top menutop menutop menu

बगैर सुरक्षा व्यवस्था के पर्यटकों को करवाया जाता है नौका विहार

-बगैर जीवन रक्षक जैकेट नौका पर अवैध तरीके से सवार करवाया जाता है

संवाद सूत्र, कालियागंज : कालियागंज प्रखंड अंतर्गत सीमावर्ती राधिकापुर में टागन नदी के किनारे सरकारी पर्यटन केंद्र परिसर में पिकनिक करने के लिए आए दिन स्थानीय एवं आसपास इलाके के लोग पहुंचते रहते हैं। रविवार के अलावा अन्य छुट्टी के दिनों में तो लोगों का आने का ताँता लगा रहता है। बाहर से जो लोग यहा आते हैं, वह अपने परिवार व दोस्तों को लेकर नौका विहार करते हैं। लेकिन यहा के इलाकावासी अपनी-अपनी नौकाओं द्वारा 10 से 15 मिनट की शैर आने वाले लोगों को करवाते है। बात को लेकर कोई समस्या नहीं है,पर समस्या सबसे बड़ी सुरक्षा को लेकर है। अगर कोई नौका नदी में पलट जाती है तो लोगों की जान बचानी मुश्किल है,उन्हें कोई नहीं बचा सकता है।

सरकारी नियमानुसार सर्वप्रथम तो जीवन जैकेट रहनी चाहिए,इसके अलावा नौका चालक प्रशिक्षित होना चाहिए,ऐसा वहा कुछ नहीं है। प्रशासन की उदासीनता के चलते सरकारी नियम को ठेंगा दिखाते हुए इलाके के छोटे-बड़े नवसिकवे नौका चालक क्षमता से अधिक लोगों को नौका में बिठाकर अवैध रूप से जानलेवा सैर करवा रहे हैं। जिसको लेकर कोई भी समय अप्रिय घटना की संभावना से इनकार नहीं किया जा सकता है। जिसको लेकर प्रशासन को चल रही नावो को अभिलंब बंद करा देनी चाहिए। किंतु प्रशासन कुम्भकर्णी नींद में सोया है।व ैसे उक्त पर्यटन स्थल की जिम्मेदारी जिला परिषद के नेतृत्व में कालियागंज पंचायत समिति के जिम्मे है।

इस मुद्दे पर जिला परिषद के कोमेंटर असीम घोष से संपर्क करने पर उन्होंने कहा कि उन्हें इस प्रकार की कोई जानकारी नहीं थी।वास्तव में पिकनिक केंद्र में आने वाले लोगों की सुरक्षा व्यवस्था पहले है,यह गैरकानूनी क्रियाकलाप को लेकर प्रखंड प्रशासन को संज्ञान में लेकर गंभीरता से कदम उठाएंगे। बतादें कि पिछले दिनों बगैर लाइफ जैकेट के नौका विहार करने के कारण दुर्घटना हुई थी। उत्तर दिनाजपुर में आधा दर्जन से अधिक लोग नदी में डूब कर मर गए।

वहीं पंचायत समिति की सभापति दीपा सरकार ने कहा कि लोगों की जीवन सुरक्षा के मद्देनजर टागन नदी में चल रही नौकाओं को बंद करने के लिए अविलंब कदम उठाएगी।

कैप्शन : बगैर लाइफ जैकेट के नौका विहार करते पर्यटक

1952 से 2020 तक इन राज्यों के विधानसभा चुनाव की हर जानकारी के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.