Firing at the FedEx Company Campus: गोलीबारी में चार सिखों की भी गई थी जान, हमलावर ने खुद को गोली मारी

अमेरिका में हुई गोलीबारी में चार सिखों की भी गई थी जान। फाइल फोटो।

अमेरिका में फेडएक्स कंपनी के परिसर में गोलीबारी की घटना में सिख समुदाय के चार व्यक्तियों की भी जान गई थी। इसमें तीन अन्य लोग भी मारे गए थे। हमलावर की पहचान इंडियाना के 19 वर्षीय ब्रेंडन स्काट होल के रूप में की गई है

Ramesh MishraSat, 17 Apr 2021 04:11 PM (IST)

वाशिंगटन, एजेंसियां। अमेरिका के इंडियाना प्रांत में फेडएक्स कंपनी के परिसर में गोलीबारी की घटना में सिख समुदाय के चार व्यक्तियों की भी जान गई थी। इसके अलावा तीन अन्य लोग भी मारे गए और पांच लोग घायल हो गए थे। बंदूकधारी हमलावर की पहचान इंडियाना के 19 वर्षीय ब्रेंडन स्काट होल के रूप में की गई है, जिसने इंडियानापोलिस में स्थित फेडएक्स कंपनी के परिसर में गोलीबारी करने के बाद कथित तौर पर खुद को गोली मार ली। गोलीबारी की इस घटना पर पीड़ि‍त परिवारों ने गुस्सा, भय और चिंता का इजहार किया है।

परिसर में कार्यरत 90 प्रतिशत से अधिक कर्मचारी भारतीय मूल के

डिलीवरी सेवा प्रदाता कंपनी के इस परिसर में कार्यरत 90 प्रतिशत से अधिक कर्मचारी भारतीय मूल के अमेरिकी नागरिक बताए जाते हैं, जिनमें ज्यादातर सिख समुदाय के हैं। सिख समुदाय के नेता गुरिंदर सिंह खालसा ने फेडएक्स परिसर के कर्मचारियों के परिजनों से मुलाकात करने के बाद कहा, यह बेहद दुखद है। इस त्रासद घटना से सिख समुदाय आहत है।शुक्रवार देर रात, मेरियन काउंटी कोरोनर कार्यालय और इंडियानापोलिस मेट्रोपोलिटन पुलिस विभाग (आइएमपीडी) ने मृतकों के नाम की जानकारी दी। इनमें अमरजीत जोहल, जसविंदर कौर, अमरजीत और जसविंदर सिंह शामिल हैं। इनमें शुरू के तीन नाम महिलाओं के हैं।

पुलिस के आने से पहले हमलावर ने खुद को गोली मार ली

आइएमपीडी ने कहा कि कोरोनर का कार्यालय घटना के कारणों का पता लगाएगा। इसने कहा कि सिख समुदाय के एक अन्य व्यक्ति हरप्रीत सिंह गिल को आंख के पास गोली लगी और अभी वह अस्पताल में है। बताया जा रहा है कि घटनास्थल पर पुलिस के आने से पहले हमलावर ने खुद को गोली मार ली। फेडएक्स ने इसकी पुष्टि की है कि उक्त हमलावर इंडियानापोलिस में कंपनी का पूर्व कर्मचारी था। आगे की जानकारी की प्रतीक्षा की जा रही है।

राष्ट्रपति और उपराष्ट्रपति ने जताया शोक

अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन और उपराष्ट्रपति कमला हैरिस ने इस त्रासद घटना पर शोक व्यक्त किया है। बाइडन ने एक वक्तव्य में कहा, होमलैंड सिक्योरिटी की टीम द्वारा उपराष्ट्रपति हैरिस और मुझे इंडियानापोलिस में हुई गोलीबारी की घटना की जानकारी दी गई है। बाइडन ने मृतकों के सम्मान में व्हाइट हाउस तथा अन्य संघीय इमारतों में राष्ट्रीय ध्वज आधा फहराने का आदेश दिया है। उपराष्ट्रपति कमला हैरिस ने संवाददाताओं से कहा, हमारे देश में ऐसे परिवार हैं जो हिंसा के कारण अपने परिजनों को खो चुके हैं। बेशक इस हिंसा का अंत होना चाहिए। हम उन परिवारों के प्रति चिंतित हैं जिन्होंने अपने प्रियजनों को खोया है।

योशिहिदे सुगा ने भी संवेदना जताई

अमेरिका के दौरे पर आए जापान के प्रधानमंत्री योशिहिदे सुगा ने व्हाइट हाउस में बैठक की शुरुआत में मृतकों के परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त की। उन्होंने कहा, निर्दोष नागरिकों को ऐसी हिंसा का शिकार नहीं होना चाहिए। स्वतंत्रता, लोकतंत्र, मानवाधिकार और कानून का राज वैश्विक मूल्य हैं जो हमें जोड़ते हैं और हिंद-प्रशांत क्षेत्र में कायम हैं। 

सिख समुदाय ने की कड़े कदम उठाने की मांग

सिख समुदाय के नेता गुरिंदर सिंह खालसा ने कहा कि समुदाय के नेता अधिकारियों के संपर्क में हैं। उन्होंने कहा, 9/11 के बाद से सिख समुदाय ने बहुत कुछ झेला है। अब वह समय आ गया है जब इस प्रकार की गोलीबारी की घटनाओं को रोकने के लिए कड़े कदम उठाए जाएं। अब बहुत हो चुका। इंडियाना में सिख समुदाय के लगभग 10 हजार लोग रहते ह

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.