वरिष्ठ नागरिकों की सुविधा को अब पूरे दिन खुला रहेगा रवींद्र सरोवर, पर्यावरणविदों ने जताई प्रदूषण फैलने की आशंका

कोलकाता के अधिकांश पार्क प्रात: शाम 6 बजे तक खुले रहेंगे। हालांकि, देशप्रिय चिल्ड्रेन पार्क दोपहर को बंद हो जाएंगे।

कोलकाता नगर निगम भी महानगर के अधिकांश पार्क को प्रात 6 बजे से दोपहर 12 बजे तक खोलने जा रहा। सुभाष सरोवर में भी प्रात छह बजे से लगातार 12 घंटे तक प्रवेश का अधिकार दिया जा रहा है। रवींद्र सरोवर और सुभाष सरोवर को दोपहर तीन-तीन घंटे खोला था।

Publish Date:Wed, 02 Dec 2020 06:04 PM (IST) Author: Vijay Kumar

राज्य ब्यूरो, कोलकाता : कोलकाता मेट्रोपोलिटन डेवलपमेंट अथारिटी (केएमडीए) ने रवींद्र सरोवर को अब पूरे दिन के लिए खोलने का निर्णय लिया है। सर्दियों में दोपहर की धूप का आनंद लेने यहां आने वाले वरिष्ठ नागरिकों की सुविधा को ध्यान में रखते हुए यह निर्णय लिया गया है। इसी तरह सुभाष सरोवर में भी प्रात: छह बजे से लगातार 12 घंटे तक के लिए प्रवेश का अधिकार दिया जा रहा है। दूसरी तरफ कोलकाता नगर निगम भी महानगर के अधिकांश पार्क को प्रात: 6 बजे से दोपहर 12 बजे तक खोलने जा रहा है। 

प्लास्टिक के उपयोग पर प्रतिबंध जारी रखा

गौरतलब है कि राज्य सरकार ने कोरोना का संक्रमण फैलने के बाद केंद्र सरकार के निर्देश पर रवींद्र सरोवर से देशप्रिय पार्क तक सभी पार्क बंद कर दिए थे। दुर्गापूजा के बाद रवींद्र सरोवर और सुभाष सरोवर को दोपहर में तीन-तीन घंटे के लिए खोला गया था। केएमडीए ने हालांकि नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल के निर्देश पर रवींद्र व सुभाष सरोवर में फेरीवालों के प्रवेश और वहां प्लास्टिक के उपयोग पर प्रतिबंध जारी रखा है। 

प्लास्टिक प्रदूषण की महामारी फैल जाएगी

पर्यावरणविदों को आशंका है कि दिनभर दोनों जगहों के खुले रहने से वहां फेरीवाले जुटने शुरू हो जाएंगे आर प्लास्टिक का उपयोग होने लगेगा। रवींद्र सरोबर मॉॄनग वाकर्स गिल्ड के संयोजक सौमेंद्र मोहन घोष ने कहा कि शाम के वक्त झील के पानी में बहुत सारी प्लास्टिक और शीतल पेय की बोतलें तैरती देखी जा रही हैं। अगर इसे पूरे दिन खोला जाता है तो फिर से प्लास्टिक प्रदूषण की महामारी फैल जाएगी। 

देशप्रिय चिल्ड्रेन पार्क दोपहर बंद हो जाएंगे

सरोवरों में छठपूजा बंद करने को लेकर मामला करने वालीं पर्यावरण कार्यकर्ता सुमिता बंद्योपाध्याय ने कहा-'पर्यावरण अदालत ने फेरीवालों के सरोवरों व आसपास प्रवेश को नियंत्रित करने के लिए कहा है क्योंकि फेरीवाले स्टोव जलाकर और प्लास्टिक फेंककर झील को नष्ट कर रहे थे। अगर इसे पूरे दिन के लिए खोला जाता है तो फिर से प्रदूषण होगा। कोलकाता नगर निगम के बागवानी विभाग के प्रशासक देवाशीष कुमार ने कहा-'कोलकाता के अधिकांश पार्क प्रात: 6 बजे से शाम 6 बजे तक खुले रहेंगे। हालांकि, देशप्रिय चिल्ड्रेन पार्क जैसे बच्चों के उद्यान दोपहर को बंद हो जाएंगे।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.