भारत-चीन सीमा के हालात पर अमेरिका की पैनी नजर, सैनिकों के पीछे हटने का किया स्वागत

भारत-चीन सीमा के हालात पर अमेरिका की पैनी नजर, सैनिकों के पीछे हटने का किया स्वागत

दोनों देशों में तनाव कम करने के प्रयासों का किया स्वागत। भारत और चीन पूर्वी लद्दाख में आठ माह से ज्यादा समय तक चले तनाव के बाद अपने सैनिकों को हटा रहे हैं। भारत और चीन सीमा के हालात पर अमेरिका पैनी नजर रख रहा है।

Nitin AroraTue, 23 Feb 2021 04:30 PM (IST)

वाशिंगटन, प्रेट्र। भारत और चीन सीमा के हालात पर अमेरिका पैनी नजर रख रहा है। उसने कहा कि दोनों देशों के सैनिकों के पीछे हटने और सीमा के हालात पर करीबी नजर रखी जा रही है।

अमेरिकी विदेश विभाग का यह बयान सोमवार को उस समय आया, जब भारत और चीन पूर्वी लद्दाख में आठ माह से ज्यादा समय तक चले तनाव के बाद अपने सैनिकों को हटा रहे हैं। दोनों देशों में उत्तरी और दक्षिणी पैंगोंग झील के इलाकों से सैनिकों और हथियारों को हटाने को लेकर सहमति बनी है। भारत और चीन के बीच इसी क्षेत्र में सबसे ज्यादा तनातनी रही। अमेरिकी विदेश विभाग के प्रवक्ता नेड प्राइस ने पत्रकारों से कहा, 'हम सैनिकों के पीछे हटने की खबरों पर करीबी नजर बनाए हुए हैं। हम तनाव कम करने के मौजूदा प्रयासों का स्वागत करते हैं।'

अमेरिका और चीन के बीच कड़े प्रतिस्पर्धी देशों वाले संबंध

व्हाइट हाउस ने कहा कि अमेरिका और चीन के बीच कड़े प्रतिस्पर्धी देशों वाले संबंध हैं। इन चुनौतियों से निपटने के लिए बाइडन प्रशासन अपने सहयोगी देशों के साथ मिलकर काम करेगा। अमेरिकी राष्ट्रपति भवन व्हाइट हाउस की प्रवक्ता जेन पाकी ने यह जवाब उस सवाल पर दिया, जिसमें उनसे चीनी विदेश मंत्री वांग यी की एक टिप्पणी के बारे में पूछा गया था। वांग ने कहा था कि अमेरिका को चीन के आंतरिक मामलों में दखल देना बंद करना चाहिए। साथ ही उन्होंने ताइवान, तिब्बत, हांगकांग और शिनजियांग में अलगाववादी तत्वों का समर्थन रोकने और आर्थिक प्रतिबंधों को खत्म करने का भी आग्रह किया था।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.