मनाया गया पर्यटन दिवस, उकृष्ट लोग हुए सम्मानित

मनाया गया पर्यटन दिवस, उकृष्ट लोग हुए सम्मानित
Publish Date:Sun, 27 Sep 2020 09:22 PM (IST) Author: Jagran

-एचएचटीडीएन के <स्हृद्द-क्तञ्जस्>पर्यटन पर्व-2020<स्हृद्द-क्तञ्जस्> में <स्हृद्द-क्तञ्जस्>हिमालयन हॉस्पिटलिटी एंड टूरिज्म अवार्ड-2020<स्हृद्द-क्तञ्जस्> की बहार

-शहर के निकट न्यू चमटा के मनोरम चाय बागान के बीच मेफेयर टी रिसॉर्ट ने स्थापित किया पर्यटन का नया आयाम जागरण संवाददाता, सिलीगुड़ी : विश्व पर्यटन दिवस (27 सितंबर) दुनिया भर के साथ-साथ रविवार को यहा भी मनाया गया। इसे लेकर भारत सरकार के पर्यटन मंत्रालय की इकाई <स्हृद्द-क्तञ्जस्>इंडिया टूरिज्म<स्हृद्द-क्तञ्जस्> की कोलकाता इकाई के सहयोग से हिमालयन हॉस्पिटलिटी एंड टूरिज्म डेवेलपमेंट नेटवर्क (एचएचटीडीएन) की ओर से यहा शहर के निकट न्यू चमटा के मनोरम चाय बागान के बीच नवस्थापित मेफेयर टी रिसॉर्ट में <स्हृद्द-क्तञ्जस्>पर्यटन पर्व-2020<स्हृद्द-क्तञ्जस्> का आयोजन किया गया। इस अवसर पर यहा तराई, डूआर्स व दाíजलिंग पार्वत्य क्षेत्र समेत पूरे उत्तर बंगाल के पर्यटन स्थलों से संबंधित और उल्लेखनीय योगदान देने वाले पर्यटन जगत के उकृष्ट व्यक्तित्व को <स्हृद्द-क्तञ्जस्>हिमालयन हॉस्पिटलिटी एंड टूरिज्म अवार्ड-2020<स्हृद्द-क्तञ्जस्> से सम्मानित किया गया।

इस अवसर पर मुख्य अतिथि के रूप में राज्य के पर्यटन मंत्री गौतम देव सम्मिलित हुए। उन्होंने कहा कि वर्तमान कोरोना महामारी ने दुनिया व देश भर के साथ-साथ हमारे पश्चिम बंगाल के पर्यटन को भी काफी चोट पहुंचाई है। मगर, हम सभी को इस से उबरना होगा। एक नई शुरुआत करनी होगी। भय पर जय करना होगा। शासन-प्रशासन द्वारा निर्धारित कोरोना सतर्कता के समस्त उपायों और नियमों का अनुपालन सुनिश्चित करते हुए पर्यटन को पुन? नए सिरे से शुरू किया जाना जरूरी है। इस दिशा में हमारी मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के नेतृत्व में राज्य सरकार पूरी तरह से तत्पर व सक्रिय है। उन्होंने आम लोगों से भी इस दिशा में आगे आने और पर्यटन को पुन? पटरी पर लाने की अपील की। उन्होंने खुद अपने हाथों से पर्यटन जगत के कई उकृष्ट व्यक्तित्व को पुरस्कार प्रदान किया।

इससे पूर्व <स्हृद्द-क्तञ्जस्>पर्यटन और ग्रामीण विकास<स्हृद्द-क्तञ्जस्> विषय पर एक परिचर्चा गोष्ठी भी आयोजित हुई। इसमें शामिल पर्यटन विशेषज्ञों ने कहा कि पर्यटन ही एकमात्र ऐसा उद्योग है जो ग्रामीण क्षेत्रों के विकास को एक नया व सशक्त आयाम प्रदान कर सकता है। इससे स्थानीय संस्कृति को बढ़ावा मिलेगा, स्थानीय संसाधनों का विकास होगा और स्थानीय मानव संसाधन का भी कल्याण होगा। इसीलिए पर्यटन और ग्रामीण विकास दोनों का संयुक्त होना जरूरी है। इस दिशा में यहा चमटा चाय बागान में बहुत भी विलासपूर्ण मेफेयर टी रिसॉर्ट का स्थापित होना मील का पत्थर होने के बराबर है। शहर के निकट न्यू चमटा के मनोरम चाय बागान के बीच मेफेयर टी रिसॉर्ट ने देश-दुनिया में पर्यटन का नया आयाम स्थापित किया है। इस दिशा में देश भर में उद्यमियों को आगे आना चाहिए और पर्यटन के साथ-साथ ग्रामीण विकास को नया आयाम प्रदान करना चाहिए।

इस अवसर पर इंडिया टूरिज्म के क्षेत्रीय निदेशक (पूर्व) साग्निक चौधरी ने कहा कि भारत सरकार के पर्यटन मंत्रालय की इस दिशा में बहुत सारी योजनाएं हैं। उन योजनाओं पर देश के हर राज्य को सम्मिलित कर बहुत ही बेहतर कार्य किया जा रहा है। इसका फल भी दिखने लगा है। आने वाले निकट भविष्य में यह देश को एक नया व सशक्त आयाम प्रदान करेगा।

इस अवसर पर अतिथि के रूप में कंफेडरेशन ऑफ इंडियन इंडस्ट्रीज (सीआईआई) की उत्तर बंगाल इकाई के चेयरमैन संजीत साहा, वाइस चेयरमैन संजय टिबड़ेवाल, एचएचटीडीएन के अध्यक्ष संदीप दास, महासचिव सम्राट सान्याल व अन्य कई सम्मिलित रहे।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.