बीएसएफ ने अंतरराष्ट्रीय सीमा के पास हथियारों की तस्करी के प्रयास को किया नाकाम, पिस्तौल, मैगज़ीन व जिंदा कारतूस जब्त

दक्षिण बंगाल फ्रंटियर के सीमा सुरक्षा (बीएसएफ) के जवानों ने मुर्शिदाबाद जिले में भारत-बांग्लादेश अंतरराष्ट्रीय सीमा के पास हथियारों की तस्करी के प्रयासों को नाकाम करते हुए एक पिस्तौल दो मैगजीन व एक जिंदा कारतूस जब्त किया है।

Vijay KumarPublish:Wed, 24 Nov 2021 06:22 PM (IST) Updated:Wed, 24 Nov 2021 06:22 PM (IST)
बीएसएफ ने अंतरराष्ट्रीय सीमा के पास हथियारों की तस्करी के प्रयास को किया नाकाम, पिस्तौल, मैगज़ीन व जिंदा कारतूस जब्त
बीएसएफ ने अंतरराष्ट्रीय सीमा के पास हथियारों की तस्करी के प्रयास को किया नाकाम, पिस्तौल, मैगज़ीन व जिंदा कारतूस जब्त

राज्य ब्यूरो, कोलकाता : दक्षिण बंगाल फ्रंटियर के सीमा सुरक्षा (बीएसएफ) के जवानों ने मुर्शिदाबाद जिले में भारत-बांग्लादेश अंतरराष्ट्रीय सीमा के पास हथियारों की तस्करी के प्रयासों को नाकाम करते हुए एक पिस्तौल, दो मैगजीन व एक जिंदा कारतूस जब्त किया है। बीएसएफ की ओर से एक बयान में बताया गया कि

मंगलवार व बुधवार की मध्यरात्रि में सीमा चौकी रानीनगर, 86वीं बटालियन के सीमावर्ती इलाके से इन हथियारों को जब्त किया गया।

अधिकारियों ने बताया कि रात लगभग दो बजे सीमा चौकी रानीनगर की एम्बुश पार्टी को कुछ संदिग्ध हरकत का अंदेशा हुआ। जवानों ने देखा की लगभग 10 से 12 तस्कर अंधेरे का सहारा लेकर अंतराष्ट्रीय सीमा की तरफ बढ़ रहे हैं। जवानों ने तुरंत इलाके में एम्बुश लगाकर घेराबंदी शुरू कर दी।

जवानों को अपनी तरफ़ आता देख तस्कर अंधरे और घनी झाडिय़ों का सहारा लेकर भाग निकले। इलाके की गहन तलाशी करने पर दो मैगज़ीन व एक जि़ंदा कारतूस के साथ एक पिस्तोल बरामद हुआ। बीएसएफ ने आगे की कानूनी कार्यवाही के लिए जब्त हथियारों को संबंधित पुलिस थाना को सौंप दिया है।

इधर, दक्षिण बंगाल फ्रंटियर बीएसएफ के जनसंपर्क अधिकारी ने अपने जवानों का हौसला अफज़ाई करते हुए कहा कि हमारे जवान इलाके में तस्करी को पूरी तरह से रोकने के लिए प्रतिबद्ध हैं। जवानों की सतर्कता और सूझबूझ से ही इलाके में तस्करी को रोकना संभव हो सका है।