कमला हैरिस बोलीं, उपराष्ट्रपति बनना गर्व की बात, पर मोमाला कहलाना ज्यादा पसंद है, जानें क्‍यों कहा ऐसा

कमला हैरिस बोलीं, उपराष्ट्रपति बनना गर्व की बात, पर 'मोमाला' कहलाना ज्यादा पसंद है, जानें क्‍यों कहा ऐसा

उपराष्ट्रपति पद की प्रत्याशी कमला हैरिस खुद को किसी रंग या देश से जोड़ने की बजाय अमेरिकी कहलाना पसंद करती हैं।

Publish Date:Fri, 14 Aug 2020 06:15 AM (IST) Author: Arun Kumar Singh

वाशिंगटन, प्रेट्र। उपराष्ट्रपति पद की प्रत्याशी कमला हैरिस ने कहा कि मेरे नाम के साथ उपराष्ट्रपति शब्द जुड़ना गर्व की बात होगी, लेकिन तब भी 'मोमाला' कहलाना उन्हें हमेशा ज्यादा प्रिय रहेगा।

हैरिस ने एक पत्रिका से साक्षात्कार में कहा, 'परिवार मेरे लिए भी सब कुछ है। दोनों बच्चे (सौतेले) मुझे मोमाला के नाम से पुकारते हैं। यह संबोधन मेरे लिए बहुत मायने रखता है।' हैरिस खुद को किसी रंग या देश से जोड़ने की बजाय अमेरिकी कहलाना पसंद करती हैं। हैरिस के मामा गोपालन बालाचंद्रन नई दिल्ली में रहते हैं। उनके मुताबिक, हैरिस को भारत पसंद है। उन्हें अमेरिकी खाना पसंद है तो दक्षिण भारतीय व्यंजन भी उतने ही प्रिय हैं। वह भारतीय संगीत भी भाता है।

यह भी जानें

-कमला हैरिस का जन्म 20 अक्टूबर 1964 में ऑकलैंड (कैलिफोर्निया) में हुआ था। उनका पूरा नाम कमला देवी हैरिस है।

-कमला के पिता डोनाल्ड हैरिस स्टेनफोर्ड यूनिवर्सिटी में अर्थशास्त्र के प्रोफेसर रहे हैं।

-मां श्यामला गोपालन स्तन कैंसर की विशेषज्ञ थीं, जिनका 2009 में निधन हो गया।

-कमला के नाना पीवी गोपालन प्रख्यात सिविल सर्वेट एवं स्वतंत्रता सेनानी थे।

-बचपन में कमला चेन्नई स्थित बसंत नगर आ चुकी हैं, जहां उनके नाना रहते थे।

-बचपन में वह नाना के साथ समुद्र तट पर टहला करती थीं। बकौल कमला, 'तब मैं समझदार नहीं थी, लेकिन उन दिनों के प्रभाव ने मुझे वह बनाया, जो आज मैं हूं।'

-माता-पिता के तलाक के बाद हैरिस का लालन-पालन उनकी मां श्यामला ने किया।

-कमला ने वाशिंगटन डीसी में वेस्टमाउंट हाईस्कूल से पढ़ाई की। वह स्टूडेंट काउंसिल में भी चुनी गई थीं।

-हार्वर्ड यूनिवर्सिटी से 1986 में ग्रेजुएशन और 1989 में हेस्टिंग्स कॉलेज से लॉ की डिग्री ली।

-2014 में कमला की शादी वकील डगलस एमहॉफ से हुई। वह दो बच्चों कोल और एला की सौतेली मां हैं।

-एमहॉफ और कमला की मुलाकात अचानक हुई थी। इसके बाद एमहॉफ ने पत्नी को तलाक दे दिया था।

-हैरिस पहली भारतीय-अमेरिकी हैं, जो 2016 में अमेरिका में सीनेटर बनीं।

-वह 2011 से 2016 तक कैलिफोर्निया की अटार्नी जनरल भी रहीं।

-हैरिस ने तीन किताबें भी लिखी हैं। इनके नाम हैं-स्मार्ट ऑन क्राइम, द ट्रूथ्स वी होल्ड : एन अमेरिकन जर्नी और सुपरहीरोज आर एव्रीव्हेयर।

-कमला ने डेमोक्रेटिक पार्टी से राष्ट्रपति पद की भी दावेदारी की थी। लेकिन, उनका अभियान विवादों में घिर गया तो दिसंबर 2019 में उन्होंने अपना नाम वापस ले लिया था।

-कमला की भाषण शैली ने उन्हें पूरे अमेरिका में पहचान दिलाई। पार्टी में उन्हें राइजिंग स्टार कहा जाने लगा था।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.