कार्बन उत्सर्जन के लिए चीन और रूस के साथ भारत पर भी ट्रंप का आरोप, कहा- इन देशों की हवा में है गंदगी

कार्बन उत्सर्जन के लिए चीन, रूस और भारत है दोषी: ट्रंप
Publish Date:Fri, 23 Oct 2020 09:55 AM (IST) Author: Monika Minal

टेनेसी,  एएनआइ। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने गुरुवार को प्रदूषित हवा के मामले में चीन और रूस के साथ भारत को भी एक कतार में खड़ा कर दिया। अमेरिका के राष्ट्रपति चुनाव के लिए जिन दो उम्मीदवारों के बीच टक्कर है उनका आखिरी डिबेट भी खत्म हो गया। इसमें रिपब्लिकन उम्मीदवार ट्रंप और डेमोक्रेटिक उम्मीदवार बिडेन के बीच जोरदार बहस हुई। ट्रंप ने दावा किया कि भारत, चीन और रूस के हवा की क्वालिटी काफी खराब है। ये तीनों देश अपने वातावरण का ख्याल नहीं रखते हैं लेकिन अमेरिका इस मामले में काफी सतर्क है और देश की हवा के गुणवत्ता का पूरा ध्यान रखता है।

ट्रंप ने  पेरिस जलवायु समझौते से अमेरिका के हटने के मुद्दे का जिक्र किया और कहा कि इसने इसे 'गैर-प्रतिस्पर्धी राष्ट्र' बना दिया था। उन्होंने कहा, ' मैं पेरिस समझौते से बाहर इसलिए चला गया क्योंकि हमें खरबों डॉलर निकालने थे। हमारे साथ वहां काफी गलत व्यवहार किया जा रहा था।' ट्रंप ने कहा, 'पेरिस समझौते की वजह से मैं लाखों नौकरियों और हजारों कंपनियों का बलिदान नहीं करूंगा। यह अनुचित है।' उन्होंने ये बातें टेलीविजन पर दिखाए गए डिबेट में कहीं।  उल्लेखनीय है कि कोविड-19 संक्रमण के कारण दोनों नेताओं ने मंच तो साझा किया लेकिन आपस में हाथ नहीं मिलाए। 

उन्होंने कहा, 'हमारा खरबों की संख्या में वृक्षारोपण का कार्यक्रम था। हमारे अनेक कार्यक्रम हैं। मैं पर्यावरण से प्रेम करता हूं और क्रिस्टल की तरह पारदर्शी हवा और पानी देखना चाहता हूं। हमारे देश में कार्बन उत्सर्जन सबसे कम है जो एक बड़ा मानक है।' दुनिया में कार्बन डाइ ऑक्साइड उत्सर्जन करने वाले देशों में भारत (India) चौथे नंबर पर है। वैश्विक कार्बन उत्सर्जन की बात करें तो 2017 में करीब 7 फीसद कार्बन डाइ ऑक्साइड का उत्सर्जन केवल भारत से हुआ था। यह डाटा 2018 के दिसंबर में प्रकाशित ग्लोबल कार्बन प्रोजेक्ट में दिया गया था।

3 नवंबर के राष्ट्रपति चुनाव के लिए गुरुवार रात अंतिम डिबेट के दौरान ट्रंप ने कार्बन उत्सर्जन को लेकर इन तीन देशों को दोषी बताया है। उन्होंने इन तीनों देशों में वायु प्रदूषण का जिक्र करते हुए कहा, 'चीन को देखिए। कितना प्रदूषण है यहां। रूस को देखें। भारत को देखें, कितना प्रदूषण है यहां। यहां की हवा काफी प्रदूषित है।'   ट्रंप ने यह बात अपने प्रतिद्वंद्वी डेमोक्रेटिक उम्मीदवार जो बिडेन से फाइनल डिबेट के दौरान कही। डिबेट की मॉडरेटर एनबीसी की क्रिस्टन वेल्कर ( NBC's Kristen Welker) थीं।

यह भी देखें: एयर पॉलुशन को लेकर ट्रंप ने इंडिया, चीन और रूस पर साधा निशाना

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.