बीएसएफ ने सीमा के पास तस्करी को नाकाम कर 11.912 किलोग्राम चांदी के आभूषणों को किया जब्त

दक्षिण बंगाल फ्रंटियर के तहत सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के जवानों ने बंगाल के उत्तर 24 परगना जिले में भारत-बांग्लादेश अंतरराष्ट्रीय सीमा के पास तस्करी के प्रयासों को नाकाम करते हुए 11.912 किलोग्राम चांदी के आभूषणों को जब्त किया है।

Vijay KumarPublish:Sat, 27 Nov 2021 06:53 PM (IST) Updated:Sat, 27 Nov 2021 06:53 PM (IST)
बीएसएफ ने सीमा के पास तस्करी को नाकाम कर 11.912 किलोग्राम चांदी के आभूषणों को किया जब्त
बीएसएफ ने सीमा के पास तस्करी को नाकाम कर 11.912 किलोग्राम चांदी के आभूषणों को किया जब्त

राज्य ब्यूरो, कोलकाता : दक्षिण बंगाल फ्रंटियर के तहत सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के जवानों ने बंगाल के उत्तर 24 परगना जिले में भारत-बांग्लादेश अंतरराष्ट्रीय सीमा के पास तस्करी के प्रयासों को नाकाम करते हुए 11.912 किलोग्राम चांदी के आभूषणों को जब्त किया है। बीएसएफ द्वारा शनिवार को जारी बयान में बताया गया कि जब्त चांदी के आभूषणों की कीमत 6,03,236 रुपये आंकी गई है।

इन आभूषणों को शुक्रवार को उस वक्त जब्त किया गया जब तस्कर बीएसएफ की सीमा चौकी तराली, 112वीं वाहिनी के क्षेत्र से इसे भारत से बांग्लादेश ले जाने की फिराक में था। बयान के मुताबिक, 26 नवंबर को पुख्ता जानकारी के आधार पर, सीमा चौकी तराली, 112वीं वाहिनी, सेक्टर कोलकाता के जवानों ने ड्यूटी के दौरान एक संदिग्ध टोटो रिक्शा को जाते देखा जोकि तराली गांव से हाकिमपुर गांव की तरफ जा रहा था।

जवानों ने उस टोटो रिक्शा का पीछा किया तो ड्राइवर पकड़े जाने के डर से टोटो को रोड पर ही छोड़कर भाग निकला। जवानों ने उस टोटो की तलाशी ली तो ड्राइवर की सीट के नीचे बाक्स में से एक नायलान का बैग बरामद हुआ जिसमें से 14 पैकेट ब्राउन रंग की टेप से लिपटे हुए मिले। पैकेट को खोला गया तो उसमें से 11.912 किलोग्राम चांदी के आभूषण बरामद हुए। बीएसएफ ने आगे की कानूनी कार्यवाही के लिए जब्त आभूषणों को कस्टम कार्यालय तेंतुलिया को सौंप दिया है।

इधर, दक्षिण बंगाल फ्रंटियर बीएसएफ के जनसंपर्क अधिकारी ने 112वीं वाहिनी के जवानों की उपलब्धि पर खुशी व्यक्त की है जिसमें जवानों ने 11.912 किलो चांदी के आभूषणों को जब्त किया है। उन्होंने कहा कि यह केवल ड्यूटी पर जवानों द्वारा प्रदर्शित सतर्कता के कारण ही संभव हो सका है।