तृणमूल प्रतिनिधिमंडल ने निषेधाज्ञा लागू होने के कारण नगालैंड का दौरा रद किया, राज्यसभा सदस्य सुष्मिता देव ने बताई वजह

बंगाल में सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) ने सोमवार को बताया कि नगालैंड के मोन जिले में निषेधाज्ञा लागू होने के कारण उसने अपने प्रतिनिधिमंडल को वहां भेजने का प्रस्तावित दौरा अंतिम समय में रद कर दिया। राज्यसभा सदस्य सुष्मिता देव ने बताई वजह

Vijay KumarMon, 06 Dec 2021 05:55 PM (IST)
अब निषेधाज्ञा हटने के बाद इलाके का दौरा करेंगे तृणमूल प्रतिनिधिमंडल।

राज्य ब्यूरो, कोलकाता : बंगाल में सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) ने सोमवार को बताया कि नगालैंड के मोन जिले में निषेधाज्ञा लागू होने के कारण उसने अपने प्रतिनिधिमंडल को वहां भेजने का प्रस्तावित दौरा अंतिम समय में रद कर दिया। मोन जिले में सुरक्षा बलों की कथित गोलीबारी में 14 लोगों की मौत हो गई थी। पार्टी का पांच सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल उग्रवाद रोधी अभियान के दौरान सुरक्षा बलों की कथित गोलीबारी में मारे गए व घायल हुए लोगों के परिवारों के साथ एकजुटता प्रदर्शित करने और उनसे मिलने सोमवार को मोन जाने वाला था।

तृणमूल की नेता और राज्यसभा सदस्य सुष्मिता देव ने कहा, हमें यह पता चला है कि इलाके में निषेधाज्ञा लागू है, इसलिए हमने मोन की अपनी यात्रा रद कर दी है। हम निषेधाज्ञा हटने के बाद इलाके का दौरा करेंगे। तृणमूल कांग्रेस ने रविवार को घोषणा की थी कि पार्टी का पांच सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल सोमवार को नगालैंड का दौरा करेगा। इस प्रतिनिधिमंडल में चार सांसदों- प्रसून बनर्जी, सुष्मिता देव, अपरूपा पोद्दार और शांतनु सेन के अलावा पार्टी प्रवक्ता बिस्वजीत देव के शामिल होने की घोषणा की गई थी। इससे पहले बंगाल की मुख्यमंत्री और तृणमूल कांग्रेस प्रमुख ममता बनर्जी ने नगालैंड में हुई घटना की गहन जांच की मांग की है।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.