दुनिया के तीन मुल्‍कों पर कुदरत का प्रकोप- अमेरिका और चीन में तूफान से तबाही, जापान पर मंडराया खतरा

अमेरिका में रेतीले तूफान के चलते सात लोगों की मौत हो गई तो चीन में चीन के पूर्वी झेजियांग प्रांत में तूफान इन-फा ने दस्‍तक दी है। वहीं नेपार्टक तूफान के मंगलवार को टोक्यो समेत जापान के मुख्य द्वीप पर पहुंचने की आशंका है।

Krishna Bihari SinghMon, 26 Jul 2021 04:30 PM (IST)
अमेरिका में रेतीले तूफान के चलते सात लोगों की मौत हो गई।

कनोश/बीजिंग/टोकियो, एजेंसियां। कोरोना महामारी के साथ ही दुनिया इन दिनों दूसरी प्राकृतिक आपदाओं की चपेट में है। दुनिया के कई मुल्‍कों में बाढ़, बारिश और तूफानों ने कहर बरपा रखा है। अमेरिका में रेतीले तूफान के चलते सात लोगों की मौत हो गई तो चीन में चीन के पूर्वी झेजियांग प्रांत में तूफान 'इन-फा' ने दस्‍तक दी है। वहीं प्रशांत महासागर से उत्तर की ओर बढ़ रहे नेपार्टक तूफान के मंगलवार को टोक्यो समेत जापान के मुख्य द्वीप पर पहुंचने की आशंका है। यह तूफान जापान से ऐसे वक्‍त में टकराने वाला है जब वहां ओलंपिक खेल चल रहे हैं। यही नहीं भारत में भारी बारिश ने लोगों की मुश्किलें बढ़ा दी हैं।

अमेरिका में रेतीले तूफान का कहर

समाचार एजेंसी एपी की रिपोर्ट के मुताबिक अमेरिका के यूटा में रेतीले तूफान के कारण 20 गाड़ि‍यां एक-दूसरे से टकरा गईं जिससे रविवार दोपहर को कम से कम सात लोगों की मौत हो गई। ये हादसे कनोश के नजदीक इंटरस्टेट 15 पर हुए। इसमें कई लोग गंभीर रूप से घायल हुए हैं जिनको अस्पताल में भर्ती कराया गया है। प्राप्‍त जानकारी के मुताबिक रेतीले तूफान के कारण दृश्यता स्तर कम होने से ये वाहन आपस में टकरा गए।

चीन में 360,000 से अधिक लोगों को निकाला गया

समाचार एजेंसी आइएएनएस की रिपोर्ट के मुताबिक चीन में झेजियांग के तटीय प्रांत में इन-फा तूफान ने दस्‍तक दी है। अधिकारियों ने आपदा राहत के लिए चौथे स्तर की आपातकालीन प्रतिक्रिया शुरू की है। वहीं समाचार एजेंसी एएनआइ ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि तूफान इन-फा के कारण शंघाई में यातायात ठप हो गया। तूफान के कारण तटीय क्षेत्रों से 360,000 से अधिक लोगों को निकाला गया। तूफान रविवार दोपहर को झेजियांग प्रांत के तट पर पहुंचा। यह 6.2 मील प्रति घंटे की रफ्तार से उत्तर पश्चिम की ओर बढ़ रहा है।

जापान पर मंडराया संकट 

वहीं प्रशांत महासागर से उत्तर की ओर बढ़ रहे नेपार्टक तूफान के मंगलवार को टोक्‍यो समेत जापान के मुख्य द्वीप पर दस्‍तक देने की संभावना है। इसके पश्चिम की ओर बढ़ने और जापान के पूर्वी और उत्तरपूर्वी हिस्सों में पहुंचने की उम्मीद है। समाचार एजेंसी आइएएनएस के मुताबिक इससे कुछ ओलंपिक कार्यक्रम प्रभावित हो सकते हैं। जापान की मौसम एजेंसी ने भारी बारिश, हवाएं और ऊंची लहरों की चेतावनी दी है। इसकी वजह से क्षेत्र में 100 मिमी तक बारिश होने की आशंका है। एजेंसियां लगातार इस पर नजर बनाए हुए हैं।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.