US Inauguration Day 2021: हिंसा की आशंकाओं के बीच बाइडन और कमला हैरिस आज लेंगे शपथ

नवनिर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडन और उपराष्ट्रपति कमला हैरिस की फाइल फोटो

US Inauguration Day 2021 अमेरिकी संसद भवन के इर्द गिर्द के इलाके पेंसिलवेनिया एवेन्यू और व्हाइट हाउस के आसपास का बड़ा हिस्सा आम जनता के लिए बंद कर दिया गया है तथा इन स्थानों पर आठ फुट ऊंचे अवरोधक लगाए गए हैं। पूरा शहर हाई अलर्ट पर है।

Publish Date:Tue, 19 Jan 2021 08:58 PM (IST) Author: Dhyanendra Singh Chauhan

वाशिंगटन, एजेंसियां। ट्रंप समर्थकों की ओर से हिंसा की आशंकाओं के बीच नवनिर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडन और नवनिर्वाचित उपराष्ट्रपति कमला हैरिस बुधवार को शपथ लेंगे। किसी भी अप्रिय स्थिति से बचने के लिए पूरे वाशिंगटन डीसी को किले में तब्दील कर दिया गया है। अमेरिकी संसद की ओर जाने वाली सड़कों पर हजारों की तादाद में सुरक्षाकर्मी गश्त लगा रहे हैं। चेहरों को ढके हथियारबंद सुरक्षाकर्मी गाड़ियों की जांच कर रहे हैं और ट्रैफिक को भी रास्ता दिखा रहे हैं।

अमेरिकी संसद भवन के इर्द गिर्द के इलाके, पेंसिलवेनिया एवेन्यू, और व्हाइट हाउस के आसपास का बड़ा हिस्सा आम जनता के लिए बंद कर दिया गया है तथा इन स्थानों पर आठ फुट ऊंचे अवरोधक लगाए गए हैं। पूरा शहर हाई अलर्ट पर है।

शपथ समारोह में आम लोग नहीं बन सकेंगे गवाह

यूनाइटेड स्टेट मार्शल सर्विस ने वाशिंगटन डीसी में चार हजार अधिकारियों को तैनात करने का फैसला किया है। वहीं मेजेस्टिक नेशनल मॉल जहां पर शपथ ग्रहण समारोह के दौरान हजारों लोग मौजूद रहते हैं, उसे बंद कर दिया गया है। जिसके चलते आम लोग सत्ता हस्तांतरण के गवाह नहीं बन सकेंगे। पूर्व के शपथ ग्रहण समारोह को एक बड़ी स्क्रीन पर देखने के लिए नेशनल मॉल में लगभग एक लाख लोग एकत्र होते थे।

अभी तक नहीं मिला अंदरूनी खतरे का संकेत

कार्यवाहक रक्षा मंत्री क्रिस्टोफर मिलर ने बताया कि शपथ ग्रहण समारोह जैसे आयोजनों में 25 हजार से अधिक नेशनल गार्ड की तैनाती एक सामान्य बात है। हमें अभी तक किसी भी अंदरूनी खतरे का संकेत नहीं मिला है। हम अमेरिकी संसद की सुरक्षा में कोई कसर नहीं छोड़ेंगे।

बुधवार को होने वाले कार्यक्रम की खास जानकारी देते हुए वाशिंगटन डीसी के मेयर मुरियल बाउजर ने कहा कि हम भी नहीं चाहते हैं कि शहर में सैनिक और अवरोधक दिखाई दें, लेकिन कानून प्रवर्तन एजेंसियों के पास सुरक्षा बढ़ाने के अलावा कोई विकल्प नहीं था।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.