कोलकाता नगर निगम चुनाव के हर बूथ में होगी मतगणना, एक केंद्र की बात फिलहाल टली

कोलकाता नगर निगम के चुनाव के बाद मतगणना बोरो स्तर पर होगी संभावना है कि 12 से 13 बोरो में मतगणना केंद्र बनाए जाएंगे। छह से आठ चरणों में मतदान कराने की योजना है। चुनाव आयोग ने सोमवार को कलकत्ता हाई कोर्ट में हलफनामा दाखिल कर यह जानकारी दी है।

Babita KashyapTue, 07 Dec 2021 10:00 AM (IST)
कोलकाता नगर निगम के चुनाव के बाद मतगणना बोरो स्तर पर ही होगी।

कोलकाता, राज्य ब्यूरो। राज्य चुनाव आयोग के सूत्रों की मानें तो कोलकाता नगर निगम के चुनाव के बाद मतगणना बोरो स्तर पर ही होगी। संभावना है कि 12 से 13 बोरो में मतगणना केंद्र बनाए जाएंगे। यदि अधिक आवश्यकता पड़ी तो सभी 16 बोरो में ही मतगणना केंद्र हो सकता है। इससे पहले चर्चा थी कि एक ही मतगणना केंद्र से चुनाव के परिणाम घोषित हो सकते हैं। हालांकि आयोग ने स्पष्ट कर दिया है कि इस बार ऐसी कोई योजना नहीं है।

मतगणना केंद्र पर रहने वाले मतदान कर्मियों के लिए पहले ही डबल डोज वैक्सीनेशन अनिवार्य किया गया है। वहीं अब मतगणना के दौरान राजनीतिक दलों के एजेंट के लिए भी डबल डोज वैक्सीनेशन या फिर आरटीपीसीआर की निगेटिव रिपोर्ट दिखानी होगी। इसके अलावा मतगणना केंद्र पर कोविड प्रोटोकॉल का पालन करना होगा। राज्य चुनाव आयोग के सूत्रों ने बताया कि मतगणना के दौरान टेबल की संख्या कम की जाएगी। आयोग की मानें तो टेबल की संख्या 7 से अधिक नहीं रहेगी। इससे पहले काउंटिंग में मतगणना टेबल की संख्या 14 तक रहती थी।

राज्य चुनाव आयोग अगले साल मई तक सभी नगर निकायों का चुनाव पूरा कराना चाहता है। उसकी छह से आठ चरणों में मतदान कराने की योजना है। चुनाव आयोग ने सोमवार को कलकत्ता हाई कोर्ट में हलफनामा दाखिल कर यह जानकारी दी है। गौरतलब है कि हाई कोर्ट ने चुनाव आयोग से पूछा था कि कोलकाता नगर निगम का चुनाव 19 दिसंबर को कराया जा रहा है। बंगाल के बाकी 113 नगर निकायों का चुनाव कब कराया जाएगा? चुनाव आयोग ने कहा कि वह अगले साल मई तक बाकी सभी 113 नगर निकायों का चुनाव कराने के लिए तैयार है। इसपर हाई कोर्ट ने सवाल किया था कि पहले अप्रैल तक चुनाव कराने की बात कही जा रही थी तो फिर इसमें एक महीने का विलंब क्यों किया जा रहा है। इस पर चुनाव आयोग की तरफ से कहा गया कि समस्त परिस्थितियों पर विचार करने और लोगों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए यह योजना तैयार की गई है।

गौरतलब है कि कोलकाता नगर निगम का चुनाव पहले कराने के खिलाफ भाजपा की तरफ से हाई कोर्ट में मुकदमा दायर किया गया था। भाजपा ने कोलकाता नगर निगम समेत सभी नगर निकायों का चुनाव एक साथ कराने की मांग की थी। हाईकोर्ट की तरफ से कोलकाता नगर निगम के चुनाव को लेकर अब तक निषेधाज्ञा जारी नहीं की गई है इसलिए 19 दिसंबर को वहां चुनाव होना तय माना जा रहा है। तृणमूल कांग्रेस और भाजपा समेत सभी राजनीतिक दल इस बाबत अपने उम्मीदवारों के नामों की भी घोषणा कर चुके हैं।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.