दिल्ली

उत्तर प्रदेश

पंजाब

बिहार

उत्तराखंड

हरियाणा

झारखण्ड

राजस्थान

जम्मू-कश्मीर

हिमाचल प्रदेश

पश्चिम बंगाल

ओडिशा

महाराष्ट्र

गुजरात

दुनिया को महामारी की चपेट में लाए चीन को सता रहा डर, बनाया Mount Everest पर सीमा रेखा का प्लान

महामारी का हवाला दे माउंट एवरेस्ट पर सीमा रेखा बनाने को तैयार है चीन

चीन ने यह फैसला लिया है कि दुनिया की सबसे ऊंची चोटी माउंट एवरेस्ट पर सीमा रेखा बनाई जाए ताकि उसकी ओर कोरोना संक्रमण का मामला न आ सके। चीनी मीडिया के अनुसार नेपाल के संक्रमित पर्वतारोहियों के जरिए संक्रमण फैलने से बचाव हो सके।

Monika MinalMon, 10 May 2021 11:23 AM (IST)

बीजिंग, एएफपी। महामारी कोविड-19 का हवाला देते हुए अब चीन ने दुनिया की सबसे ऊंची चोटी माउंट एवरेस्ट पर सीमा रेखा बनाने का  अहम फैसला लिया है। जिस चीन से इस महामारी की शुरुआत हुई थी अब वही अपने इलाके को संक्रमण से बचाने की बात कह रहा है।  हाल में ही एवरेस्ट पर आने वाले नेपाल के 30 से अधिक कोविड संक्रमित पर्वतारोहियों के बाद महामारी के खतरे को अपनी ओर न आने देने को लेकर चीन ने यह अहम फैसला लिया है। माउंट एवरेस्ट चीन-नेपाल सीमा को घेरता है, जिसमें उत्तरी ढलान चीन की ओर है।

दरअसल एवरेस्ट पर बीजिंग ने अपनी ओर 'सीमा रेखा' बनाने का प्लान बनाया है क्योंकि चीन चाहता है कि उसके क्षेत्र में संक्रमण न आ सके। वर्ष 2019 के अंत में चीन के ही वुहान से घातक कोरोना वायरस की शुरुआत हुई और तीन महीनों के भीतर ही इसने महामारी का रूप ले लिया। 

नेपाली बेस कैंप से निकाले गए  संक्रमित पर्वतारोही 

उल्लेखनीय है कि अप्रैल के आखिरी सप्ताह में एवरेस्ट की चोटी पर कोविड संक्रमण का पहला मामला आया था। इसके बाद कई संक्रमितों की सूचना मिली। 30 से अधिक संक्रमित पर्वतारोहियों को हाल के सप्ताहों में नेपाल की दुनिया की सबसे ऊंची चोटी पर स्थित बेस कैंप से निकाला गया। नेपाल कोरोना की दूसरी लहर का सामना कर रहा है। चीन भी पहाड़ के उत्तरी किनारे पर स्थित अपने बेस कैंप में कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव व नियंत्रण उपायों को बढ़ाएगा। इसके तहत एवरेस्ट के प्राकृतिक क्षेत्र में गैर-पर्वतारोही पर्यटकों को प्रवेश करने से मना किया जाएगा। 

तिब्बती अधिकारियों के अनुसार उत्तर और दक्षिण ढलानों पर या शीर्ष पर पर्वतारोहियों के बीच संपर्क से बचने के लिए 'रोकथाम के उपाय' करेंगे। तिब्बत पर्वतारोहण संघ के प्रमुख के हवाले से सिन्हुआ न्यूज ने बताया कि माउंटेन गाइड पर्वतारोहियों को चढ़ाई शुरू करने की अनुमति देने से पहले पर्वत के शिखर पर सीमा रेखा बनाएंगे। अधिकारी ने इस बारे में अधिक जानकारी नहीं दी। कोरोना संक्रमण के कारण चीन ने पिछले साल से ही विदेशी नागरिकों के पर्वतारोहण पर रोक लगा दी थी।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.