kolkata Crime : सिंगापुर की कंपनी में नौकरी के नाम पर धोखाधड़ी, महिला गिरफ्तार

जांच में पता चला है कि इस तरह से कुछ महिलाएं फर्जी वेबसाइट का चक्र चला रही हैं।

कोलकाता के एक व्यक्ति ने नौकरी की तलाश में एक वेबसाइट पर बायोडाटा अपलोड किया था। नौकरी के लिए उनसे रुपये ठगे गए थे। जांच में पता चला है कि कसबा में केवल महिलाएं ही यह गोरखधंधा कर रही हैं।

Publish Date:Sat, 16 Jan 2021 10:22 PM (IST) Author: Vijay Kumar

राज्य ब्यूरो, कोलकाता : सिंगापुर की कंपनी में उच्च पद पर नौकरी के नाम पर धोखाधड़ी के आरोप में एक महिला को गिरफ्तार किया गया है। कोलकाता के एक व्यक्ति ने नौकरी की तलाश में एक वेबसाइट पर बायोडाटा अपलोड किया था। नौकरी के लिए उनसे रुपये ठगे गए थे। बिधाननगर साइबर क्राइम ब्रांच के अधिकारियों ने इह मामले में एक महिला को गिरफ्तार किया। जांच में पता चला है कि कसबा में केवल महिलाएं ही यह गोरखधंधा कर रही हैं। घटना तीन महीने पहले की है। कोलकाता के  रहने वाले पूर्णांशु बसु ने पिछले साल अक्टूबर में एक वेबसाइट पर नौकरी के लिए आवेदन किया था। अगले दिन पायल नाम की एक महिला ने उनसे संपर्क किया। 

कंपनी में नौकरी की व्यवस्था की जाएगी

उन्होंने कहा कि उनका बायोडाटा सिंगापुर में एप्सिलॉन टेलीकॉम नामक कंपनी में महाप्रबंधक के पद के लिए उपयुक्त है। अगर वे राजी हैं तो साक्षात्कार के माध्यम से उस कंपनी में नौकरी की व्यवस्था की जाएगी। पूर्णाशु राजी हो गए। अगले दिन एक व्यक्ति, जिसने खुद का कंपनी के प्रौद्योगिकी विभाग के प्रमुख के रूप में परिचय दिया, ने ऑनलाइन साक्षात्कार लिया। इसके बाद उस महिला ने फिर पूर्णांशु से संपर्क किया और पे स्लिप, अपनी पिछली नौकरी के ऑफर लेटर सहित कई जानकारी भेजने को कहा। 

कुछ रुपये जमा करने के लिए कहा गया

इसके लिए पायल ने पूर्णांशु को अपना वाट्सएप नंबर  दिया और पासपोर्ट, वोटर कार्ड, आधार कार्ड, बैंक खाता विवरण मांगा गया। कोरोना महामारी के कारण चिकित्सा परीक्षा के लिए विदेश जाने के लिए कुछ रुपये जमा करने के लिए कहा गया । उनसे कहा गया कि अगर वे कंपनी में शामिल हो गए तो उन्हें ये रुपये वापस मिल जाएंगे। उन्हें पहले चरण में 14,650 रुपये का भुगतान करने के बाद अगले दिन फिर से 30,000 रुपये का भुगतान करने को कहा गया। 

कुछ महिलाएं फर्जी वेबसाइट चक्र चला रही

तब पूर्णांशु को शक हुआ और उन्होंने और रुपये देने से इन्कार कर दिया। खोज करने पर पता चला कि  सिंगापुर में एप्सिलॉन टेलीकॉम नामक कोई कंपनी नहीं है। उसके बाद पूर्णांशु ने बिधाननगर साइबर क्राइम पुलिस थाने में शिकायत दर्ज कराई। जांच के करीब तीन महीने बाद जांचकर्ताओं को धोखाधड़ी के बारे में पता चला। पाउली मित्रा नामक एक महिला को गिरफ्तार किया गया। वह उत्तर 24 परगना जिले की निवासी है। जांच में पता चला है कि इस तरह से कुछ महिलाएं फर्जी वेबसाइट का चक्र चला रही हैं।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.