Bengal Chunav:बंगाल के महाभारत में द्रौपदी क्यों खामोश, पढ़ें अभिनेत्री रूपा गांगुली का एक्सक्‍लूसिव इंटरव्यू

अभिनेत्री रूपा गांगुली पिछले कई वर्षो से सियासत में सक्रिय

बीआर चोपड़ा के मशहूर टीवी सीरियल महाभारत में द्रौपदी का सशक्त किरदार निभाकर खूब वाहवाही लूट चुकीं अभिनेत्री रूपा गांगुली पिछले कई वर्षो से सियासत में सक्रिय हैं। भाजपा की राज्यसभा सदस्य बंगाल विधानसभा चुनाव में पार्टी के प्रचार कार्य में दिन-रात जुटी हुई हैं।

Vijay KumarFri, 09 Apr 2021 06:53 PM (IST)

बीआर चोपड़ा के मशहूर टीवी सीरियल महाभारत में 'द्रौपदी' का सशक्त किरदार निभाकर खूब वाहवाही लूट चुकीं अभिनेत्री रूपा गांगुली पिछले कई वर्षो से सियासत में सक्रिय हैं। भाजपा की राज्यसभा सदस्य बंगाल विधानसभा चुनाव में पार्टी के प्रचार कार्य में दिन-रात जुटी हुई हैं। व्यस्तता के बीच ही रूपा गांगुली से दैनिक जागरण के वरिष्ठ संवाददाता विशाल श्रेष्ठ ने खास बातचीत की। पेश हैं बातचीत के प्रमुख अंश :

प्रश्न : भाजपा की कई महिला नेत्री चुनाव लड़ रही हैं। आप इस बार चुनावी मैदान में क्यों नहीं दिख रहीं?

उत्तर : मुझे पार्टी की ओर से टिकट ऑफर किया गया था लेकिन मैं लड़ना नहीं चाहती थी। मेरे जैसे बहुत से कार्यकर्ता हैं, जो चुनाव नहीं लड़कर पार्टी का बैक ऑफिस संभाल रहे हैं। बंगाल भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष खुद भी चुनाव नहीं लड़ रहे। सभी चुनावी मैदान में उतर जाएंगे तो विभिन्न जगहों पर जाकर प्रचार कौन करेगा? मैंनियमित रूप से पार्टी के लिए चुनाव प्रचार कर रही हूं।

प्रश्न : तृणमूल कांग्रेस अक्सर भाजपा पर महिलाओं का सम्मान नहीं करने का आरोप लगाती है, इसपर क्या कहेंगी?

उत्तर : तृणमूल कैसे इस तरह के आरोप लगाती है, समझ में नहीं आता। 2016 में 17-18 लोगों ने पुलिस के साथ मिलकर मुझपर हमला किया था। राज्य की मुख्यमंत्री ने दोषियों को गिरफ्तार नहीं करवाया। जिस राज्य में महिला उत्पीड़न की 31-35 हजार घटनाएं होती हैं, वहां की सत्ताधारी पार्टी की महिला मुख्यमंत्री को भाजपा पर इस तरह के आरोप लगाने से पहले सोचना चाहिए।

प्रश्न : बंगाल भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष के मुख्यमंत्री को लेकर दिए गए बरमूडा वाले बयान पर क्या कहेंगी?

उत्तर : देखिए, मैं नहीं जानती कि उन्होंने वास्तव में क्या बोला था। पूरी बात जाने बिना इस सवाल का जवाब देना मेरे लिए संभव नहीं है। दूसरी बात यह है कि भाजपा में कोई कुछ भी बोलेगा तो उसकी जिम्मेदारी मैं नहीं ले सकती। वे जो भी बोलेंगे, उसकी जिम्मेदारी उन्हीं को लेनी पड़ेगी।

प्रश्न : भाजपा के 'सोनार बांग्ला' में महिलाओं के लिए खास क्या होगा?

उत्तर : बहुत कुछ होगा। महिलाओं की सुरक्षा को सर्वोच्च प्राथमिकता दी जाएगी। उनके लिए अलग टास्क फोर्स गठित किया जाएगा। महिला बटालियन का भी गठन होगा। महिला थानों की संख्या बढ़ाई जाएगी। आम महिलाओं के लिए सरकारी बस में फ्री पास होगा। सरकारी काम में उन्हें आरक्षण मिलेगा। स्वयंसेवी समूहों के जरिए महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाया जाएगा।

प्रश्न : बंगाल में भाजपा की सरकार बनने पर आप क्या किसी महिला को ही अगला मुख्यमंत्री बनते देखना चाहेंगी ?

उत्तर : मुझे नहीं लगता कि किसी महिला का ही अगला मुख्यमंत्री बनना जरुरी है। वैसे भी इसपर भाजपा का शीर्ष नेतृत्व फैसला लेगा। निर्वाचित सदस्यों में से ही कोई मुख्यमंत्री बनेगा। भाजपा का प्रत्याशी जो भी हो, पार्टी का चेहरा पीएम नरेंद्र मोदी ही हैं।

प्रश्न : अभिनेत्री व भाजपा प्रत्याशी पापिया अधिकारी पर हमले की घटना पर क्या कहेंगी?

उत्तर : बंगाल में परिस्थितियां ऐसी कैसे हो गईं? पहले माकपा ने जो किया, अब तृणमूल भी वैसा ही कर रही है। यह सरकार की विफलता को दर्शाता है इसलिए भाजपा का बंगाल की सत्ता में आना जरुरी है। बंगाल घरेलू हिंसा में पहले स्थान पर है।

प्रश्न : बंगाल चुनाव में पेट्रोल-डीजल की मूल्यवृद्धि बड़ा मसला है। केंद्र की भाजपा सरकार इस समस्या के समाधान को क्या कर रही है?

उत्तर : हमारा देश तेल का उत्पादन नहीं करता। यह एक अंतराष्ट्रीय मसला है। कोई बैठकर इसपर अलग से कुछ बंदोबस्त नहीं कर सकता। हां, टैक्स कम करके लोगों को थोड़ी राहत दी जा सकती है।

प्रश्न : आप 'वन नेशन, वन इलेक्शन' की पक्षधर हैं?

उत्तर : जी हां, 'वन नेशन, वन इलेक्शन' पर गौर करने का वक्त आ गया है। इसे लेकर मुहिम चलाने की जरुरत है। हर साल किसी न किसी राज्य में चुनाव होते हैं। चुनाव प्रक्रिया लंबी होने के कारण बहुत से सरकारी व प्रशासनिक कार्य रुक जाते हैं। हम तो संसदीय कमेटी की बैठक भी नहीं कर पा रहे। यह अच्छी बात नहीं है। 'वन नेशन, वन इलेक्शन' का सिस्टम होने पर देश बहुत जल्दी तरक्की करेगा।

प्रश्न : फिल्मी कलाकारों के राजनीति में आने का ट्रेंड तेजी से बढ़ रहा है। आप इसे कैसे देखती हैं?

उत्तर : राजनीति में सबको आना चाहिए। अगर डॉक्टर, इंजीनियर, एडवोकेट, खिलाड़ी आ सकते हैं तो फिल्म जगत से जुड़े लोग क्यों नहीं? मैं इसका स्वागत करती हूं।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.