Against Agriculture Bill: सिंगुर में किसानों ने भाजपा सांसद को काला झंडा दिखा गो बैक के लगाए नारे

कृषि बिल के समर्थन में निकली रैली में शामिल भाजपा नेत्री लॉकेट चटर्जी तथा अन्य. जागरण
Publish Date:Tue, 29 Sep 2020 07:48 AM (IST) Author: Preeti jha

कोलकता, राज्य ब्यूरो। कृषि बिल के समर्थन में सोमवार को हुगली की भाजपा सांसद लाॅकेट चटर्जी के नेतृत्व में निकाली गई किसान सुरक्षा पदयात्रा के दौरान हुगली जिले के बहुचर्चित सिंगुर में किसानों ने सांसद को काला झंडा दिखाते हुए गो बैक के नारे लगाए। हालांकि पहले से ही पुलिस की बड़ी संख्या में तैनाती होने के कारण कोई अप्रिय घटना नही घटी।

वहीं, दोनों तरफ से नारेबाजी होने से पुलिस को परिस्थिति नियंत्रित करने में कड़ी मशक्कत करनी पड़ी। भाजपा सांसद लाॅकेट चटर्जी ने इस दौरान कहा कि सिंगुर से ही तृणमूल कांग्रेस का उत्थान हुआ था और सिंगुर से ही ममता बनर्जी का पतन होगा। वर्ष 2019 के लोकसभा चुनाव में सिंगुर से ही ममता बनर्जी की हार शुरू हो चुकी है। उन्होंने कहा कि सिंगुर अंदोलन करके ममता बनर्जी ने यहां के किसानों को बेवकूफ बनाया है।

उन्होंने कहा- 'सिंगुर अंदोलन से ममता बनर्जी का परिवर्तन होने के साथ उनकी पार्टी के नेता एवं मंत्रियों की भी तकदीर बदली है, लेकिन यहां के किसानों का भविष्य अभी अंधकार में है। वर्ष 2021 के विधानसभा चुनाव में तृणमूल के पतन के बाद कृषि को आधार बनाकर सिंगुर में औधोगिक विकास किया जाएंगा।' भाजपा सांसद ने कहा कि तृणमूल कांग्रेस के चलते आज सिंगुर के किसान अधिग्रहित की गई भूमि पर ना तो खेती कर पा रहे हैं और न ही कारखाने लगने का इनका सपना पूरा हो पाया है।

कृषि बिल से किसानों को होगा फायदा

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अगुवाई में बनाए गये एतिहासिक कृषि बिल से गरीब किसानों को फायदा होगा। पहले की तुलना में किसान अपने फ़सल एवं अनाज को उचित दामों पर बेच सकेंगे। प्रधानमंत्री ने किसानों को दलालों के चंगुल से मुक्त करने के लिए कृषि बिल के जरिए उनकी जंजीरे खोले दी है, ताकि किसान पूर्णरूप से आजाद होकर अपना फ़सल एवं अनाज बेच सकें। लेकिन विरोधी दल के नेता किसानों को गलत समझाने में लगे हैं।

सोमवार को सिंगुर सहना पाड़ा से सासंद लाॅकेट चटर्जी के नेतृत्व में भाजपा कार्यकर्ताओं ने किसान सुरक्षा पदयात्रा निकाली। पदयात्रा के जरिए सांसद टाटा मोटर्स कारखाने के लिए अधिग्रहण किए गये जमीन के समक्ष पहुंचकर किसानों की समस्या से रूबरू हुई। इधर सहना पाड़ा से पदयात्रा जाते वक्त तृणमूल समर्थित किसान एवं उनके परिवारवालों ने भाजपा सांसद लाॅकेट चटर्जी को काला झंडा दिखाकर गो बैक का नारा लगाया। 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.