West Bengal: कोलकाता में एनकाउंटर मामले की दिलीप घोष ने भी केंद्रीय एजेंसी से जांच कराने की मांग की

प्रदेश भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष का सवाल- आतंकवादी या गैंगस्टर बार-बार बंगाल में ही ठिकाने क्यों बनाते हैं?घोष का आरोप है कि आतंकवादियों या गैंगस्टरों ने इस राज्य को एक सुरक्षित ठिकाने के रूप में चुना है। इसीलिए वह चाहते कि इसकी पूरी जांच होआखिर ऐसी घटनाएं क्यों हो रही।

Priti JhaFri, 11 Jun 2021 12:06 PM (IST)
प्रदेश भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष का सवाल

राज्य ब्यूरो, कोलकाता। सांसद सौमित्र खान के बाद अब प्रदेश भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष ने भी कोलकाता के न्यूटाउन में पंजाब के दो गैंगस्टर की एनकाउंटर मामले की जांच केंद्रीय एजेंसी से कराने की मांग की है। शुक्रवार को न्यूटाउन में चाय पर चर्चा कार्यक्रम में हिस्सा लेते हुए घोष ने सवाल उठाया कि आतंकवादी या गैंगस्टर बार-बार बंगाल में ही ठिकाने क्यों बनाते हैं? उन्होंने आरोप लगाया कि सीआइडी ​​घटना को छिपाने की कोशिश कर रही है। उन्होंने इस पूरे मामले की राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआइए) से जांच कराने की मांग की।

घोष का आरोप है कि आतंकवादियों या गैंगस्टरों ने बार-बार इस राज्य को एक सुरक्षित ठिकाने के रूप में चुना है। इसीलिए वह चाहते हैं कि इसकी पूरी जांच से हो, आखिर ऐसी घटनाएं क्यों हो रही हैं। गौरतलब हो कि पंजाब के दो मोस्ट वांटेड गैंगस्टर बुधवार को न्यूटाउन में कोलकाता पुलिस की एसटीएफ के साथ मुठभेड़ में मारे गए हैं।

पुलिस के मुताबिक, एसटीएफ ने न्यूटाउन में सापूरजी के एक आवासन में गुप्त सूचना के आधार पर तलाशी अभियान चलाने पहुंची थी। यहां छुपे बदमाशों ने पुलिस पर अंधाधुंध गोलियां बरसाना शुरू कर दिया था। जिसके बाद एसटीएफ और बदमाशों के बीच हुई मुठभेड़ में पंजाब के दो कुख्यात गैंगस्टर जयपाल भुल्लर और यशप्रीत सिंह मारे गए।

न्यूटाउन एनकाउंटर मामले में पाकिस्तान का कनेक्शन भी सामने आया है। गैंगस्टरों के बैग से पाकिस्तान के एक कपड़े की दुकान का पैकेट मिला है। जिससे आशंका है कि इनका पाकिस्तान से भी कुछ लिंक है। इसी बीच फोरेंसिक विशेषज्ञों ने फ्लैट से नमूने एकत्र किए हैं। दूसरी ओर पंजाब पुलिस के सूत्रों के मुताबिक, जयपाल और उसका गिरोह एक अंतरराष्ट्रीय ड्रग तस्करी के गिरोह में शामिल थे।

जयपाल-यशप्रीत का गिरोह पाकिस्तान सीमा पर मादक पदार्थों की तस्करी को नियंत्रित करने वाले गिरोहों में से एक है। वे पाकिस्तान से भारत में ड्रग्स की तस्करी करते थे। पिछले एक दशक में पंजाब में नशे की समस्या ने गंभीर रूप ले लिया है। कई युवा खत्म हो चुके हैं। कई परिवार बेसहारा हो गए हैं। पंजाब पुलिस को पाकिस्तान से ड्रग्स की तस्करी के एक मामले में भी जयपाल की तलाश थी। दोनों गैंगस्टरों का पोस्टमार्टम गुरुवार को कोलकाता के आरजीकर मेडिकल कॉलेज व अस्पताल में किया गया। 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.