जामताड़ा नेटवर्क के दो सदस्य गिरफ्तार मामले की जांच सीआईडी भी करेगी

जामताड़ा नेटवर्क के दो सदस्य गिरफ्तार मामले की जांच सीआईडी भी करेगी

जामताड़ा नेटवर्क के दो सदस्यों को एसटीएफ द्वारा सिलीगुड़ी से गिरफ्तार किए जाने के बाद राज्य प्रशासन हरकत में आई है।

Publish Date:Sun, 24 Jan 2021 10:15 PM (IST) Author: Jagran

जागरण संवाददाता, सिलीगुड़ी : जामताड़ा नेटवर्क के दो सदस्यों को एसटीएफ द्वारा सिलीगुड़ी से गिरफ्तार किए जाने के बाद राज्य प्रशासन हरकत में आई है। एसटीएफ और पुलिस के साथ जामताड़ा गिरोह की जड़े कुरेदने के लिए राज्य सीआईडी को भी जांच की जिम्मेदारी सौंपी गई है। मामले की जांच में एसटीएफ और सीआईडी को साईबर सहायता के लिए सिलीगुड़ी मेट्रोपोलिटन पुलिस की साईबर क्राइम थाना के विशेषज्ञ पुलिस अधिकारी व अन्य सहायता के लिए न्यू जलपाईगुड़ी थाना पुलिस को टीम में शामिल किया गया है।

यहां बताते चलें कि गुप्त सूचना के आधार पर एसटीएफ की टीम ने सिलीगुड़ी शहर से सटे न्यू जलपाईगुड़ी थाना क्षेत्र अंतर्गत फूलबाड़ी-घोषपुकुर बाईपास सड़क पर पीछा कर एक स्कॉर्पियो गाड़ी को रोका। और उसमें सवार दो युवकों को गिरफ्तार किया। आरोपित सोनू कुमार और संजय धनबीर हरियाणा के निवासी बताए गए हैं। ये दोनों आरोपित गुवाहाटी से कोलकाता को रवाना हुए थे। आरोपितों के पास से पुलिस को 52 सिम कार्ड, डेढ़ लाख नगद और कई मोबाइल फोन बरामद हुए। आरोपितों को शनिवार जलपाईगुड़ी अदालत में पेश किया गया। अदालत ने मामले की तफ्तीश के लिए आरोपितों को दस दिन की रिमांड पर एसटीएफ को सौंपा। आरोपितों को न्यू जलपाईगुड़ी थाने की हिफाजत में रखा गया है। न्यू जलपाईगुड़ी थाना पुलिस और एसटीएफ की टीम रविवार को आरोपितों से पूछताछ शुरु किया है। पहले ही दिन की ही पूछताछ में आरोपितों ने कई राज उगले हैं। पूछताछ में सामने आए तथ्यों के आधार पर आरोपितों के जामताड़ा नेटवर्क का हिस्सा होने की संभावना पुलिस जता रही है। सीआईडी की टीम भी जल्द ही आरोपितों से पूछताछ करेगी।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.