बढ़ते रैंसमवेयर के हमलों से बेहाल हुआ अमेरिका, इस पर अंकुश लगाने के लिए बिडेन प्रशासन कर सकता है कानून में बदलाव

प्रोफेसर जोसेफिन वोल्फ ने कहा कि हम साइबर फिरौती भुगतान को जितना सस्ता बनाते हैं उतना अधिक प्रोत्साहन हम कंपनियों को भुगतान करने के लिए करते हैं। जितना अधिक प्रोत्साहन हम कंपनियों को भुगतान के लिए करते हैं उतना अधिक प्रोत्साहन हम अपराध जारी रखने के लिए बना रहे हैं।

Arun Kumar SinghSat, 19 Jun 2021 09:34 PM (IST)
बढ़ते रैंसमवेयर के हमलों को लेकर प्रभावित व्यवसायों को लगातार मार्गदर्शन कर रहा हैं

वाशिंगटन, एपी। अमेरिकी सुरक्षा एजेंसी एफबीआई बढ़ते रैंसमवेयर के हमलों को लेकर प्रभावित व्यवसायों को लगातार मार्गदर्शन कर रहा हैं। उन्होंने कहा कि साइबर अपराधियों को भुगतान न करें, लेकिन अमेरिकी सरकार प्रभावित होने वालों के प्रति नरमी बरत सकती है। हो सकता है कि रैनसमवेयर के भुगतान पर टैक्स की छूट दी जा सकती है। साइबर अपराधी कंप्यूटर डेटा को खंगालते हैं और फाइलों को अनलॉक करने के लिए भुगतान की मांग करते हैं। सरकार ऐसे भुगतान नहीं चाहती है, जो आपराधिक गिरोहों को निधि प्रदान करे और अधिक हमलों को प्रोत्साहित कर सके, लेकिन भुगतान करने में विफल रहने से व्यवसायों और संभावित रूप तथा समग्र रूप से अर्थव्यवस्था के लिए विनाशकारी परिणाम हो सकते हैं।

आईआरएस रैनसमवेयर के भुगतान पर कोई भी गाइडलाइन प्रदान नहीं करता है। लेकिन एसोसिएटेड प्रेस के साक्षात्कार में कई विशेषज्ञों ने कहा कि आमतौर पर कानून और स्थापित दिशा- निर्देशों के तहत कटौती की अनुमति है। कुछ वकीलों और एकाउंटेंट ने कहा कि रैनसमवेयर पीड़ितों के लिए एक 'सिल्वर लाइनिंग' है। लेकिन कुछ ऐसे लोग हैं उन्हें डर है कि कटौती एक संभावित समस्याग्रस्त प्रोत्साहन है। जो व्यवसायों कानून प्रवर्तन की सलाह के खिलाफ फिरौती का भुगतान करने के लिए प्रोत्साहित कर सकता है।

पिछले महीने औपनिवेशिक पाइपलाइन से प्रतिदिन 25 लाख बैरल तेल जाता है। रैनसमवेयर के हमले की वजह से संयुक्त राज्य अमेरिका के कुछ हिस्सों में गैस की कमी हो गई थी। अमेरिका के पूर्वी तट के राज्यों में डीजल, गैस और जेट ईंधन की 45 फीसद आपूर्ति इसी पाइपलाइन से होती है। इसमें 75 बिटकॉइन की फिरौती का भुगतान किया गया था, जिसका मूल्य लगभग 4.4 मिलियन डॉलर था।

साइबर हमले से दुनिया की सबसे बड़ी मांस प्रोसेसिंग कंपनी जेबीएस एसए के काम को बाधित किया। कंपनी ने कहा कि कंप्यूटर सिस्टम में सेंध लगाने वाले हैकर्स को उन्होंने 11 मिलियन अमेरिकी डॉलर के बराबर का भुगतान किया था।

पालो ऑल्टो नेटवर्क्स के अनुसार रैनसमवेयर अरबों डॉलर का व्यवसाय बन गया है। इसके अलावा उनका औसत भुगतान पिछले साल 310,000 अमेरिकी डॉलर से अधिक था, जो 2019 के मुकाबले 171 प्रतिशत अधिक है। कटौती की सीमाएं हैं। यदि कंपनी को होने वाला नुकसान साइबर बीमा द्वारा कवर किया जाता है तो कंपनी बीमाकर्ता द्वारा किए गए भुगतान के लिए कटौती नहीं ले सकती है।

कर विशेषज्ञों ने कहा कि जो कंपनियां सीधे रैनसमवेयर की मांग का भुगतान करती हैं, वे कटौती का दावा करने के अपने अधिकारों के भीतर हैं। कर कटौती योग्य होने के लिए व्यवसायों के खर्चों को सामान्य और आवश्यक माना जाना चाहिए। विशेषज्ञों का कहना है कि रैंसमवेयर भुगतान आमतौर पर मान्य भी होते हैं।

टफ्ट्स विश्वविद्यालय के फ्लेचर स्कूल में साइबर सुरक्षा नीति के प्रोफेसर जोसेफिन वोल्फ ने कहा कि हम उस साइबर फिरौती भुगतान को जितना सस्ता बनाते हैं, उतना ही अधिक प्रोत्साहन हम कंपनियों को भुगतान करने के लिए करते हैं। जितना अधिक प्रोत्साहन हम कंपनियों को भुगतान के लिए करते हैं, उतना ही अधिक प्रोत्साहन हम अपराधियों को अपराध जारी रखने के लिए बना रहे हैं।

वर्षों से रैंसमवेयर एक प्रमुख राष्ट्रीय खतरे की तुलना में एक आर्थिक उपद्रव से अधिक था। लेकिन अमेरिकी कानून प्रवर्तन की पहुंच से बाहर विदेशी साइबर गिरोहों बड़े हमले करके खुद को पहले पन्नों पर डाल दिया है। इस मामले में जवाब देते हुए शीर्ष अमेरिकी कानून प्रवर्तन अधिकारियों ने कंपनियों से रैंसमवेयर मांगों को पूरा नहीं करने का आग्रह किया है।

यूएस सीक्रेट सर्विस में विशेष एजेंट प्रभारी के सहायक स्टीफन निक्स ने साइबर सुरक्षा पर हाल ही में एक शिखर सम्मेलन में कहा, 'हम इस नाव में हैं क्योंकि पिछले कई वर्षों में लोगों ने फिरौती का भुगतान किया है। अधिकारियों ने चेतावनी दी है कि भुगतान से अधिक रैंसमवेयर हमले होते हैं।

कांग्रेस की ऑडिटिंग कार्यालय की एक नई रिपोर्ट के अनुसार, 2016 से 2019 तक सक्रिय साइबर बीमा पॉलिसियों की संख्या 2.2 मिलियन से बढ़कर 3.6 मिलियन हो गई जो 60 प्रतिशत की वृद्धि है। इससे जुड़े बीमा प्रीमियम में 50 प्रतिशत की वृद्धि हुई, जो 2.1 अरब अमेरिकी डॉलर से बढ़कर 3.1 अरब अमेरिकी डॉलर हो गई।

बिडेन प्रशासन ने हाई-प्रोफाइल साइबर घुसपैठ की एक श्रृंखला के मद्देनजर रैनसमवेयर पर अंकुश लगाने को प्राथमिकता देने का वादा किया है और कहा है कि रैंसमवेयर से संबंधित अमेरिकी सरकार की नीतियों की समीक्षा कर रहा है। इसने इस बारे में कोई विवरण नहीं दिया है कि यदि कोई परिवर्तन होता है, तो वह रैंसमवेयर की कर-कटौती से संबंधित हो सकता है। आईआरएस के प्रवक्ता रॉबिन वाकर ने कहा, "आईआरएस इसके बारे में जानता है और इसे देख रहा है।

 

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.