दिल्ली

उत्तर प्रदेश

पंजाब

बिहार

उत्तराखंड

हरियाणा

झारखण्ड

राजस्थान

जम्मू-कश्मीर

हिमाचल प्रदेश

पश्चिम बंगाल

ओडिशा

महाराष्ट्र

गुजरात

चीन से मुकाबला करने के लिए अरबों डालर खर्च करेगा अमेरिका, टेक्नोलाजी फंडिंग योजना को दी हरी झंडी

अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन और चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग की फाइल फोटो

अमेरिका की एक समिति ने गुरूवार को इससे संबंधित बिल को मंजूरी देने के पक्ष में मतदान किया। यह कानून विभिन्न क्षेत्रों को बल देने के लिए पांच वर्षो तक होने वाले बुनियादी अनुसंधान में लगाए जाने वाले अरबों डालर पर नजर रखने के लिए बनाया जा रहा है।

Dhyanendra Singh ChauhanSat, 15 May 2021 08:02 PM (IST)

वाशिंगटन, एजेंसियां। चीन के दो शहरों वुहान और सूझोऊ में आए शक्तिशाली तूफान ने जनजीवन अस्तव्यस्त कर दिया। दोनों शहरों में भारी नुकसान हुआ है। कई घर ध्वस्त हो गए और निर्माणाधीन स्थलों पर ज्यादा तबाही हुई। तूफान से 12 लोगों की मौत हो गई और 300 से ज्यादा लोग घायल हुए हैं। स्थानीय लोगों को तूफान आने पर आश्चर्य है। आमतौर पर इस क्षेत्र में तबाही मचाने वाले तूफान नहीं आते हैं।

सीनेट की वाणिज्य, विज्ञान एवं परिवहन पर समिति ने गुरूवार को इससे संबंधित बिल को मंजूरी देने के पक्ष में मतदान किया। यह कानून विभिन्न क्षेत्रों को बल देने के लिए पांच वर्षो तक होने वाले बुनियादी अनुसंधान में लगाए जाने वाले अरबों डालर पर नजर रखने के लिए बनाया जा रहा है।

इन क्षेत्रों में आर्टिफिशयल इंटेलीजेंस, सेमीकंडक्टर्स, क्वांटम कंप्यूटिंग, एडवांस कम्युनिकेशंस, बायोटेक्नोलाजी और एडवांस एनर्जी शामिल हैं। अब इस विधेयक को सीनेट और प्रतिनिधि सभा से मंजूरी की जरूरत है।

अमेरिका में एक विचार उभर रहा है कि देश के पास चीन की रणनीतिक तकनीकी चुनौतियों से मुकाबले करने वाली सटीक योजना होनी चाहिए।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.