ट्रंप ने की बाइडन प्रशासन की आलोचना, कोरोना वायरस, सीमा सुरक्षा और ऊर्जा नीति का उठाया मुद्दा

उन्होंने कहा इसी महीने की शुरुआत में ओपेक+ देशों ने 2022 के अंत तक तेल उत्पादन में कटौती पर समझौते का विस्तार करने का फैसला किया था। अमेरिका ओपेक वार्ता में भाग नहीं लेता है लेकिन वाशिंगटन ने वार्ता के लिए समर्थन व्यक्त किया है।

Neel RajputSun, 25 Jul 2021 07:53 AM (IST)
ट्रंप ने कहा, कोरोना को रोकने के लिए बाइडन प्रशासन ने पर्याप्त कार्य नहीं किए

वाशिंगटन, एएनआइ। पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कोविड-19 प्रबंधन, वर्तमान ऊर्जा नीति और सीमा सुरक्षा समेत विभिन्न मुद्दों को लेकर बाइडन प्रशासन की आलोचना की है। शनिवार को एरिजोना के फीनिक्स में टर्निंग पॉइंट यूएसए स्टूडेंट एक्शन समिट में बोलते हुए, ट्रंप ने कहा कि बाइडन प्रशासन 'ओपेक और रूस के साथ बातचीत कर रहा है।' ट्रंप ने कहा, 'अब हम ऊर्जा स्वतंत्र नहीं हैं।'

उन्होंने कहा, इसी महीने की शुरुआत में ओपेक+ देशों ने 2022 के अंत तक तेल उत्पादन में कटौती पर समझौते का विस्तार करने का फैसला किया था। अमेरिका ओपेक वार्ता में भाग नहीं लेता है, लेकिन वाशिंगटन ने वार्ता के लिए समर्थन व्यक्त किया है।

इस दौरान ट्रंप ने नॉर्ड स्ट्रीम 2 गैस पाइपलाइन परियोजना को आगे बढ़ने की अनुमति देने के लिए भी बाइडन की आलोचना की, और हंटर बाइडन लैपटॉप हैक में कथित रूसी भागीदारी के दावों पर हंसे। ट्रंप ने कहा, 'रूस ने ऐसा फिर से किया।' उन्होंने कहा, 'यह हमेशा रूस है क्योंकि वे चीन से अमीर हो रहे हैं लेकिन रूस से नहीं।'

ट्रंप ने COVID-19 के प्रसार को रोकने के लिए पर्याप्त कार्य नहीं करने के लिए बाइडन प्रशासन की आलोचना की।  पूर्व राष्ट्रपति ने इस दौरान एक बार फिर राष्ट्रपति चुनावों में गड़बड़ी का मुद्दा उठाया। उन्होंने कहा कि 2020 के चुनावों में डेमोक्रेट्स ने लाखों वोटों की धांधली की। उन्होंने टर्निंग पॉइंट यूएसए स्टूडेंट एक्शन समिट में कहा कि 'हमारा राष्ट्र नष्ट किया जा रहा है।'

पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति ने अमेरिका में बढ़ती हिंसा और अपराध की ओर इशारा करते हुए कहा कि पुलिस का बचाव करना और कानून व्यवस्था को कमजोर करना स्थिति को और खराब करने वाला है। ट्रंप ने कहा कि न्यूयॉर्क शहर में अपराध दर बढ़ गई है। वहीं, शिकागो में हर सप्ताहांत में सैकड़ों लोगों को गोली मार दी जा रही है। उन्होंने कहा, शहर किसी भी युद्ध क्षेत्र से भी बदतर है।

ट्रंप ने जोर देते हुए कहा, 'हम एक कम्युनिस्ट देश बनते जा रहे हैं।' उन्होंने कहा कि दक्षिणी सीमा पार करने वाले अप्रवासियों की आमद के लिए वर्तमान प्रशासन जिम्मेदार है। ट्रंप ने जलवायु परिवर्तन पर ग्रीन न्यू डील (जीएनडी) की भी आलोचना की।

यह भी पढ़ें : लंदन : लाकडाउन के विरोध में प्रदर्शन कर रहे छह लोग गिरफ्तार, चार पुलिसकर्मी घायल

यह भी पढ़ें : कोरोना को लेकर बयान देकर विपक्ष के निशाने पर आए ब्रिटिश स्वास्थ्य मंत्री साजिद जाविद, जानें क्या कहा

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.