top menutop menutop menu

राष्‍ट्रपति चुनाव में कमला हैरिस का नाम आने से चकित हुए राष्‍ट्रपति ट्रंप, जानें- पूरा मामला

राष्‍ट्रपति चुनाव में कमला हैरिस का नाम आने से चकित हुए राष्‍ट्रपति ट्रंप, जानें- पूरा मामला
Publish Date:Wed, 12 Aug 2020 09:49 AM (IST) Author: Ramesh Mishra

वाशिंगटन, एजेंसी। अमेरिकी राष्‍ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा है कि वह इस बात से हैरान हैं कि राष्ट्रपति चुनाव के लिए उनको चुनौती देने वाली डेमोक्रेटिक पार्टी के जो बिडेन ने भारतीय मूल की सीनेटर कमला हैरिस का नाम लिया है। उन्‍होंने कहा कि यह जानने के बावजूद कि वह उनके प्रति कितनी अपमानजनक टिप्‍पणी कर चुकी हैं। गौरतलब है कि डोनाल्‍ड ट्रंप ने अमेरिकी राष्‍ट्रपति चुनाव में डेमोक्रेटिक पार्टी के उम्‍मीदवार जो बिडेन ने कमला हैरिस को उप राष्‍ट्रपति पद के लिए उम्‍मीदवार बनाया है। डेमोक्रेटिक पार्टी के इस स्‍टैंड के बाद राष्‍ट्रपति ट्रंप ने यह टिप्‍पणी दी है।

ट्रंप ने कमला के चयन पर उठाए सवाल  

1- व्हाइट हाउस में एक संवाददाता सम्मेलन में ट्रंप ने कहा कि यह देखना दिलचस्‍प होगा कि वह इस चुनाव में किस तरह से काम करती हैं। उन्‍होंने कहा कि पिछले राष्‍ट्रपति चुनाव में प्राइमरी फेज में कमला का प्रदर्शन बेहद खराब और निराशाजनक था। उनका मतदान फीसद खाफी खराब था। वह महज दो फीसद मतों पर सिमट गईं थीं। ट्रंप ने उम्‍मीद जाहिर की इस बार उनका प्रदर्शन बेहतर रहेगा। ट्रंप ने कहा कि डेमोक्रेटिक उम्‍मीदवार बिडेन की ओर से ऐसी बहुत सारी चीजें घटित हो रहीं हैं, जिससे मैं चकित हूं। थोड़ा सा हैरान हूं।

2- राष्‍ट्रपति ट्रंप ने कहा कि जब कैलिफोर्निया की सीनेटर कमला हैरिस एक समय बिडेन को राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार के लिए चुनौती दे रहीं थीं, उस वक्‍त उन्‍होंने बिडेन को बहुत बुरा-भला कहा था। यहां तक की कमला उन्‍हें नास्तिक भी कह चुकीं हैं। ऐसे में कमला को अपना सहयोगी बनाना एक मेरे लिए एक चकित करने वाली घटना लगती है।  

कमला को बहादुर योद्धा और बेहतरीन नौकरशाह कहा 

उधर, अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में डेमोक्रेटिक पार्टी के उम्मीदवार जो बिडेन ने कमला हैरिस को उप-राष्ट्रपति पद के लिए अपना उम्मीदवार बनाया है। बिडेन ने मंगलवार को ट्वीट के जरिए इस बात की जानकारी दी है। उन्‍होंने कहा कि  यहबताते हुए गर्व हो रहा है कि कमला हैरिस को उन्होंने अपना उप-राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार चुना है। बिडेन ने उन्हें बहादुर योद्धा और अमेरिका के सबसे बेहतरीन नौकरशाहों में से एक करार दिया है।

बिडेन बोले, उनके काम से मैं बेहद प्रभावित हूं 

बिडेन ने कहा कि जब कमला कैलिफोर्निया की अटॉर्नी जनरल थीं, तब से मैंने उनको काम करते हुए देखा है। मैंने खुद देखा है कि उन्होंने कैसे बड़े-बड़े बैंकों को चुनौती दी, काम करने वाले लोगों की मदद की और महिलाओं-बच्चों को शोषण से बचाया। बिडेन ने अपने अगले ट्वीट में लिखा कि मैं उस समय भी गर्व महसूस करता था और आज भी गर्व महसूस कर रहा हूं, जब वो इस अभियान में मेरी सहयोगी होंगी।

कमला हैरिस का भारत से नाता  

भारतीय मूल की सीनेटर कमला हैरिस की मां तमिलनाडु की थीं। उनके पिता जैमेका के अफ्रीकी अमेरिकी हैं। दोनों अमेरिका पढ़ने के लिए आए थे और उसके बाद यहां बस गए। हालांकि,  बाद में माता-पिता का तलाक हो गया था। कमला कैलिफोर्निया से हैं। कैंसर शोधकर्ता श्यामल गोपालन उनकी मां थीं और उनके पिता डोनाल्ड हैरिस, अफ्रीकी जमैकन हैं। 

कमला ने हावर्ड यूनिवर्सिटी से पढ़ाई पूरी की, जो कि एक अश्वेत कॉलेज और यूनिवर्सिटी की हैसियत से पहचानी जाती है। हावर्ड के बाद कैलिफोर्निया यूनिवर्सिटी से उन्‍होंने कानून की पढ़ाई पूरी की।  कानून की शिक्षा पूरी करने के बाद वह राजनीति में आईं और कैलिफोर्निया की अटॉर्नी जनरल बनीं। कमला इस पद पर पहुंचने वाली पहली महिला और पहली अफ्रीकी-अमरीकी थीं। वह दो बार अटॉर्नी जनरल के पद पर रहीं। वर्ष 2017 में सांसद बनीं। कमला दूसरी अश्वेत महिला हैं, जो सांसद बनीं। इसके पूर्व लुसियाना के पूर्व गवर्नर बॉबी जिंदल ने 2015 के चुनाव में मौजूदा अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के खिलाफ चुनाव लड़ा था। 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.