West Bengal: वेतन संशोधन में देरी को लेकर सेल की यूनियनों का 30 जून को हड़ताल का आह्वान

यूनियन नेताओं ने कहा कि इस फैसले से कंपनी की उत्पादन और खनन गतिविधियां प्रभावित हो सकती हैंक्योंकि दो लाख स्थायी और ठेका श्रमिकों के उस दिन हड़ताल में शामिल होने की संभावना है। सेल कर्मचारियों ने वेतन संशोधन मांग को लेकर 30 जून को हड़ताल का आह्वान किया है।

Priti JhaWed, 16 Jun 2021 08:05 AM (IST)
स्टील अथॉरिटी ऑफ इंडिया (सेल) 30 जून को हड़ताल

राज्य ब्यूरो, कोलकाता। स्टील अथॉरिटी ऑफ इंडिया (सेल) के कर्मचारियों ने वेतन संशोधन की मांग को लेकर 30 जून को हड़ताल का आह्वान किया है। ट्रेड यूनियन नेताओं ने मंगलवार को यह दावा किया। यूनियन नेताओं ने कहा कि इस फैसले से कंपनी की उत्पादन और खनन गतिविधियां प्रभावित हो सकती हैं, क्योंकि दो लाख स्थायी और ठेका श्रमिकों के उस दिन हड़ताल में शामिल होने की संभावना है।

यूनियन नेताओं ने कहा कि एक अन्य सार्वजनिक क्षेत्र की इस्पात कंपनी राष्ट्रीय इस्पत निगम (आरआइएनएल) लि. के कर्मचारी भी दिनभर की हड़ताल में शामिल होंगे। नेशनल जॉइंट कमेटी फॉर द स्टील इंडस्ट्री (एनजेसीएस) के तहत सभी ट्रेड यूनियनें हड़ताल में शामिल होंगी। एनजेसीएस के कोर समूह के सदस्य संजय एस वदाहावकर ने कहा कि एनजेसीएस के सभी सदस्यों के बीच संयुक्त ट्रेड यूनियन कार्रवाई की सहमति बनी है। इसमें सेल और राष्ट्रीय इस्पात निगम लि. में 30 जून को 24 घंटे की हड़ताल भी शमिल है।

गौरतलब है कि स्टील अथॉरिटी ऑफ़ इंडिया लिमिटेड (सेल) द्वारा कोलकाता स्थित अपने कच्चे माल के डिवीजन (आरएमडी) मुख्यालय को बंद कर इसे राउरकेला व बोकारो में स्थानांतरित करने का निर्णय किया गया है। हाल में कंपनी के बोर्ड ने कोलकाता में डिवीजन मुख्यालय को बंद करने और अपनी खानों का नियंत्रण उनके स्थान पर राउरकेला स्टील प्लांट (ओडिशा) और बोकारो स्टील प्लांट (झारखंड) को स्थानांतरित करने का निर्णय लिया है। हालांकि अभी इसकी आधिकारिक घोषणा की जानी बाकी है। इस कदम से सेल को सालाना लगभग 40 करोड़ रुपये की बचत होने की संभावना है। इस निर्णय से खासकर इकाई से जुड़े संविदा कर्मचारियों की नौकरी को झटका लग सकता है। 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.