Howdy Modi: ह्यूस्टन में इकट्ठा होंगे बलूच, सिंधी और पश्तो समूह, मोदी-ट्रम्प से मांगेंगे मदद

ह्यूस्टन, प्रेट्र। आज ह्यूस्टन में पीएम मोदी और ट्रंप हाउडी मोदी कार्यक्रम में 50 हजार से अधिक भारतीयों को संबोधित करेंगे। एक तरफ जहां ह्यूस्टन के एनआरजी स्टेडियम के अंदर यह कार्यक्रम चल रहा होगा तो दूसरी ओर स्टेडियम के सामने पाकिस्तान सिंधी, बलूच और पश्तो समूह के प्रतिनिधि इकट्ठा होंगे। यह सभी पाकिस्तान से अपनी आजादी की लंबी समय से मांग कर रहे हैं और यहां ह्यूस्टन में यह सभी मोदी और ट्रंप से इस मामले पर मदद मांगने की कोशिश करेंगे।

फिलहाल सिंधी, बलूच और पश्तो समूहों के प्रतिनिधि ह्यूस्टन में ही एकत्रित हुए हैं और मोदी, ट्रंप के आने का इंतजार कर रहे हैं। बलूच अमेरिकी, सिंधी अमेरिकी और पश्तो अमेरिकी समुदायों के करोड़ों सदस्य शनिवार को अमेरिका के विभिन्न हिस्सों में अप्रदर्शन का आयोजन करने के लिए ह्यूस्टन में उतरे, जिसमें वे सामूहिक रूप से मोदी और ट्रंप से आग्रह करेंगे कि वह उन्हें पाकिस्तान से आजादी दिलाने में मदद करें।

#WATCH US: Sindhi activist, Zafar, speaks of human rights violations by Pak. Says "Sindhi people have come here in Houston with a message. When Modi ji passes through here in morning we'll be here with our message that we want freedom. We hope Modi ji & President Trump helps us." pic.twitter.com/kJJWMyucWD

सिंधी कार्यकर्ता ज़फर, ने पाकिस्तान द्वारा मानवाधिकारों के उल्लंघन की बात की। सिंधी लोग एक संदेश के साथ ह्यूस्टन में यहां आए हैं। जब मोदी जी सुबह यहां से गुजरते हैं तो हम अपने संदेश के साथ यहां आएंगे कि हम स्वतंत्रता चाहते हैं। हमें उम्मीद है कि मोदी जी और राष्ट्रपति ट्रम्प हमारी मदद करते हैं।

पाकिस्तान से आजादी के लिए मांगेग मदद

बलूच नेशनल मूवमेंट के अमेरिकी प्रतिनिधि नबी बक्शा बलूच ने कहा, 'हमें पाकिस्तान से आजादी चाहि। भारत और अमेरिका को हमारी उसी तरह से मदद करनी चाहिए, जैसे 1971 में भारत ने बांग्लादेश के लोगों की मदद की थी।'

उन्होंने कहा कि हम यहां प्रधानमंत्री मोदी और राष्ट्रपति ट्रंप से अनुरोध करेंगे कि वे हमारा समर्थन करें। पाकिस्तानी सरकार द्वारा बलूच लोगों के खिलाफ मानवाधिकारों का घोर उल्लंघन किया गया है।

इस बीच शनिवार को 100 से अधिक सिंधी अमेरिकी ह्यूस्टन पहुंचे। वे एनआरजी स्टेडियम के बाहर इकट्ठा होने की योजना बना रहे हैं, जहां रविवार को 'हाउडी मोदी' कार्यक्रम होने वाला है, इस उम्मीद के साथ कि उनके पोस्टर और स्वतंत्रता के बैनर मोदी और ट्रम्प का ध्यान आकर्षित करेंगे।

1952 से 2019 तक इन राज्यों के विधानसभा चुनाव की हर जानकारी के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.