PM Modi US Visit Update : जापानी प्रधानमंत्री से बैठक के बाद मोदी ने कहा- मजबूत भारत-जापान संबंध पूरी दुनिया के लिए सुखद

PM Modi US Visit व्यापक वैश्विक रणनीति के लिए गुरुवार को अमेरिका पहुंचे नरेंद्र मोदी ने जापान के प्रधानमंत्री योशिहिदे सुगा से मुलाकात की। इससे पहले उन्होंने प्रमुख अमेरिकी कंपनियों के सीईओ व आस्ट्रेलियाई पीएम और उपराष्ट्रपति कमला हैरिस से भी मुलाकात की।

Monika MinalThu, 23 Sep 2021 11:13 PM (IST)
प्रधानमंत्री मोदी ने की जापानी प्रधानमंत्री सुगा से मुलाकात

वाशिंगटन, एजेंसी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को जापान के प्रधानमंत्री योशिहिदे सुगा से मुलाकात की। दोनों देशों के प्रमुखों ने आपसी द्विपक्षीय संबंधों को बेहतर बनाने को लेकर विभिन्न मुद्दों पर चर्चा की। इससे पहले अप्रैल में मोदी और सुगा के बीच फोन पर बात हुई थी। मुलाकात को लेकर विदेश मंत्रालय ने बताया, 'इतिहास में जापान के साथ भारत की एक विशेष रणनीतिक और वैश्विक साझेदारी निहित है जो समान मूल्यों पर आधारित है। आज प्रधानमंत्री मोदी ने वाशिंगटन डीसी में जापान के प्रधानमंत्री योशीहिदे सुगा से इंडो-पैसिफिक, क्षेत्रीय विकास, व्यापार, डिजिटल अर्थव्यवस्था आदि विषयों पर चर्चा की।

जापान और आस्ट्रेलिया भी क्‍वाड ग्रुप का हिस्सा हैं। भारत और अमेरिका भी क्‍वाड में शामिल हैं। अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन के निमंत्रण पर पीएम नरेंद्र मोदी 23 से 25 सितंबर तक अमेरिका के दौरे पर हैं। उनकी मुलाकात जो बाइडन के साथ भी होगी।  विदेश सचिव हर्षवर्धन श्रृंगला ने अमेरिका में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पहले दिन का विवरण दिया।

कमला हैरिस को भारत आने का निमंत्रण

प्रधानमंत्री  मोदी व भारतीय प्रतिनिधिमंडल की अमेरिका की उप-राष्ट्रपति कमला हैरिस और अमेरिकी प्रतिनिधिमंडल के साथ आइजनहावर एग्जीक्यूटिव ऑफिस बिल्डिंग में बैठक हुई। प्रधानमंत्री मोदी और कमला हैरिस ने हाल के वैश्विक और क्षेत्रीय विकास पर चर्चा की। साथ ही उभरती हुई टेक्नोलाजीज , स्वास्थ्य, शिक्षा और व्यक्तिगत संबंधों के संबध में द्विपक्षीय साझेदारी पर भी चर्चा की गई। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उपराष्ट्रपति कमला हैरिस को भारत आने का निमंत्रण दिया वहीं कमला हैरिस ने भारत में जारी कोरोना वैक्सीनेशन अभियान की सराहना की। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमेरिकी उपराष्ट्रपति कमला हैरिस के बीच व्हाइट हाउस परिसर में भी बातचीत हुई।

मोदी-हैरिस का संयुक्त बयान  

उपराष्ट्रपति हैरिस ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का अमेरिका में स्वागत किया और कहा, 'माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी आपका वाशिंगटन डीसी में स्वागत करना मेरे लिए बहुत बड़े गर्व की बात है। इतिहास गवाह है कि जब भी हम दोनों देश एक दूसरे के साथ खड़े हुए हैं, दोनों देशों ने खुद को ज्यादा सुरक्षित, मज़दूत और समृद्ध समझा है।' हैरिस ने भारत में कोरोना वैक्सीनेशन की सराहना की और कहा, 'भारत वैक्सीनेशन के लिए दूसरे देशों के लिए महत्वपूर्ण स्त्रोत रहा है और जल्द ही वैक्सीन निर्यात फिर से शुरू करने वाला है, मैं इसका स्वागत करती हूं। वहां हर दिन 1 करोड़ लोगों को वैक्सीन लगाई जा रही है, जो बहुत ही प्रभावशाली कदम है।'

प्रधानमंत्री मोदी ने स्वागत के लिए आभार व्यक्त किया और कहा, 'गर्मजोशी से मेरा और मेरे प्रतिनिधिमंडल के स्वागत के लिए आपका आभारी हूं। कुछ महीने पहले टेलीफोन से आपसे विस्तार से बात करने का मौका मिला था। वो समय था जब भारत कोविड की दूसरी लहर से बहुत पीड़ित था। उस समय आप ने जिस तरह से आत्मीयता से भारत की चिंता की, सहायता के लिए जो कदम बढ़ाए उसके लिए मैं एक बार फिर आपका आभार व्यक्त करता हूं।' प्रधानमंत्री मोदी ने हैरिस से कहा, 'आपकी विजय यात्रा ऐतिहासिक है। भारत के लोग भी चाहेंगे कि भारत में आपकी इस एतिहासिक विजय यात्रा को सम्मानित करें, आपका स्वागत करें, इसलिए मैं आपको विशेष रूप से भारत आने का निमंत्रण देता हूं।'

आस्ट्रेलियाई प्रधानमंत्री के साथ द्विपक्षीय बैठक 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने गुरुवार को अपने आस्ट्रेलियाई समकक्ष स्काट मारिसन (Scott Morrison) के साथ द्विपक्षीय बैठक की। इस बैठक में दोनों देशों के बीच कई मुद्दों पर चर्चा हुई। बैठक में प्रधानमंत्री मोदी के साथ विदेश मंत्री एस जयशंकर व राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल भी मौजूद रहे। यह बैठक वाशिंगटन डीसी के होटल विलार्ड इंटरकान्टिनेंटल में आयोजित की गई। 

व्यापक रणनीतिक साझेदारी का एक और अध्याय- विदेश मंत्रालय

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और आस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री स्काट मारिसन के बीच दोनों देशों के बीच आर्थिक संबंधों को बढ़ावा देने के साथ-साथ व्यक्तिगत संबंधों को बेहतर करने के लिए कई विषयों पर चर्चा की गई। विदेश मंत्रालय ने दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय बैठक को लेकर कहा, 'आस्ट्रेलिया के साथ हमारी व्यापक रणनीतिक साझेदारी का एक और अध्याय है। इस बैठक में क्षेत्रीय और वैश्विक विकास के साथ-साथ कोविड -19, व्यापार, रक्षा, स्वच्छ ऊर्जा आदि से संबंधित क्षेत्रों में चल रहे द्विपक्षीय सहयोग पर बातचीत हुई।'

PMO ने इस मुलाकात को लेकर ट्वीट में कहा है, 'आस्ट्रेलिया के साथ दोस्ती के संबंध को बढ़ाने की दिशा में कदम। प्रधानमंत्री स्काट मारिसन के साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वार्ता की। इस दौरान दोनों देशों के बीच व्यापक मुद्दों पर चर्चा की गई।'  

जापान और आस्ट्रेलिया भी क्‍वाड ग्रुप का हिस्सा हैं। भारत और अमेरिका भी क्‍वाड में शामिल हैं। अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन के निमंत्रण पर पीएम नरेंद्र मोदी 23 से 25 सितंबर तक अमेरिका के दौरे पर हैं। उनकी मुलाकात जो बाइडन के साथ भी होगी।

पांच ग्लोबल कंपनियों के सीईओ से मुलाकात

व्यापक वैश्विक रणनीति के लिए गुरुवार को अमेरिका पहुंचे नरेंद्र मोदी ने पहले दिन पांच क्षेत्रों की प्रमुख अमेरिकी कंपनियों के सीईओ से मुलाकात की। इनमें क्वालकाम, एडोब, फ‌र्स्ट सोलर, जनरल एटोमिक्स और ब्लैकस्टोन शामिल हैं। इनमें एडोब के सीईओ शांतनु नारायण और जनरल एटोमिक्स के सीईओ विवेक लाल भारतीय-अमेरिकी हैं। तीन अन्य सीईओ में क्वालकाम के क्रिस्टिआनो ई. एमोन, फ‌र्स्ट सोलर के मार्क विडमार और ब्लैकस्टोन के स्टीफन ए. स्वार्जमैन शामिल हैं। नारायण से मुलाकात भारत सरकार की सूचना प्रौद्योगिकी और डिजिटल क्षेत्र में प्राथमिकता को दर्शाती है।

कोरोना की दूसरी लहर के बाद पहली बार पीएम नरेंद्र मोदी की पहली बड़ी विदेश यात्रा है। इस दौरान पीएम मोदी 24 सितंबर को संयुक्‍त राष्‍ट्र महासभा को संबोधित करेंगे। पीएम मोदी गुरुवार सुबह भारतीय समयानुसार करीब साढ़े तीन बजे जब वाशिंगटन पहुंचे, तब वहां पर मौजूद भारतीय समुदाय के लोगों ने जोरदार स्वागत किया। पीएम मोदी ने सभी का शुक्रिया कहा। प्रधानमंत्री ने कहा कि दुनियाभर में प्रवासी भारतीयों ने जिस तरह अपनी विशिष्ट पहचान बनाई है, वह सराहनीय है। हमारे लोग हमारी ताकत हैं। 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.