बाइडन ने लगाए गंभीर आरोप, कहा- अमेरिकी संसदीय व सूबाई चुनावों में खलल डाल रहे पुतिन

बाइडन ने ये बात आफिस आफ अमेरिकी डायरेक्टर आफ नेशनल इंटेलीजेंस (ओडीएनआइ) के कार्यालय में नियमित ब्रीफिंग के दौरान कही। उन्होंने कहा कि देखिए रूस किस तरह से मध्यावधि चुनाव को प्रभावित करने की कोशिश कर रहा है।

Neel RajputWed, 28 Jul 2021 03:41 PM (IST)
साइबर हमलों के लिए भी पुतिन को सीधे-सीधे जिम्मेदार ठहराया

वाशिंगटन, एएनआइ। अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन ने रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन पर गंभीर आरोप लगाए हैं। बाइडन ने कहा है कि पुतिन भ्रामक सूचनाएं फैलाकर 2022 में अमेरिकी प्रतिनिधि सभा और राज्यों के होने जा रहे चुनावों में खलल डालने की कोशिश कर रहे हैं।

उन्होंने कहा कि पुतिन ही वास्तविक समस्याओं की जड़ में हैं। वह एक ऐसी अर्थव्यस्था के सर्वोच्च पद पर बैठे हैं, जिनके पास परमाणु शक्ति के अलावा कुछ भी नहीं है। पुतिन जानते हैं कि वह गंभीर समस्याओं से घिरे हुए हैं। यही स्थिति उनको और खतरनाक बना रही है।

बाइडन ने हाल ही में रैंसमवेयर के हमलों पर भी चिंता जताई। इन हमलों में साइबर अपराधियों ने डाटा चुराए और उनके लिए मोटी रकम फिरौती में मांगी।

बाइडन ने ये बात आफिस आफ अमेरिकी डायरेक्टर आफ नेशनल इंटेलीजेंस (ओडीएनआइ) के कार्यालय में नियमित ब्रीफिंग के दौरान कही। उन्होंने कहा कि देखिए रूस किस तरह से मध्यावधि चुनाव को प्रभावित करने की कोशिश कर रहा है। वह गलत और भ्रामक सूचनाओं का प्रसारण कर रहा है।

अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा कि यह मास्को का सीधे तौर पर हमारी संप्रभुता पर हमला है। उत्तरी वर्जीनिया के ओडीएनआइ के मुख्यालय में हुई इस बैठक में यूएस इंटेलीजेंस कमेटी के 120 प्रतिनिधि मौजूद थे।

उल्लेखनीय है कि 2022 में प्रतिनिधि सभा की सभी 435 सीटों, सीनेट की खाली होने जा रही 34 सीटों और 36 राज्यों में चुनाव होने जा रहे हैं।

यह भी पढ़ें : नए सीएम बोम्मई ने अधिकारियों के साथ मीटिंग कर बताया अपना एजेंडा, विधवा, वृद्ध और दिव्यांगों के लिए बड़े एलान

यह भी पढ़ें : पीएम मोदी ने की अपील, कोरोना वैक्सीन के प्रति झिझक दूर करने में मदद करें धार्मिक नेता

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.