PM Modi Bengal visit: कूचबिहार हिंसा का जिक्र कर ममता पर बरसे मोदी, जानें पीएम की सिलीगुड़ी रैली की मुख्‍य बातें

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तृणमूल सुप्रीमो व मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर जमकर बरसे

पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव प्रक्रिया के तहत चौथे चरण में हो रहे कूचबिहार समेत अन्य जिलों में मतदान के दौरान कूचबिहार के सीतलकुची में हुई हिंसा और चार लोगों की मौत के मामले को लेकर शनिवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तृणमूल सुप्रीमो व मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर जमकर बरसे।

Vijay KumarSat, 10 Apr 2021 05:11 PM (IST)

शिवानंद पांडे, सिलीगुड़ी : पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव प्रक्रिया के तहत चौथे चरण में हो रहे कूचबिहार समेत अन्य जिलों में मतदान के दौरान कूचबिहार के सीतलकुची में हुई हिंसा और चार लोगों की मौत के मामले को लेकर शनिवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तृणमूल सुप्रीमो व मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर जमकर बरसे। प्रधानमंत्री मोदी शनिवार को सिलीगुड़ी के कावाखाली मैदान में भाजपा उम्मीदवारों के समर्थन में आयोजित एक विशाल चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि कूचबिहार जिले में जो घटनाएं घटी हैं यह काफी दुखद है। इस घटना में मारे गए लोगों के परिवार के प्रति में संवेदना व्यक्त करता हूं।

उन्होंने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर निशाना साधते हुए कहा कि दीदी और उनके गुंडे सामने हार देखकर बौखला गए हैं। तृणमूल के गुंडे पंचायत चुनाव की तरह विधानसभा चुनाव में छापा वोट कर नहीं पा रहे हैं, इसलिए इस तरह की मनमानी पर उतर गए हैं। सुरक्षाबलों पर भी वह हमले कर रहे हैं उनके कामों में बाधा पहुंचा रहे हैं।  उन्होंने तृणमूल सरकार को सख्त चेतावनी देते हुए कहा कि दीदी और उनके गुंडों की मनमानी बंगाल में नहीं चलेगी। जनता ने दीदी को सत्ता से बाहर भेजने और भाजपा को सत्ता देने का मन बना चुकी है।

चुनाव आयोग से आग्रह करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि कूचबिहार की घटना के लिए जो जिम्मेदार है उसे खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई होनी। चाहिए प्रधानमंत्री मोदी लगभग 45 मिनट के अपने भाषण में स्थानीय मुद्दों को  कुरेदेते हुए तृणमूल सरकार पर जमकर निशाना साधा तथा भाजपा उम्मीदवारों के पक्ष में माहौल बनाने की पूरी कोशिश की। कुछ दिन पहले राज्य के पर्यटन मंत्री तथा डाबग्राम फुलबाड़ी विधानसभा क्षेत्र से तृणमूल कांग्रेस उम्मीदवार गौतम देव द्वारा एक सन्यासी को धमकाया जाने का वायरल हुए वीडियो का उल्लेख करते हुए कहा कि राज्य के पर्यटन मंत्री लोगों को धमका रहे हैं।  कह रहे हैं कि जो वोट नहीं देगा उनको यहां रहने नहीं दिया जाएगा। इस तरह के मनमानी पर दीदी और उनके मंत्री आ गए हैं।

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री होकर क्या मैं कह सकता हूं कि आपको बाहर फेंक दूंगा, लेकिन दीदी के मंत्री सीधे-सीधे लोगों को धमकी दे रहे हैं। उन्होंने अपने चुटीले1 अंदाज में दीदी- ओ-दीदी का उल्लेख करते हुए कहा  जनता ने ठान लिया है अब आपको जाना ही होगा। बंगाल में अब तृणमूल कांग्रेस की मनमानी नहीं चलेगी। आपके साथ आपकी सिंडिकेट भी जाएगी, आपकी दुर्नीति भी जाएगी, उत्तर बंगाल में तुष्टिकरण की नीति भी जाएगी। उन्होंने पहाड़, तराई और डुआर्स  का उल्लेख करते हुए कहा कि क्षेत्र के लोगों का भाजपा से सीधा नाता है। भाजपा की सरकार बनने पर सभी क्षेत्रों का समग्र विकास होगा। चाय बागानों में श्रमिकों को उचित मजदूरी मिलेगी। उन्होंने कहा कि सभा में आने वाले लोगों पर तृणमूल दीदी कहती है कि पैसा लेकर के लोग जा रहे हैं। उन्होंने जनता से अपने अंदाज में पूछा भी कि क्या आप लोग पैसा लेकर के आ रहे हैं। दीदी इस तरह से राज्य की जनता को अपमानित कर रही हैं। उन्होंने कहा कि यहां का ब्लैक टी और टॉय ट्रेन से मेरा पुराना नाता है।

असम में भाजपा की डबल इंजन की सरकार होने से वहां के चाय बागानों की दोगुनी मजबूरी हो गई है। बंगाल में भी भाजपा की सरकार बनने पर ट्रिपल टी यानी कि टी, टूरिज्म और टिंबर पर विशेष ध्यान दिया जाएगा। उत्तर बंगाल में इन सभी क्षेत्रों में विकास काफी संभावनाएं हैं। पश्चिम बंगाल में भी भाजपा की डबल इंजन की सरकार विकास के क्षेत्र में ज्यादा से ज्यादा काम करेगी। उड़ान योजना के तहत छोटे से छोटे एयरपोर्ट को जोड़ा जा रहा है। उन्होंने अपने भाषण के अंत में बांग्ला में जनता से आह्वान करते हुए कहां की 'भय पाबेन ना,   भय मुक्त थाकबेन'।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.