अमेरिका में निकोलस तूफान से भारी बारिश और बाढ़ का खतरा, लुइसियाना में इमरजेंसी घोषित

मेक्सिको से लुइसियाना के तटीय इलाकों में भारी बारिश तथा बाढ़ आने का अनुमान है। तूफान की गंभीरता को देखते हुए अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने लुइसियाना में इमरजेंसी घोषित कर दी है। तट के कुछ हिस्सों में 20 इंच तक बारिश का खतरा पैदा हो गया है।

Manish PandeyTue, 14 Sep 2021 02:32 PM (IST)
टेक्सास और लुसियाना में ट्रेन-बस और उड़ानें रोकी गईं।

ह्यूस्टन, रायटर। अमेरिका में निकोलस तूफान ने टेक्सास और लुइसियाना में मजबूती के साथ दस्तक दे दी है। यहां भारी बारिश शुरू होने के बाद तटीय क्षेत्रों में बाढ़ का खतरा पैदा हो गया है। तेज हवाओं के साथ समुद्र में तूफानी लहरें चल रही हैं। राष्ट्रीय मौसम विभाग ने निकोलस तूफान से टेक्सास से लेकर लुइसियाना और दक्षिण मिसीसिपी तक 10 से लेकर 20 इंच तक बारिश की आशंका जताई है। विभाग ने बाढ़ की चेतावनी भी जारी की है।

बाइडन ने लुइसियाना में इमरजेंसी घोषित की

नेशनल हरीकेन सेंटर के अनुसार, निकोलस तूफान ने माटागार्डा में स्थानीय समय के अनुसार, रात 1 बजे दस्तक दी। तूफान के कारण 120 किमी. प्रतिघंटा की रफ्तार से हवाएं चलना शुरू हो गया। टेक्सास में तूफान के दस्तक देने के एक दिन बाद यह लुसियाना पहुंच जाएगा। अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने लुइसियाना में इमरजेंसी घोषित कर दी है।

टेक्सास और लुइसियाना के कई तटीय शहर चपेट में

व्हाइट हाउस ने जानकारी दी है कि प्रशासन ने नागरिकों तक सभी तरह की मदद पहुंचाने का निर्देश दिया है। टेक्सास के गवर्नर ग्रेग एबाट ने बताया कि तूफान का प्रसार धीमी गति से होगा और यह कई दिन तक रहेगा। बाढ़ से निपटने के लिए हेलीकाप्टर और मोटरबोट तैनात कर दी गई हैं।

ट्रेन-बस और उड़ानें रोकी गईं, स्कूल-कालेज हुए बंद

हाल ही के हफ्तों में इस क्षेत्र में यह दूसरा तूफान है। इससे पहले यहां आइडा तूफान ने कहर बरपाया था, जिसमें कई लोगों की मौत हो गई थी। ह्यूस्टन के मेयर सिल्वेस्टर टर्नर ने बताया कि भारी बारिश को देखते हुए जनता से सड़कों और राजमार्ग पर जाने से बचने को कहा गया है। हम नहीं जानते हैं कि तूफान के कारण कितनी बारिश होने वाली है। ह्यूस्टन में स्कूल-कालेज बंद कर दिए गए हैं। उड़ानें, बस और ट्रेन सेवा भी रोक दी गई हैं। ह्यूस्टन में 2017 में हार्वे तूफान ने जबर्दस्त तबाही मचाई थी, जिसमें सौ से ज्यादा लोग मारे गए थे।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.