ठंड में तिल खाने के होते है कई फायदे

ठंड में तिल खाने के होते है कई फायदे

-कैंसर जैसी बीमारी को दूर रखने के साथ दिल को रखता है सुरक्षित जागरण संवाददाता सिलीगुड़

Publish Date:Sun, 17 Jan 2021 12:57 PM (IST) Author: Jagran

-कैंसर जैसी बीमारी को दूर रखने के साथ दिल को रखता है सुरक्षित

जागरण संवाददाता, सिलीगुड़ी : इन दिनों उत्तर बंगाल में काफी सर्दी बढ़ी हुई है। कई प्रकार से लोग बीमार भी हो रहे है। ऐसे में आयुर्वेद के विशेषज्ञ राजधवल सिंह का कहना है कि सíदयों में तिल का सेवन करना किसी जड़ी-बूटी के सेवन करने से कम नहीं है। यही कारण है कि मकर संक्रांति के दिन ज्यादातर घरों में तिल के लड्डू और पकवान बनाए जाते है। इसमें तिल के साथ गुड भी होता है जिसका सीधा लाभ लोगों को मिलता है। तिल हाई ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करने में मददगार है। कई रिसर्च में यह बात सामने आई है कि तिल में पाया जाने वाला तेल हाई ब्लड प्रेशर को कम करता है। दिल पर ज्यादा भार नहीं पड़ने देता यानी दिल की बीमारी दूर करने में भी तिल मददगार होता है। उन्होंने बताया कि तिल में सेसमीन नाम का एन्टीऑक्सिडेंट पाया जाता है। यह कैंसर कोशिकाओं को बढ़ने से रोकता है। अपनी इस खूबी की वजह से ही यह लंग कैंसर, पेट के कैंसर, ल्यूकेमिया, प्रोस्टेट कैंसर, ब्रेस्ट कैंसर होने की आशका को कम करता है। इसके अलावा तिल के सेवन से शरीर में खून की मात्रा को सही बनाए रखने में भी मददगार होता है। बाल और त्वचा को मजबूत और सेहतमंद रखने के लिए लाभकारी माना जाता है। तिल में मौजूद प्रोटीन पूरे शरीर को भरपूर ताकत और एनर्जी से भर देता है। इससे मेटाबोलिज्म भी अच्छी तरह काम करता है। तिल में कुछ ऐसे तत्व और विटामिन पाए जाते हैं जो तनाव और डिप्रेशन को कम करने में सहायक होते हैं। तिल में कई तरह के लवण जैसे कैल्शिेयम,आयरन, मैग्नीशियम, जिंक और सेलेनियम होते हैं जो हृदय की मासपेशियों को सक्रिय रूप से काम करने में मदद करते हैं। तिल में डाइट्री प्रोटीन और एमिनो एसिड होता है जो बच्चों की हड्डियों के विकास को बढ़ावा देता है। इसके अलावा यह मास-पेशियों के लिए भी बहुत फायदेमंद है। तिल का तेल त्वचा के लिए बहुत ही फायदेमंद होता है। इसकी मदद से त्वचा को जरूरी पोषण मिलता है और इसमें नमी बरकरार रहती है। यह शरीर के लिए उपयोगी है इसका अर्थ यह नहीं कि दिनभर लोग तिल के बने सामान ही खाते रहे। तिल गर्म होता हैं इसलिए आपको तिल का सेवन करने में सावधानी रखनी चाहिए। प्रत्येक दिन 50-60 ग्राम तक तिल का सेवन नहीं करना चाहिए। खासतौर पर महिलाओं और छोटे बच्चों को इससे भी कम मात्रा में तिल का सेवन करना चाहिए। नहीं तो नुकसान हो सकता है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.