अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोंपियो पर भड़का चीन, उइगरों पर दिए गए बयान को रद्दी का टुकड़ा बताया

चीन ने कहा है कि उइगर नरसंहार पर दिया पोंपियो का बयान महज रद्दी का टुकड़ा है।

अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोंपियो का कार्यकाल समाप्त होने से पहले उइगर मुस्लिमों पर अत्याचार के संबंध में दिए गए बयान पर चीन ने कड़ी प्रतिक्रिया दी है। चीन ने कहा कि वह अंतिम दिन नौटंकी कर रहे थे। उनका चीन पर दिया बयान महज रद्दी का टुकड़ा है।

Krishna Bihari SinghWed, 20 Jan 2021 07:13 PM (IST)

बीजिंग, एपी। अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोंपियो का कार्यकाल समाप्त होने से पहले उइगर मुस्लिमों पर अत्याचार के संबंध में दिए गए बयान पर चीन ने कड़ी प्रतिक्रिया दी है। चीन ने कहा कि वह अंतिम दिन नौटंकी कर रहे थे। उनका चीन पर नरसंहार और मानवता के खिलाफ अपराध करने संबंधी बयान महज रद्दी का टुकड़ा है। पोंपियो का शिनजियांग प्रांत में अल्पसंख्यक मुस्लिमों पर अत्याचार का आरोप महज सनसनी फैलाने के लिए दिया गया है। यह बयान उन्होंने दुर्भावनावश दिया है। उनकी मानसिकता चीन और कम्युनिस्ट पार्टी विरोधी है।

लगाया यह आरोप 

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता हुआ चुनयिंग ने आरोप लगाया कि माइक पोंपियो झूठ बोलने और धोखा देने के लिए कुख्यात हैं। शिनजियांग प्रांत में चीन आर्थिक और सामाजिक विकास के लिए योजना चला रहा है। इससे ज्यादा कुछ नहीं है। उल्‍लेखनीय है कि अमेरिकी प्रशासन से विदा ले रहे विदेश मंत्री माइक पोंपियो ने चीन पर शिनजियांग प्रांत में उइगर मुस्लिमों और अन्य अल्पसंख्यकों के नरसंहार का आरोप लगाया था।

उइगरों के मुद्दे उठाने पर ट्रंप प्रशासन की प्रशंसा

समाचार एजेेंसी एएनआइ के मुुुुुुता‍बिक, अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप प्रशासन की उइगरों के मामले प्रभावी रूप से उठाने पर प्रशंसा की गई है। अमेरिका में उइगरों के संगठन कैंपेन फॉर उइगर ने कहा है कि चीन के शिनजियांग प्रांत में उइगरों और अन्य अल्पसंख्यक समुदाय पर चीनी अत्याचार के खिलाफ अमेरिका ने लगातार आवाज उठाई है। वर्तमान राष्ट्रपति जो बाइडन ने भी इस मामले में कार्रवाई करने के लिए कहा है। इससे अंतरराष्ट्रीय समुदाय में इस मुद्दे पर सही संदेश गया है।

नरसंहार कर रहा चीन 

पोंपियो ने मंगलवार को एक बयान जारी कर कहा था कि उपलब्ध साक्ष्यों का सावधानी पूर्वक अध्ययन करने के बाद मैं इस नतीजे पर पहुंचा हूं कि कम्युनिस्ट पार्टी के नियंत्रण में चीन शिनजियांग प्रांत में उइगर मुस्लिमों और अन्य अल्पसंख्यक धार्मिक समूहों का नरसंहार कर रहा है। उन्होंने कहा था कि मुझे विश्वास है कि यह नरसंहार जारी है। हम इस बात के गवाह हैं कि उइगर समुदाय को खत्म करने के लिए व्यवस्थित प्रयास किया जा रहा है। 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.