जम्मू कश्मीर के लिए भारत के प्रयासों की अमेरिका ने की प्रशंसा, जानें क्या कहा

जम्मू कश्मीर के लिए भारत के प्रयासों की अमेरिका ने की प्रशंसा

जम्मू कश्मीर के हालात को सामान्य बनाने को लेकर किए गए प्रयासों के लिए भारत सरकार की अमेरिका में सराहना की जा रही है। नेड प्राइस ने कहा हम केंद्रशासित प्रदेश जम्मू कश्मीर के राजनीतिक व आर्थिक हालात सामान्य बनाने को लेकर भारत सरकार के फैसले का स्वागत करते हैं।

Monika MinalThu, 04 Mar 2021 10:02 AM (IST)

वाशिंगटन, एएनआइ। जम्मू कश्मीर को लेकर भारत में उठाए गए कदमों की  अमेरिका  (United States) ने सराहना की है।  स्थानीय समयानुसार बुधवार को विदेश विभाग के प्रवक्ता नेड प्राइस ने कहा, 'हम केंद्रशासित प्रदेश जम्मू कश्मीर के राजनीतिक व आर्थिक हालात को सामान्य बनाने को लेकर भारत सरकार द्वारा किए गए फैसले का स्वागत करते हैं।' 

नेड प्राइस ने कहा कि अमेरिका जम्मू-कश्मीर में बदलते हालात पर लगातार नजर रख रहा है। उन्होंने कहा जम्मू कश्मीर के संबंध में अमेरिकी नीति में कोई बदलाव नहीं आया है। नेड प्राइस ने कहा, 'भारत के लोकतांत्रिक मूल्यों के अनुरूप केंद्र शासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर में आर्थिक और सियासी हालात को पूरी तरह से सामान्य करने के लिए उठाए गए कदमों का हम स्वागत करते हैं। जैसा कि हमने पहले कहा है, विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन  को अपने भारतीय समकक्ष के साथ द्विपक्षीय रूप से और क्वाड (QUAD) के जरिए बात करने के अवसर मिले हैं।' 

उन्होंने कहा, 'नेड प्राइस ने कहा कि अमेरिका का भारत और पाकिस्तान के साथ भी महत्वपूर्ण संबंध है।' उन्होंने कहा, 'हमारे विचार से ये संबंध अपने बूते पर कायम हैं।' उन्होंने कहा, 'जब अमेरिका की विदेश नीति की बात

आती है तो यह एक का लाभ और दूसरे की हानि का विषय नहीं होता है। हमारे बीच लाभकारी और रचनात्मक संबंध हैं और ऐसे संबंधों में एक के साथ हमारे संबंधों से दूसरे की अहमियत कम नहीं होती। इसमें एक के साथ हमारे संबंध दूसरे की कीमत पर नहीं होते।'

 भारत के साथ रणनीतिक साझेदारी पर जोर देते हुए नेड प्राइस ने कहा, ' जहां तक भारत की बात है तो हमारे बीच वैश्विक व्यापक रणनीतिक साझेदारी है। वहीं पाकिस्तान की जहां बात आती है तो इस बारे में मैंने पहले कहा था कि क्षेत्र में हमारे महत्वपूर्ण साझा हित हैं और इन साझा हितों पर हम पाकिस्तानी अधिकारियों के साथ मिलकर काम करना जारी रखेंगे।' फरवरी में अमेरिका ने जम्मू कश्मीर में 4G मोबाइल इंटरनेट की बहाली की सराहना की थी। बता दें कि 5 फरवरी को समूचे केंद्र शासित प्रदेश जम्मू कश्मीर में हाई स्पीड मोबाइल इंटरनेट सेवा की बहाली की गई। 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.