अमेरिका के चार प्रांतों में मिले एक दिन में रिकॉर्ड कोरोना मरीज, संक्रमितों की संख्‍या 72 लाख के पार

अमेरिका में संक्रमितों की संख्‍या 72 लाख को पार कर गई है...
Publish Date:Sat, 26 Sep 2020 08:46 PM (IST) Author: Krishna Bihari Singh

वाशिंगटन, एजेंसियां। अमेरिका में कोरोना महामारी का कहर जारी है। इस देश के विस्कांसिन समेत चार प्रांतों में एक दिन में रिकॉर्ड संक्रमित पाए गए हैं। देशभर में अब तक 72 लाख से ज्यादा कोरोना पीडि़त मिल चुके हैं। दुनिया के कुल मामलों का यह 20 फीसद से ज्यादा हिस्सा है। यहां कुल तकरीबन दो लाख आठ हजार पीडि़तों की मौत हुई है। समाचार एजेंसी रायटर के डाटा के अनुसार, अमेरिका में इस समय रोजाना औसतन 44 हजार नए कोरोना रोगी पाए जा रहे हैं।

हर रोज हो रही 700 मौतें

प्रतिदिन करीब 700 पीडि़तों की जान जा रही है। इस बीच, विस्कांसिन मेंे शुक्रवार को रिकॉर्ड 2,629 पॉजिटिव मामले पाए गए। मिनेसोटा, ओरेगन और उटाह में भी बीते 24 घंटे में रिकॉर्ड संख्या में नए मरीज बढ़ गए। इस हफ्ते के प्रारंभ में विस्कांसिन के गवर्नर ने प्रांत में हेल्थ इमरजेंसी घोषित करने के साथ ही नवंबर तक के लिए मास्क पहनना अनिवार्य कर दिया था।

मध्य-पश्चिमी अमेरिकी प्रांतों में संक्रमण में तेजी

इधर, मध्य-पश्चिमी अमेरिकी प्रांतों में इस महीने संक्रमण में तेजी आई है। इस क्षेत्र के ओहियो को छोड़ बाकी सभी प्रांतों में पिछले चार हफ्तों के दौरान सबसे ज्यादा संक्रमित पाए गए हैं। मोंटाना और साउथ डकोटा में गुरुवार को सबसे ज्यादा संक्रमित पाए गए थे।

इंग्लैंड के 92 इलाके निगरानी सूची में

ब्रिटिश सरकार ने लंदन समेत इंग्लैंड के 92 इलाकों को निगरानी सूची में डाल दिया है। इन इलाकों में संक्रमण में उछाल दर्ज किया जा रहा है। इस बीच, लंदन के मेयर सादिक खान ने प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन से बात की और शहर में पाबंदियों को सख्ती से लागू किए जाने की मांग की। इधर, ब्रिटेन में बीते 24 घंटे के दौरान रिकॉर्ड 6,874 नए मामले पाए गए।

फ्रांस में पीडि़तों का आंकड़ा पांच लाख पार

फ्रांस में कोरोना पीडि़तों का आंकड़ा पांच लाख के पार पहुंच गया है। इस यूरोपीय देश के स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि शुक्रवार को 15 हजार 797 नए मामले मिलने से पीडि़तों की कुल संख्या पांच लाख 13 हजार से ज्यादा हो गई है। देश में महज दो हफ्तों में करीब डेढ़ लाख संक्रमित पाए गए हैं। अब तक 31 हजार से अधिक रोगियों की मौत हुई है। 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.