ममता बनर्जी ने कहा- ओवैसी जैसे नेताओं पर भरोसा ना करें अल्पसंख्यक

कोलकाता, एएनआई। पश्चिम बंगाल के कूचबिहार में एक कार्यक्रम के दौरान ममता बनर्जी ने यहां अल्पसंख्यक कट्टरता को लेकर चेतावनी दी है। इसी के साथ उन्होंने अल्पसंख्यक समुदाय के लोगों से अपील की है कि उन्हें असदुद्दीन ओवैसी जैसे लोगों पर भरोसा नहीं करना चाहिए। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने राज्य श्रम विभाग के समर्थन योजना के तहत कश्मीर से बुलाये गए बंगाल के मजदूरों के बीच 50-50 हजार का चेक वितरण किया। 

अल्पसंख्यक समुदाय से अपील करते हुए ममता बनर्जी ने कहा कि मैं आपसे कहती हूं कि इन तरह की फोर्स के बहकावे में ना आएं। इसी के साथ उन्होंने कहा कि मैं हिंदू लोगों से भी अपील करती हूं कि वह हिंदू कट्टरपंथी ताकतों के भी बहकावे में ना आएं। 

विधानसभा चुनाव से पहले पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने अपनी रणनीति में बड़ा बदलाव किया है। बंगाल के कूचबिहार में एक कार्यक्रम के दौरान ममता बनर्जी ने यहां ‘अल्पसंख्यक कट्टरता’ को लेकर चेतावनी दी है। इसी के साथ उन्होंने अल्पसंख्यक समुदाय के लोगों से अपील की है कि उन्हें असदुद्दीन ओवैसी जैसे लोगों पर भरोसा नहीं करना चाहिए।

असदुद्दीन ओवैसी पर निशाना साधते हुए ममता बनर्जी ने कहा कि कुछ नेता लोगों में बंटवारा पैदा कर रहे हैं, उनकी एक पार्टी है जो इसको बढ़ावा दे रही है। ये लोग हैदराबाद से आते हैं और इस इलाके में रैलियां कर रहे हैं।ममता ने कहा कि इस तरह के लोग अल्पसंख्यकों की सुरक्षा का दावा करते हैं, लेकिन आप इनकी बातों में ना आएं।

पश्चिम बंगाल में 2021 में विधानसभा चुनाव होना है, लेकिन राजनीतिक दलों की तरफ से तैयारियां अभी से की जा रही हैं। ममता बनर्जी ने कहा कि आज एनआरसी के बदले सिटीजन बिल लाने की बात कही जा रही है, लोगों को बेवकूफ बनाने की ये एक नई चाल है। उन्होंने कहा कि जो इस देश के नागरिक हैं उन्हें अब विदेशी बना दिया जाएगा और अगर सरकार चली गई तो क्या होगा? उन्होंने कहा कि मैं सभी को विश्वास दिलाना चाहती हूं कि आप सभी बंगाल के नागरिक ही रहेंगे।

1952 से 2019 तक इन राज्यों के विधानसभा चुनाव की हर जानकारी के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.