ब्राजील में कोरोना बेकाबू, 24 घंटे में 1386 की मौत, ब्रिटेन और अमेरिका में तेजी से टीकाकरण पर जोर

ब्राजील में बीते चौबीस घंटे में 1386 लोगों की मौत हुई है...

दुनिया में कोरोना संक्रमण के मामले थमने का नाम नहीं ले रहे हैं। ब्राजील में बीते 24 घंटे में 1386 लोगों की मौत हुई है जबकि 61602 लोग कोरोना की चपेट में आए हैं। वहीं अमेरिका में टीकाकरण की दिशा में एक और बड़ा कदम उठाया गया है।

Krishna Bihari SinghSun, 28 Feb 2021 08:34 PM (IST)

वाशिंगटन, एजेंसियां। दुनिया में कोरोना संक्रमण के मामले थमने का नाम नहीं ले रहे हैं। ब्राजील में बीते चौबीस घंटे में 1386 लोगों की मौत हुई है जबकि 61,602 लोग कोरोना की चपेट में आए हैं। वहीं अमेरिका में टीकाकरण की दिशा में एक और बड़ा कदम उठाया गया है। अमेरिकी खाद्य एवं औषधि प्रशासन (एफडीए) ने जॉनसन एंड जॉनसन के कोरोना रोधी टीके के आपात इस्तेमाल को मंजूरी दे दी है। यह तीसरा टीका है जिसे अमेरिका में कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए उपयोग किया जा सकेगा।

प्रिंस विलियम ने किया प्रोत्साहित

ब्रिटेन में लोगों को टीकाकरण के लिए प्रोत्साहित करने को प्रिंस विलियम ने पहल की है। उन्होंने कहा कि महामारी से लड़ने के लिए यह बेहद जरूरी है। उन्होंने लंदन स्थित भारतीय मूल के मोधा परिवार के साथ वीडियो कॉल के दौरान यह बात कही। प्रिंस ने सोशल मीडिया पर टीके को लेकर चल रही धारणाओं पर विश्वास नहीं करने की भी नसीहत दी। उधर, पिछले चौबीस घंटों के दौरान ब्रिटेन में 7,434 लोगों की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। वहीं 290 लोगों की मौत हुई है।

अमेरिका ने जॉनसन एंड जॉनसन की 10 करोड़ डोज खरीदी

अमेरिकी सरकार ने जॉनसन एंड जॉनसन के टीके की 10 करोड़ डोज खरीदी है। कंपनी ने मार्च के अंत तक दो करोड़ डोज उपलब्ध कराने का दावा किया है। अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने इसे कोरोना संकट को समाप्त करने वाला एक और कदम बताया और कहा कि यह सभी अमेरिकी नागरिकों के लिए उत्साहजनक खबर है।

जॉनसन एंड जॉनसन के टीके की एक ही डोज काफी

पिछले वर्ष दिसंबर में अमेरिका ने फाइजर और मॉर्डना के टीकों को मंजूरी दी थी। दोनों टीकों की दो सप्ताह दो खुराक लगाए जाने की आवश्यकता होती है। खास बात यह है कि जॉनसन एंड जॉनसन के टीके की दो खुराक के बजाए केवल एक खुराक की आवश्यकता होगी। एफडीए की कार्यकारी आयुक्त जैनेट वुडकॉक ने कहा, 'इस (जॉनसन एंड जॉनसन) टीके को मंजूरी देने के बाद अब लोगों के पास ज्यादा विकल्प हैं।'

तेजी से टीकाकरण की कोशिश में अमेरिका

एफडीए ने बताया कि उपलब्ध आंकड़े इस बात का स्पष्ट संकेत हैं कि जॉनसन एंड जॉनसन का कोरोना टीका संक्रमण को रोकने में प्रभावी हो सकता है। राष्ट्रपति बाइडन ने कहा, हम जानते हैं कि जितने अधिक लोगों को टीका लगाया जाएगा, उतनी तेजी से हम इस वायरस से निपट पाएंगे, हम अपने मित्रों एवं प्रियजन से मिल पाएंगे और अपनी अर्थव्यवस्था को पटरी पर ला पाएंगे। उन्होंने लोगों से कोरोना के नए वैरिएंट के सामने आने के मद्देनजर पूरी एहतियात बरतने की अपील की।

एक नजर इन देशों पर

थाइलैंड: थाइलैंड में रविवार से टीकाकरण की शुरुआत हो गई है। सबसे पहले कैबिनेट मंत्रियों, स्वास्थ्य अधिकारियों और स्वास्थ कर्मियों को वैक्सीन लगाई जाएगी। सबसे पहला टीका उपप्रधानमंत्री को लगाया गया।

इराक: देश में वेटिकन के राजदूत आर्कबिशप मिजा लेसकोवर कोरोना संक्रमित हो गए हैं। लेसकोवर सेल्फ आइसोलेशन में चले गए हैं, लेकिन इससे मार्च में होने वाली पोप फ्रांसिस की यात्रा पर प्रभाव नहीं पड़ेगा। पांच से आठ मार्च के बीच पोप फ्रांसिस इराक दौरे पर आ रहे हैं।

न्यूजीलैंड: देश के सबसे बड़े शहर आकलैंड में एक बार फिर सात दिनों का लॉकडाउन लगा दिया गया है। एक ऐसे व्यक्ति के चलते यह कदम उठाना पड़ा, जो संक्रमित तो था, लेकिन आइसोलेशन में नहीं रह रहा था। 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.