एनआइए अदालत का भाजपा सांसद के आवास के बाहर बम विस्फोट मामले में केस डायरी सोंपने का निर्देश

बंगाल में अर्जुन सिंह के घर के आसपास के इलाके में बमबाजी की घटना थमने का नाम नहीं ले रही है।एक हफ्ते के भीतर दूसरी बार भाटपारा सांसद के घर के पास बम धमाके की घटना के बाद उनके इलाके में गुंडों ने रात में भी जमकर तांडव मचाया। स्था

Priti JhaThu, 16 Sep 2021 09:35 AM (IST)
एनआइए अदालत का भाजपा सांसद के आवास के बाहर बम विस्फोट मामले में केस डायरी सोंपने का निर्देश

राज्य ब्यूरो, कोलकाता। बंगाल के उत्तर 24 परगना जिले में भाजपा सांसद अर्जुन सिंह के आवास के बाहर आठ सितंबर को हुए बम विस्फोट के मामले में एक विशेष एनआइए अदालत ने बैरकपुर पुलिस आयुक्तालय को ‘केस डायरी’ पेश करने का निर्देश दिया। मामले की जांच कर रहे राष्ट्रीय अन्वेषण अभिकरण (एनआइए) के अनुरोध पर अदालत ने यह निर्देश दिया।

एनआइए ने मामले में दर्ज प्राथमिकी की एक प्रति नगर सत्र अदालत के न्यायाधीश एवं विशेष एनआइए अदालत के प्रभारी (न्यायाधीश), पार्थ सारथी सेन को सौंपी। एजेंसी के वकील श्यामल घोष ने कहा कि न्यायाधीश ने बैरकपुर पुलिस को तीन दिनों के अंदर केस डायरी सौंपने और घटना के सिलसिले में गिरफ्तार आरोपित को 21 सितंबर को अदालत में पेश करने का निर्देश दिया। उस दिन विषय की आगे की सुनवाई होगी। एनआइए को घटना पर एक रिपोर्ट और संबद्ध मुद्दे सुनवाई की अगली तारीख पर पेश करने को कहा गया है।

गौरतलब है कि बंगाल में बैरकपुर से भाजपा सांसद अर्जुन सिंह के घर व उसके आसपास के इलाके में बमबाजी की घटना थमने का नाम नहीं ले रही है। एक हफ्ते के भीतर दूसरी बार मंगलवार सुबह में उत्तर 24 परगना के भाटपारा में सांसद के घर के पास बम धमाके की घटना के बाद उनके इलाके में गुंडों ने रात में भी जमकर तांडव मचाया। स्थानीय सूत्रों के अनुसार, बदमाशों ने रात में भाटपारा के केलाबागान इलाके में फिर बमबाजी की और हवा में हथियार लहराए गए। इससे रातभर इलाके में दहशत का माहौल रहा। बम फटने से जहां विष्णुदेव यादव नाम का एक युवक गंभीर रूप से घायल हो गया।

वहीं, एक अन्य युवक अजीत कुमार सिंह के सिर पर पिस्तौल की बट से मारकर उसे घायल कर दिया गया।घायल दोनों युवकों को भाटपारा राजाकीय अस्पताल में भर्ती कराया गया है। गौरतलब है कि इससे पहले गत आठ सितंबर की सुबह भाजपा सांसद के आवास पर तीन बम फेंके गए थे जिसमें उनके घर का दरवाजा क्षतिग्रस्त हो गया था और कई लोग घायल भी हुए थे।

गृह मंत्रालय के आदेश के बाद सोमवार को ही राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआइए) ने इस घटना की जांच अपने हाथ में ली है। इसके बाद फिर से सांसद के इलाके में बम विस्फोट की घटना से फिर सवाल खड़े हो गए हैं।यानी यह घटना इस बात की गवाही दे रही है कि अपराधियों को एनआइए की भी परवाह नहीं है। दूसरी ओर, लगातार बमबाजी की घटना के बाद केंद्रीय गृह मंत्रालय ने भाजपा सांसद अर्जुन सिंह की सुरक्षा ‘वाइ+’ से बढ़ाकर ‘जेड’ कैटगरी की करने का निर्णय लिया है। गृह मंत्रालय ने हमले की आशंका व जान पर खतरे को देखते हुए यह कदम उठाया है। 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.