बीएसएफ ने अंतराष्ट्रीय सीमा पर 1399 बोतल फेंसेडिल कफ सिरप के साथ दो तस्करों को दबोचा

प्रतिबंधित फेंसिडिल कफ सिरप की 1399 बोतलें जब्त , दो तस्कर गिरफ्तार

बंगाल फ्रंटियर क्षेत्र में चल रहे शून्य तस्करी अभियान के तहत बीएसएफ ने लग-अलग स्थानों से प्रतिबंधित फेंसिडिल कफ सिरप की 1399 बोतलें जब्त की और दो तस्करों को भी गिरफ्तार किया। फेंसिडिल का बाजार मूल्य 237396 रुपये है।

Publish Date:Sat, 16 Jan 2021 08:26 AM (IST) Author: Babita Kashyap

कोलकाता, राज्य ब्यूरो। सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के दक्षिण बंगाल फ्रंटियर क्षेत्र में चल रहे 'शून्य तस्करी अभियान' के तहत 14/15 जनवरी को जवानों ने अपनी चौकसी का परिचय देते हुए अलग-अलग स्थानों से प्रतिबंधित फेंसिडिल कफ सिरप की 1399 बोतलें जब्त करने के साथ दो तस्करों को भी गिरफ्तार किया। बीएसएफ द्वारा जारी बयान के मुताबिक जब्त फेंसिडिल का बाजार मूल्य 2,37,396 रुपये है और अवैध तरीके से फेंसिडिल की बोतलों को अंतरराष्ट्रीय सीमा पार करा कर बांग्लादेश में तस्करी की कोशिश की जा रही थी।

  बयान के मुताबिक, बीएसएफ के खुफिया विभाग से जानकारी मिलने पर दिनांक 14/15 जनवरी की मध्य रात में मुर्शिदाबाद जिले में बीएसएफ की सीमा चौकी फर्जीपारा, 141 बटालियन के जवानों ने अंतरराष्‍ट्रीय सीमा के पास चार-पांच तस्करों को सिर पर पोटलों के साथ देखा, जो अंतरराष्ट्रीय सीमा की तरफ बढ़ रहे थे। जवानों ने उन्हें चुनौती दी, जिसकी आवाज सुनकर तस्करों ने अंधेरे का फायदा उठाकर भागने की कोशिश की। जवानों ने साहस का परिचय देते हुए एक तस्कर को धर दबोचा। बाकी तस्कर खराब मौसम और अंधेरे का फायदा उठाकर भाग निकले। इलाके की अच्छे से तलाशी लेने पर 634 फेंसिडिल की बोतले बरामद हुई। पकड़े गए तस्कर का नाम बापुन मंडल, ग्राम - रायपारा, थाना - जलंगी, मुर्शिदाबाद, पश्चिम बंगाल है।  

 एक अन्य घटना में, 13/14 जनवरी की मध्य रात्रि को सीमा चौकी कलांची, 112 बटालियन, सेक्टर कोलकाता के जवानों ने अंतरराष्ट्रीय सीमा के पास तस्करों की संदिग्ध गतिविधियों को देखा और उन्हें चुनौती दी। जवानों को देखते ही तस्कर अंधेरे का फायदा उठा कर भागने का प्रयास किया, लेकिन जवानों ने पीछा कर एक तस्कर को पकड़ लिया। जिसके पास से एक आठ फेंसिडिल की बोतलें बरामद हुई। तस्कर की पहचान निरंजन मंडल, ग्राम - कालांची, थाना - गायघाटा, जिला- उत्तर 24 परगना के रूप में हुई है।

 बांग्लादेशी तस्कर को सौंपनी थी फेंसिडिल बोतलें

 इधर, प्रारंभिक पूछताछ में मुर्शिदाबाद में सीमा चौकी फर्जीपारा इलाके से गिरफ्तार तस्कर बापुन मंडल ने बताया कि उसे ये फेंसिडिल की बोतलें भारतीय तस्कर विप्लव सरकार व   सज्जाद सरकार से मिले थे और आगे उन्हें बांग्लादेशी तस्कर सिराजुल मंडल, ग्राम- डिग्रीचार, थाना- दौलतपुर, जिला- कुस्तिया (बांग्लादेश) को सौंपना था।

 इधर, इसके अलावा बीएसएफ जवानों ने तस्करी के प्रयासों को विफल करते हुए दक्षिण बंगाल सीमा में अपनी जिम्मेदारियों के क्षेत्रों से और 757 बोतलें फेंसिडिल और दो मवेशियों को तस्करी से बचाया। बीएसएफ ने गिरफ्तार किए गए तस्करों को फेंसिडिल सहित आगे की कानूनी कार्रवाई के लिए संबंधित पुलिस स्टेशनों/कस्टम कार्यालय को सौंप दिया है।

 इस साल अब तक 13,000 से ज्यादा फेंसिडिल की बोतलें जब्त

 गौरतलब है कि चालू वर्ष 2021 में महज 15 दिनों के भीतर ही दक्षिण बंगाल फ्रंटियर के बीएसएफ जवानों ने 13,100 प्रतिबंधित फेंसिडिल बोतलों को जब्त करने के साथ 111 मवेशियों को भी तस्करी से बचाया है, जब इसे अंतरराष्ट्रीय सीमा पार करा कर अवैध रूप से बांग्लादेश ले जाया जा रहा था। बताते चलें कि बांग्लादेश में शराब प्रतिबंधित होने की वजह से वहां फेंसिडिल कफ सिरप का उपयोग लोग नशे के तौर पर करते हैं।

 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.