों से गोलाबारी तुरंत बंद करने को कहा है। उन्होंने आशंका जताई है कि यह संघर्ष युद्ध में बदल सकता है। दुर्भाग्य की बात है कि इस इलाके में हिंसा कोई नई बात नहीं है। पिछले 10 साल से लगातार इस इलाके में हर साल हजारों लोग जान गंवाते हैं या घायल होते हैं।

2008 से 2020

संयुक्त राष्ट्र कार्यालय का कोआर्डिनेशन ऑफ ह्यूमनटेरियन अफेयर 2008 से इस इलाके में फलस्तीन और इजराइल संघर्ष में होने वाली मौतों पर नजर रख रहा है। 2008 से 2020 के बीच कुल 5590 फलस्तीन के लोगों और 250 इजराइल के नागरिकों की मौत हुई है। वहीं घायलों का आंकड़ा तो इससे कहीं बड़ा है। इन 10 साल में कुल 115000 फलस्तीन के लोग घायल हुए हैं। वहीं इजराइल में घायलों का आंकड़ा 5600 है।

हिंसा का चरम-साल 2014 और 2018

यह हिंसा 2014 में अपने चरम पर थी जब इजराइल ने गाजा में ऑपरेशन प्रोटेक्टिव एज चलाया था। यह तीन किशोरों के अपहरण और हत्या के बाद उठाया गया कदम था। यह मुहिम 7 हफ्ते तक चली थी और इसके चलते 2000 से ज्यादा लोगों की मौत हुई थी। वहीं 2018 में इजराइल-गाजा सीमा पर हुए प्रदर्शन के चलते 28 हजार से ज्यादा लोग घायल हुए थे।

2021- मौजूदा स्थिति डरावनी

सोशल मीडिया पर पोस्ट किए गए फुटेज में इज़राइली आयरन डोम मिसाइलों को दिखाया गया है, जो आने वाले कई रॉकेटों को रोकती हैं। इजरायल और फलस्तीन के बीच जारी इस संघर्ष से दुनियाभर के देश चिंतित हैं। पर दोनों ही ओर से रॉकेट हमले जारी हैं। इजरायल और फलस्तीन के बीच इस जंग में गाजा में 65 फलीस्तीनियों को मारा गया है जबकि इस भीषण युद्ध में 7 इजरायली अब तक जान गंवा चुके हैं। 

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.