Howdy Modi: कार्यक्रम में पहुंचने लगे भारतीय समुदाय के लोग, मोदी को बता रहे प्रेरणास्त्रोत

ह्यूस्‍टन, एजेंसी। प्रधानमंत्री मोदी रविवार को अमेरिकी राज्य टेक्सॉस के सबसे बड़े शहर ह्यूस्टन पहुंच गए। पीएम मोदी का विमान ह्यूस्टन के जॉर्ज बुश इंटरनेेशनल एयरपोर्ट पर उतरा। विमान से उतरने के दौरान अमेरिका में भारतीय राजदूत हर्षवर्धन श्रृंगला और भारत में अमेरिकी दूत केनेथ जस्टर तथा अन्य वरिष्ठ अधिकारियों ने प्रधानमंत्री की अगवानी की। हवाई अड्डे और होटल के प्रवेश द्वार पर लोग हाथों में भारत और अमेरिका का झंडा लेकर उनके स्वागत में खड़े दिखाई दिए। बाद में प्रधानमंत्री मोदी ने तेल क्षेत्र के सीईओ के साथ बैठक की। प्रधानमंत्री अमेरिका के एक हफ्ते के दौरे पर हैं, आज वह हाउडी मोदी कार्यक्रम में हिस्सा लेंगे।  

-अमेरिकाः ह्यूस्टन में 'हाउडी मोदी' कार्यक्रम के लिए एनआरजी स्टेडियम के बाहर भारतीय समुदाय के लोग पहुंचने शुरू। स्‍टेडियम के बाहर लोगों की भारी भीड़। लोग लगा रहे मोदी-मोदी के नारे। मोदी को देश-दुनिया के लिए बताया प्रेरणास्त्रोत।

USA: People start gathering outside NRG stadium in Houston, Texas, to attend #HowdyModi event, say, ''We are excited to see Modi, expect to hear from him, & get words of wisdom from him because he is an inspiration for the country and people around the globe.'' pic.twitter.com/GH7zFOcLRG

प‍ंडितों का बांटा दर्द

प्रधानमंत्री मोदी ने कश्‍मीरी प‍ंडितों के प्रतिनिधिमंडल से भी मुलाकात की। इस दौरान प्रतिनिधिमंडल के एक सदस्‍य ने प्रधानमंत्री मोदी का हाथ चूमते हुए कहा, 'सात लाख कश्‍मीरी प‍ंडितों की ओर से आपका धन्‍यवाद...' 

#WATCH: Prime Minister Narendra Modi interacts with members of Sikh community in Houston. During the interaction they congratulated PM Modi on some decisions taken by the Government of India. The community has also submitted a memorandum to the PM. #UnitedStates pic.twitter.com/uSBIgrEEfX

ग्लोबल कश्मीरी पंडित डायस्‍पोरा के राकेश कौल ने बताया कि मुलाकात के दौरान पीएम ने कहा कि कश्मीरी पंडितों का बहुत नुकसान हुआ है। प्रधानमंत्री मोदी के शब्द हमारे लिए अमृत थे। जब हमने अनुच्‍छेद-370 पर बात की तो उन्होंने कहा कि एक नई हवा है और हम एक नया कश्मीर बनाएंगे। हम सभी को प्रधानमंत्री मोदी से काफी उम्मीदें हैं, हम उनके साथ मिलकर काम करेंगे और कश्मीर को फिर से धरती का स्वर्ग बनाएंगे।

#WATCH United States: Prime Minister Narendra Modi joins in reciting 'Namaste Sharade Devi' shloka while the Kashmiri Pandits meeting and interacting with him also recite it, in Houston. pic.twitter.com/pXZdAuvEvG

सिख समुदाय के लोगों से मुलाकात

ऊर्जा क्षेत्र के सीईओ के साथ बैठक के बाद प्रधानमंत्री ने ह्यूस्‍टन में सिख समुदाय के लोगों से मुलाकात की। इस मुलाकात के दौरान सिख समुदाय के लोगों ने मोदी सरकार द्वारा उठाए गए कड़े कदमों की सराहना की और प्रधानमंत्री मोदी को एक ज्ञापन भी सौंपा। समुदाय के लोगों ने प्रधानमंत्री से आग्रह किया कि वे 1984 के सिख विरोधी दंगों पर लोगों को संबोधित करें। ज्ञापन में दिल्ली एयरपोर्ट को गुरु नानक देव अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे के तौर पर समर्पित करने की अपील की गई है। 

#WATCH Houston: A member of Sikh delegation which met PM Modi says "Memorandum was that we want Sikh religion should be considered a separate religion.We're with Modi ji. He's our tiger,he's a man who we call Iron Man.We're standing with him like Sikhs have always stood for India pic.twitter.com/VfIEkJofnv

सिख प्रतिनिधिमंडल के एक सदस्‍य ने कहा कि हम सिख धर्म को अलग धर्म के रूप में स्‍थान देने की मांग कर रहे हैं। हम सभी सिख समुदाय के लोग मोदी जी के साथ हैं। वह हमारे टाइगर है। वह ऐस शख्‍स हैं जिन्‍हें हम आइरन मैन कहते हैं। हम प्रधानमंत्री मोदी के साथ खड़े हैं। हम भारत के साथ खड़े हैं। 

बोहरा समुदाय के लोगों से मुलाकात

#WATCH United States: Members of Bohra community meet and interact with Prime Minister Narendra Modi, in Houston. They also felicitated the Prime Minister. pic.twitter.com/KjKrgcSnRx

प्रधानमंत्री मोदी ने बोहरा समुदाय के लोगों से मुलाकात की। समुदाय के लोगों ने पीएम मोदी को शाल भेंट की और उनके कार्यों को सराहा। 

आज इन कार्यक्रमों पर नजरें 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज शाम को हाउडी मोदी कार्यक्रम में शिरकत करेंगे। इस कार्यक्रम का आयोजन गैर लाभकारी संगठन टेक्सास इंडिया फोरम ने किया है। कार्यक्रम में 48 राज्यों से करीब 50 हजार लोग शामिल हो रहे हैं। कार्यक्रम में अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप भी शिरकत करेंगे। प्रधानमंत्री मोदी 50 किलोवाट क्षमता के गांधी सोलर पार्क का भी लोकार्पण करेंगे। 

यह स्टेडियम बनेगा गवाह

‘हाउडी मोदी’ ह्यूस्टन के एनआरजी स्टेडियम में होने वाला है। इसकी गिनती अमेरिका के सबसे बड़े स्टेडियमों में होती है। इसमें 70 हजार लोगों के बैठने की क्षमता है।

शाम 4.30 बजे शुरू होगा प्रवेश

भारतीय समयानुसार एनआरजी स्टेडियम में रविवार को शाम साढ़े चार बजे से साढ़े सात बजे के दौरान लोगों को प्रवेश दिया जाएगा। इसके बाद सांस्कृतिक कार्यक्रम शुरू हो जाएंगे। ये कार्यक्रम रात साढ़े आठ बजे तक चलेंगे। कार्यक्रम का समापन रात साढ़े दस बजे होगा।

400 कलाकार देंगे प्रस्तुतियां 

‘हाउडी मोदी’ में भारत की सांस्कृतिक विविधता की झलक देखने को मिलेगी। करीब 400 कलाकार सांस्कृतिक कार्यकम प्रस्तुत करेंगे। 

हिंदी-अंग्रेजी में प्रसारण

‘हाउडी मोदी’ मेगा शो का सजीव प्रसारण हिंदी, अंग्रेजी और स्पेनिश भाषाओं में किया जाएगा। एनआरजी स्टेडियम में तैयारियों को अंतिम रूप दिया जा चुका है। इस काम में 1500 से ज्यादा वालंटियर लगे थे। 

निकाली गई कार रैली, लगे ‘नमो अगेन’ के नारे

ह्यूस्टन के एनआरजी स्टेडियम के आसपास के इलाकों में शुक्रवार को एक कार रैली निकाली गई। इसमें 200 से ज्यादा कारें शामिल हुई थीं। कार सवारों ने भारत और अमेरिका के बीच मजबूत दोस्ती को दर्शाने के लिए दोनों देशों के झंडे लहराए। कार्यक्रम स्थल पर बड़ी संख्या में आयोजक और वालंटियर ‘नमो अगेन’ वाली टी-शर्ट पहने नजर आए। उन्होंने ‘नमो अगेन’ के नारे लगाए।

अमेरिका में किसी विदेशी नेता का सबसे बड़ा कार्यक्रम  

अमेरिका में किसी विदेशी नेता के सम्मान में आयोजित यह सबसे बड़ा कार्यक्रम माना जा रहा है। ‘हाउडी मोदी’ के आयोजक टेक्सास इंडिया फोरम (टीआइएफ) के मुताबिक, ‘यह कार्यक्रम भारत और अमेरिका की एकता और संस्कृति का ऐसा भव्य उत्सव है, जहां उपस्थित लोग दोनों देशों के प्रगाढ़ होते संबंधों पर पीएम मोदी की बातों को सुनेंगे। ऐसा पहली बार हो रहा है, जब दुनिया के दो सबसे बड़े लोकतंत्र के नेता एक मंच पर दिखने जा रहे हैं, जहां वे अपनी मजबूत हो रही दोस्ती का इजहार करेंगे।’  

ह्यूस्टन के बाद न्यूयार्क होंगे रवाना 

ह्यूस्टन के बाद मोदी न्यूयार्क जाएंगे। वह मंगलवार को न्यूयार्क में अमेरिकी राष्‍ट्रपति ट्रंप से मिलेंगे। इस बैठक में आगामी वर्षों के लिए दोनों देशों के द्विपक्षीय संबंधों की दिशा तय होने की संभावना जताई जा रही है। 

ऊर्जा क्षेत्र में बड़ी डील

ह्यूस्टन के होटल पोस्ट ओक में हुई ऊर्जा क्षेत्र के सीईओ के साथ बैठक में टेल्यूरियन और पेट्रोनेट के साथ लिक्विफाइड नेचुरल गैस (एलएनजी) के लिए मेमोरैंडम ऑफ अंडरस्टैंडिंग (एमओयू) पर हस्ताक्षर किए गए। पांच मिलियन टन एलएनजी के लिए एमओयू साइन किया गया। टेल्यूरियन और पेट्रोनेट ने इसके लिए ट्रैन्जैक्शन एग्रीमेंट को मार्च 2020 तक अंतिम रूप देने का लक्ष्य निर्धारित किया है। बता दें कि टेल्यूरियन ने फरवरी में पेट्रोनेट एलएनजी लिमिटेड इंडिया (पीएलएल) के साथ एमओयू साइन करके पीएलएल ड्रिफ्टवुड परियोजना में निवेश की संभावनाएं तलाशने का एलान किया था। 

यह भी पढ़ें- जानिए क्या है Howdy Modi और क्या है इसका मकसद, जिसपर है पूरी दुनिया की नजर

1952 से 2019 तक इन राज्यों के विधानसभा चुनाव की हर जानकारी के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.